जनलोकपाल के लिए अन्ना समर्थक बैठे अनशन पर

Mirzapur Updated Thu, 26 Jul 2012 12:00 PM IST
मिर्जापुर। दिल्ली के जंतर-मंतर पर बैठे टीम अन्ना के सदस्यों के समर्थन में जनपद मिर्जापुर बुधवार को एकजुट नजर आया। चील्ह तिराहे पर भ्रष्टाचारियों की जांच की मांग से पूरा जनपद गुलजार रहा तथा चील्ह तिराहे पर अन्ना समर्थक इंडिया अगेंस्ट करप्शन के कार्यकर्ता नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष अरुण कुमार दूबे के नेतृत्व में धरना व अनशन पर बैठे। चील्ह तिराहे पर पहले दिन पूर्व नगर पालिकाध्यक्ष अरुण कुमार दूबे, संगठन के सह प्रभारी डा. शक्ति श्रीवास्तव, सत्य प्रकाश यादव, रजत श्रीवास्तव, गुलाब यादव मंडेला और विनोद यादव अनशन पर बैठे।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पूर्व पालिकाध्यक्ष श्री दूबे ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को सबसे कमजोर प्रधानमंत्री बताया। कहा कि कांग्रेस सरकार अब तक 44 बार लोकपाल बिल टाल चुकी है। अन्ना के नेतृत्व में हम सब न थकेंगे और न हटेंगे। संगठन प्रभारी व शिक्षक नेता डा. रमा शंकर शुक्ल ने जनता को आत्म अवलोकन की सलाह दी। उन्होेंने कहा कि जब कोई भ्रष्ट चुनाव जीतता है तो यह उस क्षेत्र की जनता का भी चरित्र प्रकट करता है। उन्होंने बाबा रामदेव और अन्ना समर्थकों के बीच में फूट डालने वालों को जवाब देते हुए कहा कि दोनों का उद्देश्य राष्ट्र को बचाना और बढ़ाना है। वरिष्ठ अधिवक्ता बच्चन राम कुशवाहा ने भ्रष्टाचारियों द्वारा लूटे गए धन का विवरण प्रस्तुत किया। जिला पंचायत सदस्य संजय गहरवार और राजेंद्र सिंह यादव ने देश के नौजवानों से आंदोलन में कूदकर सरकार को जनलोकपाल बिल पास करने को बाध्य करने का आह्वान किया।
अनशन को वरिष्ठ अधिवक्ता जगत नारायण मिश्र, अशोक कुमार सिंह, निर्मला राय, केशवजी, शिवशंकर तिवारी, लक्ष्मी नारायण कुशवाहा, कृष्ण मुरारीलाल श्रीवास्तव, प्रकाश चंद सर्राफ, आयुष सिंह, राजेश सिन्हा, राजेश दूबे, डा. अनुप कसेरा, कैलाश नाथ सिंह, प्रसून पांडेय, अमित जायसवाल, स्नेही लाल विश्वकर्मा, अभय यादव, अनिल पांडेय, अरविंद कुमार दूबे, फूल चंद यादव, पियुष जायसवाल आदि ने भी संबोधित किया।
अन्ना आंदोलन को जिला मुख्यालय के वकीलों का भी समर्थन मिला। वकीलों ने बुधवार को कामकाज ठप रखा और हड़ताल पर रहे।डिस्ट्रिक्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष कृष्ण मोहन त्रिपाठी की अध्यक्षता में हुई बैठक में जनपद में टीम अन्ना द्वारा भ्रष्टाचार के विरोध में आमरण अनशन को समर्थन दिया गया। साथ ही अधिवक्ता न्यायिक कार्य से विरत रहे। इसी तरह जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष शिव शंकर तिवारी ने टीम अन्ना के समर्थन में कार्य का बहिष्कार किया और चील्ह तिराहे पर पहुंचकर आंदोलन को समर्थन दिया। उनके साथ शिव मोहन उपाध्याय, व्यासदेव दूबे आदि शामिल रहे। आंदोलन के समर्थन में राजस्व (चकबंदी) अधिवक्ता समिति की भी बैठक आयोजित की गई जिसमें अध्यक्ष राम निरंजन सिंह तथा उपाध्यक्ष जगत नारायण मिश्र द्वारा अधिवक्ताओं ने कार्य से विरत रहने का निर्णय लिया और हड़ताल पर रहे।

Spotlight

Most Read

Lucknow

ब्राइटलैंड स्कूल दो दिन के लिए बंद, छात्रा हुई जुवेनाइल कोर्ट में पेश

राजधानी के ब्राइटलैंड स्कूल में छात्र को चाकू मारने की घटना के बाद बच्चों में बसे खौफ को दूर करने के लिए स्कूल को दो दिनों के लिए बंद कर दिया है।

19 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: आपके बच्चों से स्कूल में ये काम तो नहीं कराया जाता?

मिर्जापुर के बंधवा में बने पूर्व प्राथमिक पाठशाला की एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में स्कूल के छात्रों से शौचालय साफ कराया जा रहा है।

30 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper