आशाओं का उत्पीड़न और शोषण बंद किया जाए

Mirzapur Updated Tue, 04 Sep 2012 12:00 PM IST
मिर्जापुर। उत्तर प्रदेश सामाजिक स्वास्थ्य कार्यकत्री आशा संघ की जिला अस्पताल के परिसर में हुई बैठक में आशाओं ने हो रहे उत्पीड़न और शोषण का विरोध किया। साथ ही आशाओं को सरकार द्वारा देय सुविधाओं को देने की मांग की। कहा कि आशाओं के साथ किया जा रहा भेदभाव बंद किया जाए।
बैठक में जिलाध्यक्ष महताब बेगम ने कहा कि मिर्जापुर के आशा कार्यकत्रियाें का उत्पीड़न और शोषण किया जा रहा है। आशाओं को सरकार द्वारा देय सुविधाओं से वंचित रखा जा रहा है। मंडल अध्यक्ष सीमा बरनवाल ने कहा कि आशाओं को समय से भुगतान नहीं किया जा रहा है। आशाओं की लड़ाई सरकार से अनवरत चल रही है। उनके साथ भेदभाव किया जा रहा है। जननी सुरक्षा में गांव व शहर की देखरेख करने का दायित्व सौंपा गया है। वहीं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र , सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के द्वारा वेतन की मांग करने पर प्रताड़ित किया जाता है। श्रीमती बेगम ने कहा कि आशाओं को चेक देते समय सुविधा शुल्क की मांग की जाती है। वहीं महिला अधीक्षक द्वारा आशाओं के साथ सम्मानजनक व्यवहार नहीं किया जाता है। बैठक में आशाओं ने प्रस्ताव पारित किया कि दूर-दराज आने वाली गर्भवती महिलाओं के साथ आने पर रहने के लिए कमरा मुहैया कराया जाए। आशाओं को दस हजार रुपये प्रतिमाह मानदेय दिया जाए और उन्हें राजकीय कर्मचारी घोषित किया जाए। मांग किया कि पात्र आशाओं को योग्यता के अनुसार एएनएम का प्रशिक्षण कराया जाए।
बैठक में शांति दूबे, ज्ञान शीला, आशा सिंह, सविता उपाध्याय, मोहन लाल यादव, जेपी दूबे, रामेश्वर यादव, रमेश यादव, बबलू खान, जगदीश प्रसाद, बब्बू, अशोक सिंह, कृपा शंकर पांडेय, सुरेश यादव, सतीश सिंह, बीना सिंह, मुन्नी देवी, फूल कुमारी, महताब बेगम, सीमा बरनवाल, सरोजा देवी, सावित्री, राजकुमारी, सीमा सिंह, रेखा सिंह आदि मौजूद रहीं।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: आपके बच्चों से स्कूल में ये काम तो नहीं कराया जाता?

मिर्जापुर के बंधवा में बने पूर्व प्राथमिक पाठशाला की एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में स्कूल के छात्रों से शौचालय साफ कराया जा रहा है।

30 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls