गबन हुए 22 लाख वसूलने को जारी हुई आरसी

Moradabad Updated Wed, 28 Nov 2012 12:00 PM IST
मुरादाबाद। महामाया पेंशन के गबन हुए 22 लाख रुपए की रिकवरी के लिए विभाग से आरसी जारी की गई है। इसके साथ ही उक्त गबन में विभागीय संलिप्तता का पता लगाने के लिए विभागीय जांच शुरू हुई है। उधर दो थानों में चल रही इस मामले की जांच संयुक्त रूप से सिविल लाइन्स थाने से शुरू हुई है।
बताते चलें कि अपर जिला विकास अधिकारी समाज कल्याण कार्यालय से मिलने वाली महामाया पेंशन की बैंक में जमा धनराशि मार्च एवं अप्रैल 2012 में जिला समाज कल्याण अधिकारी के फर्जी पत्र एवं हस्ताक्षर के जरिए बैंक से संभल जिले की दो एनजीओ के खाते में ट्रांसफर कर दी गई थी। यह चेकें एक्सिस बैंक मुरादाबाद और प्रथमा बैंक अमरपुर काशी में लगाई गई थी। संदीप कुमार नाम के व्यक्ति ने उक्त चेकों को रिसीव किया था और महामाया का धन बहजोई संभल की दोनों एनजीओ के खाते में ट्रांसफर होकर निकल गया। मामला पकड़ में आने पर एडीडीओ समाज कल्याण अवधेश कुमार की ओर से दो बैंक शाखाओं, एनजीओ सहित कुछ लोगों के विरुद्घ एफआईआर दर्ज करवाई थी। अब जिला समाज कल्याण अधिकारी शैलेष कुमार श्रीवास्तव की ओर से गबन धनराशि की रिकवरी के लिए डीएम के जरिए आरसी जारी करवाई है। उधर एफआईआर पर जांच कर रहे आईओ के पत्र पर जिला समाज कल्याण अधिकारी ने तीन सदस्यीय जांच टीम गठित की है जो यह पता लगाने का प्रयास करेगी कि उक्त गबन में विभागीय कर्मियों की संलिप्तता थी अथवा नहीं। उधर एडीडीओ समाज कल्याण कहते हैं मामला पकड़ में आते ही एफआईआर करवा दी थी। दोषियों की गिरफ्तारी कर पूछताछ हो तो रकम की रिकवरी भी हो जाएगी।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

मुरादाबाद में पानी की टंकी में मिला छात्र का शव

मुरादाबाद में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls