कार्यकारिणी में पहुंचे भाजपा के पांच पार्षद

Moradabad Updated Fri, 05 Oct 2012 12:00 PM IST
मुरादाबाद। नगर निगम कार्यकारिणी के कांटे के चुनाव में भाजपा अपने पांचाें प्रत्याशियों को जिताने में कामयाब रही। हालांकि भाजपा के पास अपने कुल 24 पार्षद थे जो सिर्फ चार प्रत्याशियों को ही जिता सकते थे। इसके बावजूद भाजपा को कार्यकारिणी में बहुमत नहीं मिला है। मेयर समेत तेरह सदस्यों की कार्यकारिणी में मेयर को जोड़कर भाजपा के कुल छह वोट बनते हैं जो बहुमत से एक कम है। गुरुवार को हुए चुनाव में भाजपा के पांच के अलावा सपा के चार, कांग्रेस के दो और एक निर्दलीय प्रत्याशी/ पार्षद ने जीत दर्ज कराई है।
नगर निगम कार्यकारिणी चुनाव की प्रक्रिया सुबह नौ बजे शुरू हो गई। दोपहर ढाई बजे वोटिंग शुरू हुई। जिसमें नगर निगम के सत्तर पार्षदों, मेयर और चार पदेन सदस्यों समेत कुल 75 सदस्यों ने वोट डाले। शाम को साढ़े पांच बजे नगर आयुक्त एसके सिंह ने काउंटिंग शुरू कराई। जिसमें भाजपा के पांचों प्रत्याशी गंगाराम सैनी, शेर सिंह सैनी, गगन शर्मा, राजेश गुप्ता और सपना सागर विजयी घोषित किए गए। इनके अलावा सपा के चार उम्मीदवार असद कमाल, राशिद बाबी, राजेंद्र सिंह और जहीर आलम व कांग्रेस के अनुभव मेहरोत्रा और मुहम्मद सद्दीक ने भी जीत दर्ज कराई है। वहीं निर्दलीय पार्षद विद्यासरन शर्मा भी कार्यकारिणी के लिए चुने गए हैं। हालांकि कांग्रेस के अनुभव मेहरोत्रा और सपा के जहीर आलम की जीत द्वितीय वरीयता के वोटों के आधार पर हुई।


सांसद और तीन विधायकों ने भी की वोटिंग
मुरादाबाद। नगर निगम कार्यकारिणी के चुनाव में सांसद अजहरउद्दीन, पूर्व मंत्री और भाजपा विधायक डा. नैपाल सिंह, शहर विधायक हाजी यूसुफ अंसारी और देहात विधायक शमीमुलहक ने भी वोटिंग की। ये सभी नगर निगम बोर्ड के पदेन सदस्य हैं। वोटिंग से पहले महापौर बीना अग्रवाल ने शहर विधायक को छोड़ बाकी सभी को बोर्ड सदस्य पद की शपथ दिलाई। शहर विधायक को शपथ पहले ही दिलाई जा चुकी थी। पदेन सदस्य होने के बावजूद बसपा सांसद बीर सिंह एडवोकेट वोट करने नहीं पहुंचे। वहीं वोटिंग करने पहुंचे बसपा एमएलसी परमेश्वर लाल सैनी वोट नहीं कर सके। उनका वोट नहीं बन सकने की वजह से वह वोट नहीं कर पाए। उधर सपा की ओर से शहर विधायक हाजी यूसुफ अंसारी और भाजपा की ओर से महानगर संयोजक रितेश गुप्ता देर शाम तक निगम दफ्तर पर मौजूद रहे।


मेयर को वोट करने से रोकने की कोशिश, हंगामा
मुरादाबाद। सपा पार्षदाें ने नगर आयुक्त के समक्ष महापौर के वोट पर आपत्ति की। कहा कि अध्यक्ष होने के नाते वह वोटिंग नहीं कर सकतीं। इसके बाद नगर आयुक्त एसके सिंह ने मेयर को एक चिट्ठी जारी कर नियमावली का हवाला देते हुए कहा कि वह कार्यकारिणी के लिए हो रही वोटिंग में वोट नहीं कर सकेंगी। जिसे लेकर कुछ देर को हंगामे के हालात पैदा हो गए। भाजपा नेता रितेश गुप्ता ने एसपी सिटी से इसकी शिकायत की। बाद में भाजपा के मुख्य सचेतक सरदार डिंपल सिंह ‘अश्क’ ने नगर आयुक्त के नोटिस के जवाब में कहा कि नगर निगम अधिनियम के अनुसार महापौर केवल तब बतौर सदस्य मताधिकार का प्रयोग नहीं कर सकतीं जब वह निगम अथवा उसकी किसी समिति के अधिवेशन की अध्यक्षता कर रही हों। मौजूदा वक्त में वह ऐसा नहीं कर रही हैं। नगर निगम के कानूनी सलाहकार बरेली से आए अधिवक्ता शिशिर कुमार मेहरोत्रा ने इसे तर्क का स्वीकार कर मेयर को वोट करने की परमिशन दे दी।


पार्षद को अटैक, मेयर ने डाला वोट
मुरादाबाद। भाजपा की ओर से कार्यकारिणी सदस्य का नामीनेशन कराने वाले पार्षद शेर सिंह को निगम कार्यालय में ही गुरुवार को अचानक पैरालाइसिस अटैक पड़ गया। उन्हें आनन फानन साईं अस्पताल ले जाया गया। बाद में पार्षद की चिट्ठी के आधार पर उनके मताधिकार का प्रयोग महापौर बीना अग्रवाल ने किया। इसी तरह पार्षद राधा गुर्जर का स्वास्थ्य ठीक नहीं होने की वजह से उनके मताधिकार का प्रयोग भी मेयर के द्वारा किया गया।



‘मैं हारी नहीं कराई गई’
मुरादाबाद। कार्यकारिणी का चुनाव हारने के बाद पार्षद शीरी गुल ने गुरुवार शाम को नगर निगम में जमकर हंगामा किया। उनके हंगामे के बाद नगर आयुक्त एसके सिंह ने री काउंटिंग कराई। जिसमें शीरी गुल चौथाई वोट से हार गईं। उन्हें कुल पांच मत और द्वितीय वरीयता के तीन मत मिले थे। फैसला आने के बाद शीरी गुल ने नगर विधायक हाजी यूसुफ अंसारी और महापौर के पति विनोद अग्रवाल पर खुद को हराने के लिए पार्षदों को धमकाने के आरोप लगाए। वहीं वार्ड 27 की पार्षद शबाना परवीन ने वोटिंग के दौरान हंगामा किया और कहा कि उनका वोट कोई ओर डाल गया है। वहीं नामीनेशन कराने वाले अमित को एक भी वोट नहीं मिला उन्हाेंने खुद अपना वोट भी किसी ओर को दे दिया।

Spotlight

Most Read

Lucknow

भयंकर हादसे के शिकार युवक ने योगी से लगाई मदद की गुहार, सीएम ने ट्विटर पर ये दिया जवाब

दुर्घटना में रीढ़ की हड्डी टूटने से लकवा के शिकार युवक आशीष तिवारी की गुहार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सुनी ली। योगी ने खुद ट्वीट कर उसे मदद का भरोसा दिलाया और जिला प्रशासन को निर्देश दिया।

20 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी के इस शहर में घुस आया तेंदुआ

मुरादाबाद से लगे अगवानपुर में एक तेंदुए के घुस आने से लोगों में दहशत फैल गई।

19 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper