पुतला फूंका, रोड जाम की और भरी हुंकार

Moradabad Updated Tue, 25 Dec 2012 05:30 AM IST
मुरादाबाद। दिल्ली की दरिंदगी को लेकर मुरादाबाद का यूथ पांचवें दिन भी क्रोध में रहा। रैलियां निकाली। पुतले फूंके। दुराचारियों को फांसी की सजा तो कलेक्ट्रेट से लेकर कमिश्नरी तक गूंजती रही। टिमिट के छात्रों ने हाईवे जाम करके अपने गुस्से का इजहार किया। बुद्धि विहार के लोगों ने रैली निकालकर पुतला फूंका। प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजकर कानून में परिवर्तन की मांग शिद्दत के साथ उठाई।
टिमिट के छात्र दोपहर को करीब डेढ़ बजे नारेबाजी करते हुए कैंपस के बाहर निकल आए। हाईवे पर जाम लगाकर जोरदार प्रदर्शन किया। इसके बाद जुलूस की शक्ल में मझोला तिराहे पर पहुंचकर भी नारेबाजी की। यहां से सभी मानसरोवर कालोनी के गेट के सामने पहुंचकर हाईवे को जाम कर दिया। यह लोग शहर में छात्राओं की सुरक्षा को लेकर आवाज बुलंद कर रहे थे। इसके साथ ही 7 दिन में दिल्ली कांड के दोषियों को सजा एवं विरोध करने वालों पर लाठियां बरसाने वालों पर कार्रवाई की मांग थी। जाम की सूचना पर एसओ मझोला पहुंचे और प्रधानमंत्री को संबंधित ज्ञापन लिया। यहां आशीष, अंकुश, रतन, अनुराग, मलय, संजय, हिमांशु, निमिषा, निकिता, रीवा, जुनेशा, कृति आदि थे। उधर शाम 4 बजे तीर्थंकर महावीर विश्वविद्यालय के सैकड़ों छात्रों ने कैंडिल मार्च निकाला। इसमें विश्वविद्यालय के सभी विभागों के छात्र- छात्राएं शामिल रहे। इन युवाओं के चेहरे गुस्से से तमतमा रहे थे। कहा गया कि मिडिल ईस्ट की तर्ज पर दुराचारियों को सजा देनी चाहिए। शादीशुदा को जनता के सामने पत्थर मारने चाहिए और कुंआरों को चौराहे पर कोड़े मारने के बाद फांसी पर लटका देना चाहिए। यहां पीड़िता के जल्द स्वास्थ्य लाभ की कामना की गई।

महिलाओं ने दुराचारी का जलाया पुतला
अमर उजाला ब्यूरो
मुरादाबाद। बुूद्धि विहार की महिलाओं ने बच्चों संग सोमवार को रैली निकाली और दुराचारी का पुतला दहन किया। महिलाएं आए दिन हो रही दुराचार की वारदात और दोषियों को सजा न मिलने से खफा थीं। आरोपियों को तत्काल फांसी की आवाज बुलंद की।
महिलाओं ने नारे लगाए- ‘मेन आर नाट डाग्स’ एंड ‘वूमेन आर नाट मीट।’ पूरे देश में महिलाओं को सुरक्षा की गारंटी के लिए प्रदेश और केंद्र सरकार से मांग की गई। इसके साथ ही कानून में बदलाव की आवाज उठाते हुए कहा कि स्कूल, चौराहों पर महिलाओं एवं बच्चियों की सुरक्षा हेतु पुलिस की तैनाती की जाए एवं सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएं। प्रदर्शनकारी महिलाओं ने दुराचारी के बनाए गए पुतले की पिटाई की और फिर आग के हवाले किया। प्रमुख रूप से सुनीता अहलूवालिया, सुनीता एडवोकेट, इला अग्रवाल, अनिता अग्रवाल, अराधना, प्रज्ञा, कंचन, राशि शर्मा, राखी, सुमन, मनु अग्रवाल, अनिकेत आदि मौजूद रहे।
उधर नेेहरू युवा क्लब जयंतीपुर की ओर से जुलूस निकला जो मियां कालोनी, आबिद मार्केट, टीला, शिवनगर, डबल फाटक, बुद्घ बाजार आदि होते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे। नारे लगाते हुए आरोपियों के पुतले दहन किए गए। शहाबुल हसन ने कहा कि नारी कहीं भी सुरक्षित नहीं है। फास्ट ट्रैक कोर्ट में दुराचार के मामलों की सुनवाई होनी चाहिए। सिटी मजिस्ट्रेट के जरिए केंद्र सरकार को कानून संशोधन का ज्ञापन भेजा गया। प्रमुख रूप से इस्माइल सैफी, मो. आकिल, मुजम्मिल हुसैन, मो. यूसुफ, फरमान अली, मो. फईम, मो. नाजिम, हाजी हबीब, डा. एलपी सिंह चौहान, पार्षद रमेश सैनी, डा. हसन सलमानी, हाजी अकबर अली, शकील अहमद, नूर अहमद आदि मौजूद रहे।

... ताकि बेगुनाह न बने बलि का बकरा
मुरादाबाद। निर्बल वर्ग उत्थान सेवा समिति की ओर से जिला प्रशासन के जरिए प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन भेजा गया। केंद्र सरकार से महिलाओं की अस्मिता की रक्षा के लिए कड़े कानून की मांग उठाते हुए कहा गया है कि न्यायिक व्यवस्था को इस तरह सुदृढ़ किया जाए कि दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिले और बेगुनाह झूठे आरोपों में बलि का बकरा बनने से बच सकें। इस मौके पर मल्लन भारती, नितीश गुप्ता, रामसरन एडवोकेट, मुरारी लाल, अखिलेश प्रकाश शर्मा, राजेश पारस, सुरेश सक्सेना, मुनींद्र कुमार, कैलाश चौधरी आदि मौजूद रहे।

हर चौराहे पर गाड़ियां चेक करे पुलिस
मुरादाबाद। महिला कल्याण समिति ने गैंगरेप की घटना पर दु:ख और निंदा व्यक्त करते हुए कहा कि बड़े शहरों में नगर परिवहन सेवाओं को हर चौराहे पर पुलिस चेक करे। खासकर बंद टैक्सियों और बसों में थोड़ी- थोड़ी दूर पर चेकिंग करने से इस तरह की घटनाएं रुकेंगी। पास- पास पुलिस की तैनाती होनी चाहिए ताकि कोई महिलाओं/ बच्चियों से छेड़छाड़ का दुस्साहस न कर सके। इस बैठक में सरला शर्मा, निम्मी शर्मा, बीना जैन, निशा चतुर्वेदी, राधारानी शर्मा, मधु गुप्ता, गायत्री चतुर्वेदी, नीलम शर्मा, मधुबाला गुप्ता, शैली गुप्ता, शुचि, मनोरमा गुप्ता, शोभना, मीनू, सुधा शर्मा आदि मौजूद रही।

दोनों सदनों का विशेष सत्र बुलाए सरकार
मुरादाबाद। मुरादाबाद जाग्रति मंच के अध्यक्ष निमित जायसवाल ने कहा कि संसद के दोनों सदनों का विशेष सत्र सरकार को बुलाना चाहिए। दुराचार की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए सदन में बिल पास कराकर कड़ा कानून लागू करना चाहिए। साथ ही इस तरह के आरोप में घिरे लोगों को कोई भी राजनीतिक दल चुनाव में टिकट न दे। उनके साथ बैठक में देवराज सिंह चौहान, अम्बरीष गर्ग, केके गुप्ता, धर्मेंद्र यादव, विपिन गुप्ता, कपिल गुप्ता, करुणेश अग्रवाल आदि मौजूद रहे। भारत रक्षा सेना की बैठक कोर्ट रोड कैंप कार्यालय में हुई जिसमें सोनिया गांधी से ऐसी घटनाएं रोकने के लिए सर्वदलीय बैठक बुलाने और कड़े कानून बनाने की मांग की गई। प्रमुख रूप से अध्यक्ष धर्मेंद्र यादव, अनिल भंवर, बीडी सरोज, निमित जायसवाल, राजकुमार यादव, रविंद्र गौतम, हेमंत यादव, रजनीश शर्मा आदि मौजूद रहे।

अश्लील फिल्में बढ़ा रही कामुकता
- दुराचार की घटनाओं के लिए अश्लील फिल्मों को भी युवतियां मानती जिम्मेदार
मुरादाबाद। छात्रा प्रीती सिंह ने कहा अश्लील फिल्मों पर रोक लगनी चाहिए। ऐसी फिल्मों को देखकर एक बच्चे की मानसिकता पर बुरा असर पड़ता है और वह बड़ा होकर सेक्स के प्रति उत्सुक होकर छेड़छाड़ और दुराचार की घटनाओं को अंजाम देने लगता है। कांता रावत ने कहा कि सभी सार्वजनिक स्थलों पर इमरजेंसी हेल्पलाइन की व्यवस्था होनी चाहिए। सीसीटीवी कैमरों की व्यवस्था हो ताकि ऐसे अपराधों को रोका जा सके। खुशहालपुर निवासी हितेंद्र कुमार कहते हैं कि विचारों की जरूरत देश को नहीं इंसान के विचार और संस्कारों की है। इंसानियत को भूलकर ऐसे कुकर्म करने वाले शायद बुजुर्गों से मिले संस्कारों को भूल चुके हैं। संस्कार भूल चुके दुराचारियों को पुलिस प्रशासन ऐसी सजा दे जो समाज के लिए दृष्टांत बन सके। नीतू सिंह ने कहा देश में कानून में संशोधन एवं कानून बनाने का प्राविधान है तो फिर ऐसे मुद्दे पर ठोस और ऐसा कानून क्यों नहीं बनाया जाता जिससे ऐसा अपराध करने की हिम्मत कोई न कर सके। हिंदू कालेज कला संकाय अध्यक्ष रितू निमेष ने कहा कि दरिंदों को लगता है पुलिस- प्रशासन को अपने पक्ष में करके बच जाएंगे, और तभी अपराध कर खुलेआम घूमते हैं। पुलिस प्रशासन गंभीरता से जिम्मेदारी निभाए और पालन करे तो ऐसी घटनाओं पर रोक लगेगी। मोनिका निमेष कहती हैं जितना सम्मान पुरुष वर्ग अपने लिए चाहता है उतना ही सम्मान नारी को दिया जाना चाहिए।

Spotlight

Most Read

National

पुरुष के वेश में करती थी लूटपाट, गिरफ्तारी के बाद सुलझे नौ मामले

महिला लड़कों के ड्रेस में लूटपाट को अंजाम देती थी। अपने चेहरे को ढंकने के लिए वह मुंह पर कपड़ा बांधती थी और फिर गॉगल्स लगा लेती थी।

20 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी के इस शहर में घुस आया तेंदुआ

मुरादाबाद से लगे अगवानपुर में एक तेंदुए के घुस आने से लोगों में दहशत फैल गई।

19 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper