मुरादाबाद जेल को दोमंजिला बनाने का प्रस्ताव

Moradabad Updated Sun, 22 Jul 2012 12:00 PM IST
मुरादाबाद। क्षमता से चार गुने से भी ज्यादा बंदियों के बोझ से चरमरा रही मुरादाबाद जिला जेल को दोमंजिला बनाए जाने का प्रस्ताव जेल अफसर बना रहे हैं। दरअसल जेल को बाहर शिफ्ट किया जाना था। जिसके लिए 70 एकड़ जमीन की जरूरत है। लेकिन वर्ष 1980 के इस प्रपोजल को अभी तक अमलीजामा नहीं पहनाया जा सका। 32 साल में भी जेल को जमीन मयस्सर नहीं होने से निराश जेल अफसराें ने शासन के सामने इस जेल को दोमंजिला भवन में तब्दील करने और जेल के आसपास पड़ी कारागार की 10 एकड़ जमीन को बाउंड्री में शामिल कर उस पर नई बैरकें बनाए जाने का प्रस्ताव रखा है।
मुरादाबाद जिला कारागार की क्षमता केवल 600 बंदियों की है। लेकिन जिल जेल में इस वक्त करीब 2500 बंदी हैं। मुरादाबाद जेल केवल अपने जिले के ही नहीं बल्कि दो पड़ोसी जिलों ज्योतिबाफुले नगर और भीमनगर के बंदियों को भी झेल रही है। जिसकी वजह से जेल ओवरलोड है। गर्मियों में खासकर यहां बंदियों का सांस लेना मुहाल हो जाता है। क्योंकि क्षमता से चार गुना से भी अधिक बंदियों का एक - एक बैरक में रहना पड़ता है। डीआईजी जेल आरपी सिंह का कहना है कि वर्ष 1980 से मुरादाबाद जिला कारागार के लिए जमीन की तलाश की जा रही है। लेकिन जमीन नसीब नहीं हुई। गर्मी में बंदियों की हालत जेल में दयनीय हो जाती है। लिहाजा शासन से अनुरोध किया जाएगा कि जमीन नहीं मिलने की स्थिति में मुरादाबाद जिला जेल को दोमंजिला भवन में तब्दील कर दिया जाए और जेल की खाली पड़ी 10 एकड़ जमीन को भी इस बाउंड्री में शामिल कर उसमें नई बैरकें बना दी जाएं। डीआईजी ने बताया कि पूरे प्रदेश में केवल दो जेलों में स्पेस की इतनी बदतर हालत है। मुरादाबाद के बाद आजमगढ़ का नंबर आता है लेकिन आजमगढ़ में नई जेल के लिए जमीन मिल चुकी है।

Spotlight

Most Read

Shimla

कांग्रेस के ये तीन नेता अब नहीं लड़ेंगे चुनाव, चुनावी राजनीति से लिया संन्यास

पूर्व मंत्री एवं सांसद चंद्र कुमार, पूर्व विधायक हरभजन सिंह भज्जी और धर्मवीर धामी ने चुनाव लड़ने की सियासत को बाय-बाय कर दिया है।

17 जनवरी 2018

Related Videos

अमर उजाला टीवी की खबर का असर, मुरादाबाद अमानवीयता मामले में एक गिरफ्तार

मुरादाबाद से इंसानियत को शर्मसार करने वाले एक युवक को गिरफ्तर कर लिया गया है। दरअसल यहां रामपुर रोड पर रामगंगा नदी किनारे शौच करने वाले कुछ लोगों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा गया था और उनके साथ अमानवीयता की गई थी।

16 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper