पालीटेक्निक छात्र ने की आत्महत्या

Moradabad Updated Mon, 17 Sep 2012 12:00 PM IST
मुरादाबाद। घरवालों की उम्मीदों पर खरा न उतर पाने और पढ़ाई के बोझ में दबे पालीटेक्निक के एक छात्र समाप्त कर ली। रविवार शाम वह छजलैट स्थित अपने घर से निकला और हकीमपुर स्टेशन पर ट्रेन के आगे कूद गया। घटना की सूचना पर कोहराम मच गया। पुलिस ने ग्रामीणों के आग्रह पर शव का पंचनामा भरवाकर उसे परिजनों को सौंप दिया।
छजलैट के सुकला गांव निवासी करतार सिंह का बेटा बिट्टू, दिल्ली रोड स्थित आईएफटीएम यूनिवर्सिटी में पालीटेक्निक का छात्र है। पिछले काफी समय से वह डिप्रेशन में था। बताया जा रहा है कि पिछले साल उसके काफी कम नंबर आए थे। इसके बाद परिजनों ने उसे डांटा था। नए सत्र में आने पर फिर वह काफी नर्वस था। रविवार शाम वह गांव से निकलकर हकीमपुर रेलवे स्टेशन के पास पहुंचा और स्टेशन पर ही सुसाइड नोट लिखा। स्टेशन पर मौजूद लोगों ने यह जानकारी दी। इसके बाद वह प्लेटफार्म के एक छोर पर चला गया। लोग कुछ समझ पाते, इससे पहले ही बिट्टू ने मुरादाबाद की ओर से आ रही एक ट्रेन के आगे छलांग लगा दी। उसके शरीर के टुकड़े टुकड़े हो गए। जिन्होंने यह नजारा देखा, रोंगटे खड़े हो गए। स्टेशन पर हड़कंप मच गया।
लोगों ने तत्काल पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची और पैंट की जेब से सुसाइड नोट बरामद किया। इसमें छात्र ने पढ़ाई न कर पाने के चलते आत्महत्या का कारण लिखा। पुलिस ने परिजनों को सूुचना दी। इसके बाद गांव वाले पहुंचे। परिजनों ने खत पर लिखी बेटे की हैंडराइटिंग पहचान ली। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजना चाहा, लेकिन परिजनों ने इंकार कर दिया। काफी देर बाद पुलिस ने क्षत विक्षत शव परिजनों को सौंप दिया। एसओ ने बताया कि परिजनों और ग्रामीणों के आग्रह पर शव को सौंपा गया।
--
सुसाइड नोट में लिखा
मैंने पालीटेक्निक छोड़ दी है इसलिए मैं अपनी मौत मर रहा हूं। घर की डांट मुझसे नहीं झेली जाती है। मेरे घर वालों ने पैसा खूब दिया है। कोई भी कमी नहीं की है। मेरा दिल पढ़ाई में नहीं लगता है। चार-पांच हजार रुपये मुझसे बर्दाश्त नहीं होते। इसलिए मैं शर्मिंदा हूं। यह खत मेरी मौत के बाद मेरे घरवालों को दे दिया जाए।
--
छात्रा ने भी की थी आत्महत्या
पढ़ाई से परेशान होकर कुछ समय पूर्व बीटेक की भी एक छात्रा ने आत्महत्या कर ली थी। रामगंगा विहार की रहने वाली छात्रा पेपर छूटने से परेशान थी। इससे पहले मानसरोवर कालोनी की भी एक छात्रा ने आत्महत्या कर ली थी। छात्राएं मानसिक अवसाद में थीं।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

मुरादाबाद में पानी की टंकी में मिला छात्र का शव

मुरादाबाद में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई।

22 जनवरी 2018