सामाजिक दृष्टि से संयम एवं नियम का पालन जरूरी

Moradabad Updated Wed, 23 May 2012 12:00 PM IST
मुरादाबाद। जागो भारत योग साधक संघ द्वारा आयोजित संस्कार योग शिविर का शुभारंभ योगीराज भारत भूषण एवं योगाचार्य प्रतिष्ठा आदि ने मंत्रोच्चारण के साथ दीप प्रज्ज्वलित करके किया।
इसमें बड़ी संख्या में छात्र छात्राओं एवं महानगर वासियों ने भाग लिया।
इस अवसर पर योग गुरु ने कहा कि योग शारीरिक, सामाजिक एवं मानसिक तीनों स्थानों पर एक साथ कार्य करते हैं। शारीरिक दृष्टि से स्वास्थ्य उत्तर होना जरूरी है। इसी लिये विभिन्न योगासनों का अभ्यास कराया। उन्होंने सूर्य से जीवन में ऊर्जा ग्रहण करने के लिये मंत्रोच्चारण के साथ सूर्य नमस्कार भी कराया। मानसिक विकास को प्राणायाम एवं स्थूल ध्यान का प्रशिक्षण दिया। योग गुरु ने सामाजिक दृष्टि के तहत मनुष्य को संयम एवं नियमों का पालन करने की प्रेरणा दी। इन्होंने बच्चों को माता पिता और गुरुजनों के सम्मान का पाठ पढ़ाते हुए कहा मानसिक एवं बौद्धिक विकास के यह आवश्यक है। आचार्या प्रतिष्ठा ने क्रोध को मनुष्य का सबसे बड़ा दुश्मन बताते हुए कहा यह विवेक को नष्ट कर देता है। इस लिये क्रोध से बचने को प्रेरित किया। इन्होंने बच्चों को क्रोध न करने का संकल्प दिलाया। डा.बृज विहारी, परेश सक्सेना, अमित गर्ग, पुनीत गर्ग, करतार सिंह, सुधीर शर्मा, उदयभान, उमेश चंद्र, संजय नारंग, शालिनी सक्सेना, बबीता विश्नेाई, महिमा शर्मा आदि का सहयोग रहा।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

मुरादाबाद में पानी की टंकी में मिला छात्र का शव

मुरादाबाद में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls