महिला थाने के सामने दिनदहाड़े कुंडल लूट

Moradabad Updated Sat, 06 Oct 2012 12:00 PM IST
मुरादाबाद। महिला थाने के सामने लुटेरे एक महिला के कानों से कुंडल लूट ले गए। मौके पर थाने की होमगार्ड थीं, पड़ोस में सीओ कार्यालय के सिपाही भी थे, लेकिन सब तमाशा देखते रहे। महिला चिल्लाई, लुटेरों के पीछे दौड़ी, मदद को लोग आए, लेकिन लुटेरों का पता नहीं लगा। महिला थाने से उसे सिविल लाइन्स थाने टरका दिया गया। हैरत की बात यह है कि पुलिस भी उसे जीप में लेकर टहलाती रही।
घटना शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे की है। कुंदरकी के बिचौला गांव निवासी आशा कार्यकत्री रजनी शर्मा पत्नी सुरेंद्र शर्मा गांव से एक डिलीवरी केस लेकर जिला अस्पताल आई थी। महिला को अस्पताल में छोड़कर वह किसी काम से जिगर कालोनी के पास गई थी। लौट रही थी, तभी महिला थाने के ठीक सामने हरी रंग की टीशर्ट और काली पैंट पहने एक युवक ने झपट्टा मारकर उसके कुंडल नोच लिए। रजनी कुछ समझ पाती, इससे पहले ही लुटेरों ने उसे धक्का दिया और भागने लगे। इसके बाद रजनी चिल्लाई। महिला थाने के गेट से होमगार्ड निकलीं तो सीओ कार्यालय से सिपाही बाहर आए। लेकिन किसी ने लुटेरों को पकड़ने की कोशिश नहीं की। महिला खुद ही उनके पीछे दौड़ी। रजनी ने बताया कि लुटेरे दो थे। उसमें से एक को वह पहचान सकती है।
सूचना पर सिविल लाइन्स एसओ भी फोर्स के साथ पहुंचे। महिला को जीप में बिठाया और लुटेरे की तलाश में सड़कों की खाक छानते रहे। संदेह के आधार पर एक युवक को भी हिरासत में लिया। लुटेरे का पता नहीं लगा। शाम को मुकदमा दर्ज किया गया।
--
कुंडल पहनती ही क्यूं हो...
महिला थाने में मौजूद दारोगा ने उल्टे पीड़ित महिला को ही डांट लगा दी। रजनी से बोलीं कि तुम कुंडल पहनकर निकलती ही क्यूं हो, जब सुरक्षा नहीं कर सकतीं। इसके बाद उन्होंने उसे सिविल लाइन्स थाने जाने को कहा। हालांकि उससे पहले ही एसओ आ गए।
--
कप्तान साहब, कहां गई स्कूटी स्क्वायड
- महिला थाने के सामने दिनदहाड़े वारदात से उठे सवाल
अमर उजाला ब्यूरो
मुरादाबाद। महिलाओं की सुरक्षा को लेकर किए गए दावे खोखले हो गए। कप्तान साहब की ओर से बनाई गई स्कूटी स्क्वायड आज तक सड़क पर नजर नहीं आई। अब नवरात्र का पर्व भी आ रहा है। ऐसे में महिलाओं की सुरक्षा पर सवाल खड़े हो गए हैं।
स्कूल, कालेजों के आसपास छेड़छाड़ और बाजारों में महिलाओं के साथ हो रही लूटपाट की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए एसएसपी ने स्कूटी स्क्वायड का गठन किया था। दो दिन अभियान चला, इसके बाद अधिकारी और अधीनस्थ चुप बैठ गए। नतीजा शहर में छेड़छाड़ और महिलाओं के साथ अपराध बढ़ रहे हैं। दो दिन पहले एक युवती ने टीजिंग से परेशान होकर आत्महत्या जैसा कदम उठाने की कोशिश की। जबकि तीन दिन से लगातार शहर में चेन और कुंडल लूट की घटनाएं हो रही हैं। शुक्रवार को घटना के बाद दिखावे के लिए महिला थाने की एक दारोगा सड़क पर स्कूटी के साथ दिखाई दीं, लेकिन लुटेरे को पकड़ने नहीं निकलीं।
--

Spotlight

Most Read

Rohtak

जीएसटी विभाग ने ई-वे बिल को लेकर जांच किया अवेयरनेस कैंपेन

जीएसटी विभाग ने ई-वे बिल को लेकर जांच किया अवेयरनेस कैंपेन

19 जनवरी 2018

Related Videos

रामपुर में मोटरसाईकिल के लिए पत्नी को दिया तीन तलाक

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद सरकार ने तीन तलाक पर कानून बनाने का फैसला तो जरूर कर लिया लेकिन इसका असर दिखाई नहीं दे रहा है।

19 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper