पुलिस ने पूर्व प्रमुख दिनेश सिंह को उठाया

Mirzapur Updated Wed, 09 May 2012 12:00 PM IST
राजगढ़। मडि़हान पुलिस ने राजगढ़ के पूर्व ब्लाक प्रमुख दिनेश कुमार सिंह को हिरासत में ले लिया है। राजगढ़ की वर्तमान ब्लाक प्रमुख कुदरी देवी ने उनके खिलाफ थाने में तहरीर दी थी। आरोप लगाया था कि पूर्व प्रमुख दिनेश सिंह ने नौ मई को ब्लाक प्रमुख के खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव के मद्देनजर बीडीसी सदस्यों के प्रमाणपत्रों को कब्जे में ले लिया है साथ ही कई सदस्यों को कब्जे में लेकर अज्ञात स्थान पर भेज दिया है। कई जगहों पर दबिश के बाद पुलिस ने पूर्व प्रमुख को उनके सक्तेशगढ़ स्थित आवास से हिरासत में ले लिया। पूर्व प्रमुख के समर्थन में बड़ी संख्या में वर्तमान व पूर्व प्रधान थाने पर जमा हो गए हैं।
राजगढ़ की ब्लाक प्रमुख श्रीमती कुदरी देवी के खिलाफ सदस्यों द्वारा लाए गए अविश्वास प्रस्ताव पर जिलाधिकारी ने मतदान के लिए नौ मई की तिथि मुकर्रर की है। इसके पहले ही पूरे क्षेत्र में भूचाल आ गया है और राजनीतिक सरगर्मी तेज हो गई है। सदस्यों को अपने पाले में करने के लिए दोनों पक्ष एड़ी चोटी का पसीना एक कर दिए हैं। वर्तमान ब्लाक प्रमुख श्रीमती कुदरी देवी ने पुलिस अधीक्षक से मिलकर व थाने में तहरीर देकर आरोप लगाया था कि पूर्व प्रमुख दिनेश कुमार सिंह बीडीसी सदस्यों को धमका रहे हैं और उनके प्रमाण पत्रों को कब्जे में ले लिया है ताकि वह मतदान न कर सकें। आरोप लगाया कि कई सदस्यों को भी अज्ञात स्थान पर भेज दिया गया है। तहरीर के आधार पर मंगलवार की सुबह से ही पुलिस पूर्व प्रमुख को पकड़ने के लिए संभावित स्थानों पर दबिश देने लगी थी। दोपहर बारह बजे उन्हें उनके सक्तेशगढ़ स्थित निवास से उठा लिया गया और थाने में बैठाया गया था। इसकी जानकारी होते ही बड़ी संख्या में वर्तमान व पूर्व प्रधान थाने पर जमा हो गए थे।
वर्तमान प्रमुख के आरोपों की जांच के लिए पुलिस ने कई बीडीसी सदस्यों के घर जाकर पता किया कि वह घर पर हैं या नहीं। धौरहां की बीडीसी के बच्चों ने बताया कि उनकी मां तीन दिनों से पूर्व प्रमुख दिनेश सिंह के साथ गई हैं तब से उसका कोई पता नहीं है। ज्ञात हो कि राजगढ़ ब्लाक प्रमुख पद अनुसूचित जाति महिला के लिए सुरक्षित है। प्रमुख पद के चुनाव में पूर्व प्रमुख दिनेश सिंह ने ही कुदरी देवी को मैदान में उतारा था और उसे ब्लाक प्रमुख बनवाने में मदद की थी। बाद में संबंध खराब हो जाने के कारण पूर्व प्रमुख ने वर्तमान प्रमुख के खिलाफ बीडीसी सदस्यों को एकजुट कर अविश्वास प्रस्ताव ला दिया है। जिसके लिए नौ मई को मतदान होना है। दिनेश सिंह और उनकी पत्नी लगातार दस वर्ष तक राजगढ़ के प्रमुख रह चुके हैं। उधर, हिरासत में लिए गए पूर्व प्रमुख दिनेश सिंह ने कहा कि सत्ता के इशारे पर उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। उन पर लगाए गए सारे आरोप निराधार हैं। उन्होंने किसी भी बीडीसी के प्रमाणपत्र को कब्जे में नहीं लिया है न ही किसी सदस्य को गायब कराया है। वर्तमान प्रमुख के खिलाफ स्वयं ही सारे सदस्य एकजुट हैं।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: आपके बच्चों से स्कूल में ये काम तो नहीं कराया जाता?

मिर्जापुर के बंधवा में बने पूर्व प्राथमिक पाठशाला की एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में स्कूल के छात्रों से शौचालय साफ कराया जा रहा है।

30 दिसंबर 2017