विज्ञापन
विज्ञापन

पांच महीने में 15 फीसदी तक गिरा हस्तशिल्प निर्यात

Moradabad  Bureauमुरादाबाद ब्यूरो Updated Wed, 18 Sep 2019 01:54 AM IST
export
export
ख़बर सुनें
मुरादाबाद। नोट बंदी और जीएसटी के बाद से लड़खड़ा रही मुरादाबाद की हैंडीक्राफ्ट इंडस्ट्री की स्थिति अब और भी खराब हो गई है। पिछले पांच माह में इंडस्ट्री से होने वाले एक्सपोर्ट में करीब 15 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। आईसीडी से पोर्ट को रवाना होने वाले कंटेनर के आंकड़े इसकी गवाही दे रहे हैं। पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष पिछले पांच माह में शिपमेंट में 2586 कंटेनर की कमी दर्ज की गई है। खास बात यह है कि यह आंकड़ा माह दर माह लगातार तेजी से गिरता जा रहा है।
विज्ञापन
मुरादाबाद की हैंडीक्राफ्ट इंडस्ट्री से अमेरिका, इंग्लैंड समेत दुनिया के करीब 150 देशों को हर वर्ष 10,000 करोड़ रुपये से अधिक का निर्यात होता है। यहां बनने वाले पीतल, कांच, एल्युमीनियम के हस्तशिल्प उत्पादों की दुनियाभर के देशों में खास डिमांड रहती है। लेकिन पिछले कुछ समय से हैंडीक्राफ्ट इंडस्ट्री पर मंदी के बादल छाए हैं। नोटबंदी के झटके के बाद जीएसटी ने निर्यातकों की बड़ी रकम को ब्लॉक कर दिया। इसके बाद सरकार से मिलने वाली रियायतें भी कदम दर कदम निर्यातकों से छिनती गईं। अमेरिका की ओर से जीएसपी का दर्जा छीन लिए जाने के बाद अमेरिकी बाजारों में टिके रहना निर्यातकों के लिए बड़ी चुनौती बन गया है। ईरान पर अमेरिकी प्रतिबंध हस्तशिल्प निर्यातकों से ईरान का बाजार पहले ही छीन चुके हैं अब अमेरिका और चीन के बीच चल रहे ट्रेड वार ने स्थिति और भी खराब कर दी है। शिपमेंट के आंकड़े बताते हैं कि हैंडीक्राफ्ट एक्सपोर्ट पिछले पांच महीने में 15 फीसदी तक गिर चुका है। पिछले कुछ महीनों में निर्यात इकाइयों ने कर्मचारियों की छंटनी भी शुरू कर दी है। निर्यातकों का कहना है कि यही हाल रहा तो छंटनी के आंकड़ों में तेजी से इजाफा होगा। एक्सपोर्ट को मंदी से उबारने के लिए वित्त मंत्री ने एमईआईएस समेत कुछ सुविधाएं बहाल करने की घोषणा की है लेकिन निर्यातक इसे नाकाफी बता रहे हैं।
तुलनात्मक रूप से कंटेनर शिपमेंट के आंकड़े
माह 2018 2019
--------------------------------------
अप्रैल 3246 2765
मई 3583 3064
जून 3626 2848
जुलाई 3735 3532
अगस्त 4144 3539
---------------------------------------
18334 15748
वित्तीय वर्ष 2018 के शुरुआती पांच महीनों में 18334 कंटेनर का शिपमेंट हुआ था। जबकि वित्तीय वर्ष 2019 के शुरू के पांच महीनों में 15748 कंटेनर का शिपमेंट मुरादाबाद की हैंडीक्राफ्ट इंडस्ट्री से हुआ है। पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष शिपमेंट में 2586 कंटेनर की कमी आई है। जो इस बात का स्पष्ट सुबूत है कि मुरादाबाद के हस्तशिल्प उद्योग पर मंदी की मार पड़ी है और अभी तक निर्यात में करीब 15 फीसदी की कमी आ चुकी है। यह आंकड़ा आगे आने वाले दिनों में और भी खराब हो सकता है। सरकार को इस पर ध्यान देने की जरूरत है। - सतपाल, पूर्व चेयरमैन, ईपीसीएच।
विज्ञापन

Recommended

OPPO के Big Diwali Big Offers से होगी आपकी दिवाली खूबसूरत और रौशन
Oppo Reno2

OPPO के Big Diwali Big Offers से होगी आपकी दिवाली खूबसूरत और रौशन

कराएं दिवाली की रात लक्ष्मी कुबेर यज्ञ, होगी अपार धन, समृद्धि  व्  सर्वांगीण कल्याण  की प्राप्ति : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

कराएं दिवाली की रात लक्ष्मी कुबेर यज्ञ, होगी अपार धन, समृद्धि व् सर्वांगीण कल्याण की प्राप्ति : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Moradabad

आजम को औरत के आंसुओं की सजा मिल रही है: जयाप्रदा

पूर्व सांसद जयाप्रदा ने गुरुवार को विभिन्न स्थानों पर जनसभाएं कीं। इस दौरान उन्होंने कहा कि आजम को औरत के आंसुओं की सजा मिल रही है।

18 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

खराब मौसम की वजह से राहुल गांधी के हेलीकॉप्टर की इमरजेंसी लैंडिंग, बच्चों संग क्रिकेट खेल काटा समय

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के हेलीकॉप्टर की खराब मौसम के कारण हरियाणा के रेवाड़ी में आपात लैंडिंग करानी पड़ी। जिसके बाद वो बच्चों संग क्रिकेट खेलते नजर आए।

18 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree