बढ़ते बिजली संकट पर ग्रामीणों ने खोया आपा

Moradabad Updated Fri, 11 May 2012 12:00 PM IST
मुरादाबाद। भीषण गर्मी में बिजली की अंधाधुंध कटौती कानून व्यवस्था के लिए खतरा बन गई है। बृहस्पतिवार को रतनपुर कलां में गुस्साए ग्रामीणों ने बिजली घर में तोड़फोड़ की। कर्मचारियों को बंधक बना लिया और एसएसओ के साथ हाथापाई भी की। बवाल बढ़ता ही गया। पुलिस को स्थिति संभालनी पड़ी। प्रदर्शनकारियों को लाठियां फटकार कर खदेड़ा गया। जेई ने तोड़फोड़ करने वालों के खिलाफ तहरीर दी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
बढ़ती गरमी और बेकाबू होता बिजली संकट। ऐसे में लोगों का सब्र अब जवाब देने लगा है। रतनपुर कलां में भी ऐसा ही हुआ। दिनभर की कटौती के बाद भी जब यहां शाम को भी बिजली नहीं आई तो गुस्साए लोग बुधवार की रात दस बजे बिजली घर पर पहुंच गए। ग्रामीण यहां मौजूद एसएसओ सुधीर शर्मा से तत्काल बिजली चालू करने की मांग करने लगे। इस पर उनका तर्क था कि शेड्यूल के मुताबिक रात को बारह बजे ही आपूर्ति शुरू की जाएगी। इस पर लोग भड़क गए और तोड़फोड़ शुरू कर दी। एसएसओ के साथ मारपीट भी की गई। कुछ कर्मचारियों को ग्रामीणों ने बंधक बना लिया बाद में वे मौका देकर यहां से भाग निकले। बिजली घर पर पूरी तरह से ग्रामीणों ने कब्जा कर लिया। घंटों यहां बवाल चला। इत्तला पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और भीड़ को खदेड़ा। बाद में रात को बारह बजे पुलिस की मौजूदगी में बिजली चालू कराई गई। जई विनय कुमार ने बताया कि शेड्यूल के मुताबिक रात को बारह बजे बिजली आनी थी लेकिन कुछ लोग बिजली घर में घुस आए और तोड़फोड़ शुरू कर दी। एसएसओ से हाथपाई की गई। शहर के दूसरे इलाकों में भी हल्ला मचने लगा है।


Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

मुरादाबाद में पानी की टंकी में मिला छात्र का शव

मुरादाबाद में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई।

22 जनवरी 2018