गार्गी की आत्महत्या में पापा हरपाल गिरफ्तार

Moradabad Updated Fri, 20 Jul 2012 12:00 PM IST
मुरादाबाद। डेढ़ महीने तक सुर्खियों में रहा गार्गी कांड अब एक सनसनीखेज मोड़ पर खड़ा है। चौदह साल की इस छात्रा की आत्महत्या में उसी के पापा पूर्व विधायक बलराम सैनी के बेटे हरपाल सैनी सलाखों के पीछे पहुंच गए हैं। सूबे की सियासत में कई दिनों तक छाए रहे इस मामले में पुलिस ने शुरू से ही परिजनों को संदेह के घेरे में रखा था। मामले की तपिश ठंडा होने के साथ ही पुलिस ने पिता हरपाल सैनी को जांच में आरोपी बना दिया था। बृहस्पतिवार को पुलिस ने गार्गी को आत्महत्या के लिए उकसाने में उन्हें गिरफ्तार कर लिया। हरपाल को कोर्ट में पेश किया गया। यहां से उसे चार दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया।
31 मई को पूर्व विधायक बलराम सैनी की पोती नौवीं की छात्रा गार्गी ने सुसाइड कर लिया था। गार्गी के पिता हरपाल सैनी ने उसकी एक सहेली को नामजद करते हुए तीन-चार युवकों के खिलाफ गैंगरेप व आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज कराया था। जांच आगे बढ़ी तो गैंगरेप की पुष्टि नहीं हो सकी। गार्गी के दोस्त रोहित गिरी के गिरफ्तार होने के बाद उसके बयानों के आधार पर पुलिस ने जांच में हरपाल सैनी को भी आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोपी बनाया। जांच में पुलिस ने उसको जांच में सहयोग न करने के लिए धारा 202 भी लगाई थी। गिरफ्तारी से बचने को हरपाल ने कोर्ट में सरेंडर की अर्जी दाखिल की थी लेकिन दो दिन पहले कोर्ट ने इस अर्जी को खारिज कर दिया था। अर्जी खारिज होने के बाद पुलिस ने हरपाल की गिरफ्तारी के लिए दबिशें देनी शुरू कर दीं । बृहस्पतिवार को पुलिस को सफलता मिली। हरपाल को उनके दससराय स्थित घर से गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने चार दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

मुरादाबाद में पानी की टंकी में मिला छात्र का शव

मुरादाबाद में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई।

22 जनवरी 2018