बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
बुध वृषभ राशि में हुए मार्गी, 7 जुलाई तक इन 4 राशि वालों के जीवन में आएंगी अपार खुशियां
Myjyotish

बुध वृषभ राशि में हुए मार्गी, 7 जुलाई तक इन 4 राशि वालों के जीवन में आएंगी अपार खुशियां

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

तस्वीरें: दो सगे भाइयों को पहनाई जूतों की माला, फिर गांव में घुमाया, जानें क्या है पूरा माजरा

बिजनौर के नगीना क्षेत्र के एक गांव में प्रेम-प्रसंग के मामले में युवक व उसके भाई को जूतों की माला पहनाकर घुमाया गया। इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई शुरू की।

पुलिस ने पीड़ित की तरफ से तीन आरोपियों के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किए जाने का दावा किया है। हालांकि पीड़ित द्वारा थाने में दर्ज कराए गए मुकदमे में प्रेम-प्रसंग का जिक्र नहीं किया गया है। वहीं ग्रामीणों का कहना है कि गांव में एक ही बिरादरी के युवक और युवती के बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था। वहीं मंगलवार को गांव के किसी व्यक्ति ने प्रेमी-प्रेमिका को एक साथ देखने का दावा किया। इसके बाद लोगों ने प्रेमी के गले में जूतों की माला डालकर गांव में घुमाने का निर्णय लिया। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि बुधवार को जब प्रेमी के गले में जूतों की माला डालकर घुमाया जा रहा था तो उसके बड़े भाई ने विरोध किया। इस दौरान लोगों ने उसके गले में भी जूतों की माला डाल दी।
... और पढ़ें

यूपी: बेखौफ बदमाशों ने 20 मिनट में दिया तीन बड़ी वारदातों को अंजाम, महिला सिपाही ने बयां किया दर्द

उत्तर प्रदेश के मेरठ शहर में बेखौफ बदमाशों ने एक ही रात में तीन वारदातों को अंजाम दिया। 20 मिनट के अंदर में महिला सिपाही, शिक्षिका व बैंक कर्मचारी से लूटपाट की। तीनों मामलों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन बदमाशों का कोई सुराग नहीं लगा सकी। वारदातों से लोगों में आक्रोश है।

बुधवार रात नौ बजे सिविल लाइन थाना क्षेत्र की रहने वाली शिक्षिका अंजलि स्कूटी से घर लौट रही थी। जीआईसी के सामने बेगमपुल की तरफ आ रहे बाइक सवार दो बदमाशों ने महिला के गले पर झपट्टा मारा और चेन लूट ली। महिला स्कूटी से गिरने से बाल-बाल बची। महिला की चीख पुकार सुनकर भीड़ लग गई। लालकुर्ती थाने की पुलिस भी मौके पर पहुंची और छानबीन करने लगी।

दूसरी घटना रात सवा नौ बजे हुई। जागृति विहार सेक्टर-5 निवासी अनिल रस्तोगी केनरा बैंक में कर्मचारी हैं। रात में खाना खाने के बाद वह घर के बाहर टहल रहे थे। इसी दौरान बाइक पर सवार दो बदमाश वहां पर पहुंचे और अनिल से मोबाइल लूट लिया। लोगों ने बदमाशों की घेराबंदी का प्रयास किया, लेकिन वह फरार हो गए।

तीसरी घटना 9:20 बजे की है। यह वारदात महिला सिपाही के साथ हुई। महिला थाने में तैनात महिला सिपाही संगीता फूल बाग कॉलोनी में गली नंबर-5 में रहती हैं। रात में वह डेयरी से दूध लेकर घर लौट रही थीं। घर से 10 कदम की दूरी पर बाइक सवार दो बदमाशों ने पीछे से महिला के झपट्टा मारकर गले से चेन छीन ली। छीनाझपटी में महिला सिपाही के हाथ से मोबाइल नीचे गिर गया। वह मोबाइल को उठाने लगी, तब तक बदमाश भाग गए। इस घटना की जानकारी लगने पर सीओ सिविल लाइन देवेश सिंह, इंस्पेक्टर नौचंदी पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। महिला सिपाही से बदमाशों का हुलिया पूछकर पुलिस वहां से लौट आई।

वारदात को छुपाने में लग जाती है पुलिस
बदमाशों को पकड़ने की जगह पुलिस लूट की वारदात को छुपाने में लग जाती है। 20 मिनट में शहर में तीन लूट की घटनाएं हो गईं। थानेदारों ने इन्हें छुपाने का प्रयास किया। स्थानीय लोगों ने इसका विरोध किया। लोगों का आरोप है कि पुलिस पीड़ितों को धमका रही है कि वह लूट नहीं, सामान गुम होने की तहरीर दें।
... और पढ़ें

नई पहल: कोरोना से बचाव का लगवाएं टीका, बाजारों में मिलेगी 20 प्रतिशत तक की छूट

कोरोना से बचाव का टीका लगवाने वालों को बाजारों में खरीदारी पर पांच से 20 प्रतिशत की छूट मिलेगी। रेस्टोरेंट में भोजन करने पर भी छूट दी जाएगी। मेरठ शहर के विभिन्न व्यापार संघों ने टीकाकरण अभियान में तेजी लाने के उद्देश्य से यह सुविधा दी है। शहर के ज्यादातर बाजारों में आज से यह स्कीम शुरू हो गई। दुकानों में छूट के बोर्ड भी लगाए गए हैं। व्यापारी हर स्तर पर लोगों को कोरोना से बचाव का संदेश दे रहे हैं।

कोविड की तीसरी लहर से कारोबार को बचाने के लिए व्यापारियों ने नई मुहिम की शुरुआत की है। आबूलेन, बेगमपुल, सदर, सेंट्रल मार्केट, दिल्ली रोड एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने इसकी पहल करते हुए अन्य व्यापारियों से सहयोग की अपील की है। सदर व्यापार मंडल के अध्यक्ष सुनील दुआ ने कहा कि दुकान में हर सामान के फिक्स रेट हैं। इस माह कोविड टीका लगवाकर आने वाले ग्राहकों को 10 प्रतिशत की विशेष छूट दी जाएगी।

बेगमपुल व्यापार संघ के संरक्षक मुकुल सिंघल ने कहा कि कोविड टीकाकरण को प्रेरित करने के लिए गुरुवार से ग्राहकों को पांच प्रतिशत की छूट दी जाएगी। मास्क और सैनिटाइजेशन भी अनिवार्य रूप से किया जा रहा है। रेस्टोरेंट एसोसिएशन के महामंत्री विपुल सिंघल ने कहा कि जुलाई के अंत तक टीकाकरण कराकर रेस्टोरेंट में आने वाले ग्राहकों को 20 प्रतिशत की छूट दी जाएगी। 

पेंट एसोसिएशन के संरक्षक राजीव किरन ने कहा कि वैक्सीन लगवाकर पेंट से संबंधित सामान खरीदने के लिए आने वालों को गिफ्ट दिया जाएगा। अन्य व्यापारियों से भी आग्रह किया गया है कि वह वैक्सीनेशन को प्रोत्साहित करें। शास्त्री नगर जागृति विहार संयुक्त व्यापार संघ के महामंत्री जितेंद्र अग्रवाल अट्टू ने कहा कि कैलाश डेरी शास्त्री नगर पर मिल्क प्रोडक्ट की खरीदने वाले ग्राहकों पर पांच प्रतिशत की छूट दी जाएगी।
... और पढ़ें

गाजीपुर बॉर्डर पर फिर बड़े आंदोलन की तैयारी: किसानों ने रातभर कराया टोल फ्री, बोले- पीछे नहीं हटेंगे

सहारनपुर और मुजफ्फरनगर से गाजीपुर बॉर्डर के लिए रवाना हुए हजारों किसानों ने गुरुवार देर रात मेरठ सिवाया टोल प्लाजा पर डेरा डाल लिया। वहीं आज सुबह किसानों ने चाय-पकौड़ी का नाश्ता किया। इसके बाद धीरे-धीरे गाजीपुर बॉर्डर के लिए रवाना होने शुरू हो गए। 

बता दें कि गुरुवार रात सिवाया टोल प्लाजा किसानों से गुलजार रहा। टोल प्लाजा के दोनों ओर किसानों का कब्जा रहा और पूरी रात टोल फ्री चला। किसानों के आने का सिलसिला देर रात तक चलता रहा, जिस कारण रात तीन बजे तक किसानों के लिए खाना बनाया गया। वहीं सुबह पांच बजे किसानों को नाश्ते के रूप में चाय पकौड़ी दी गई। रात भर किसानों ने जाग कर एक-दूसरे का उत्साह बढ़ाया व मनोरंजन किया। मेरठ से किसान गौरव टिकैत के नेतृत्व में गाजीपुर बॉर्डर के लिए रवाना हो रहे हैं। 

गौरव टिकैत व संजय दौरालिया का कहना है कि जब तक केंद्र सरकार तीनों कृषि कानूनों को वापस नहीं लेगी, किसान धरने पर डटे रहेंगे। किसान गाजीपुर बॉर्डर पर सरकार को अपनी ताकत का एहसास कराएंगे। किसान ट्रैक्टर पर तिरंगा लगाकर अपनी मांगों को लेकर गाजीपुर तक जाएंगे। धीरे-धीरे किसानों का कारवां दिल्ली की ओर बढ़ता जा रहा है।

सहारनपुर के नागल से गुरुवार को भाकियू के प्रदेश उपाध्यक्ष चौधरी विनय कुमार के नेतृत्व में किसानों ने ट्रेक्टर यात्रा शुरू की थी। नारेबाजी के साथ ट्रेक्टर-ट्रॉलियों में सवार किसान रवाना हुए। किसान यहां से मुजफ्फरनगर और मेरठ के रास्ते गाजीपुर बॉर्डर तक जाएंगे। इस दौरान पुलिस प्रशासन भी अलर्ट रहा और मौके पर पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया था।

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने कहा कि भाजपा सरकार किसान विरोधी है। सरकार की करनी और कथनी में अंतर आ गया है, यही कारण है कि सात माह से आंदोलनरत किसानों की बात सुनने के लिए सरकार तैयार नहीं है। ये बातें उन्होंने गुरुवार को यूनियन के मंडल उपाध्यक्ष चौधरी सुरेंद्र सिंह के नलहेडा गांव में स्थित आवास पर पत्रकारों से वार्ता के दौरान कही।

तीन कृषि कानून वापस लिए जाने की मांग एवं एमएसपी पर न्यूनतम मूल्य की खरीद गारंटी को लेकर पिछले काफी समय से गाजीपुर बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन में शामिल होने के लिए सहारनपुर, मुजफ्फरनगर और मेरठ से हजारों किसान रवाना हुए। भाकियू प्रदेश उपाध्यक्ष चौधरी विनय कुमार ने बताया कि सहारनपुर जिले से करीब 15 ट्रैक्टर-ट्रॉली रवाना हुई हैं। इसके साथ ही किसान अपने निजी वाहनों से भी गाजीपुर के लिए कूच कर रहे हैं। 

किसान आंदोलन को तेज करने की कवायद में भाकियू
पिछले करीब सात माह से गाजीपुर बॉर्डर पर जारी किसान आंदोलन में तेजी लाने के लिए भाकियू ने गुरुवार को किसान ट्रैक्टर यात्रा निकालने की घोषणा थी। कृषि कानूनों के विरोध में सात माह से गाजीपुर बॉर्डर पर चल रहे आंदोलन को गति देने के लिए भारतीय किसान यूनियन की ओर से सहारनपुर के नागल से शुरू हुई ट्रैक्टर यात्रा गुरुवार शाम को मुजफ्फरनगर के मंसूरपुर पहुंची। जहां पर युवा भाकियू नेता गौरव टिकैत और चरण सिंह टिकैत ने ट्रैक्टर यात्रा का स्वागत किया। 

यहां से जनपद के किसानों के ट्रैक्टरों का काफिला ट्रैक्टर यात्रा में शामिल होकर गाजीपुर बॉर्डर के लिए कूच कर गया। राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत अभी ट्रैक्टर यात्रा में शामिल नहीं हुए। वह दिल्ली जाते हुए यात्रा में शामिल होंगे। 

सहारनपुर और मुजफ्फरनगर से होते हुए शिवाया टोल प्लाजा पर पहुंची भारतीय किसान यूनियन की किसान यात्रा के पहुंचने से पहले ही पदाधिकारियों ने टोल प्लाजा को फ्री करा दिया। किसानों का आरोप था कि यहां पर प्रशासन ने पानी की कोई व्यवस्था नहीं की है। किसानों के लिए यहां कोई व्यवस्था नहीं की गई है, जिस कारण से किसान परेशान है।

धीरे-धीरे किसान शिवाय टोल प्लाजा पर आकर रुक रहे हैं। भगवती कॉलेज में किसानों के रुकने की व्यवस्था है और खाने की व्यवस्था की गई है। साथ ही टोल प्लाजा को किसानों ने फ्री कर रखा है और सात लाइनों पर किसानों का कब्जा है। एसडीएम सरधना अमित भारतीय भी मौके पर पहुंचे और किसानों को समझाने का काम किया लेकिन, वह नहीं माने।

रात में 10 बजे तक करीब 100 के आसपास ट्रैक्टर और 20 गाड़ियों से किसान पहुंच गए हैं। उधर, नरेश टिकैत ने टोल प्लाजा पर शाम के समय पहुंचकर कार्यकर्ताओं के साथ खाना खाया और वहां पर खाने की व्यवस्था को देखा। उन्होंने कहा किसान एकजुट होकर रहें और डटे रहें जब केंद्र सरकार पीछे नहीं हट रही तो किसान भी पीछे नहीं हटेंगे।

चौधरी नरेश टिकैत ने बताया कि यात्रा में हजारों किसान अपने ट्रैक्टरों के साथ शामिल होंगे। सभी ट्रैक्टर पूर्णतया अनुशासन में चलते हुए गंतव्य की ओर बढ़ेंगे, ताकि किसी भी मुसाफिर को परेशानी का सामना न करना पड़े। रास्ते में अलग-अलग पड़ाव पर उस क्षेत्र के किसान भी अपने ट्रैक्टर के साथ जुड़ते चले जाएंगे। उन्होंने यात्रा के दौरान अनुशासन तोड़ने वाले किसानों को बर्दाश्त नहीं करने की भी बात कही है। उधर, बुधवार के भाकियू के सभी पदाधिकारी ट्रैक्टर यात्रा की तैयारी में जुटे रहे।
... और पढ़ें
मेरठ में किसानों ने रातभर सिवाया टोल फ्री कराया। मेरठ में किसानों ने रातभर सिवाया टोल फ्री कराया।

बड़ा आंदोलन: ट्रैक्टर से टोल प्लाजा पर खूब हुए स्टंट, किसान रैली में कितना है दम, आप तस्वीरों में खुद देखें

सहारनपुर से गुरुवार को शुरू हुई किसान ट्रैक्टर रैली मुजफ्फरनगर होते हुए रात करीब दस बजे मेरठ के सिवाया टोल प्लाजा पर पहुंची। किसानों में सरकार के खिलाफ गुस्सा है और उन्होंने जमकर नारेबाजी की। यही नहीं उन्होंने रात में टोल प्लाजा पर ट्रैक्टर से खूब स्टंट किए। इस दौरान मेरठ-दिल्ली हाईवे पर एक एंबुलेंस भी फंस गई। किसी तरह एंबुलेंस को वहां से निकाला गया। 

तीन कृषि कानूनों के विरोध में सात माह से गाजीपुर बॉर्डर पर चल रहे आंदोलन को गति देने के लिए भारतीय किसान यूनियन की ओर से गुरुवार को सहारनपुर से ट्रैक्टर यात्रा शुरू हुई। सैंकड़ों ट्रैक्टरों के साथ किसान यात्रा में शामिल होकर दिल्ली के लिए कूच कर गए। ट्रैक्टर यात्रा गुरुवार रात को मेरठ के सिवाया टोल प्लाजा पर पहुंची, जहां से आज सुबह दिल्ली के लिए रवाना हो गई। वहीं ट्रैक्टर यात्रा को लेकर नेशनल हाईवे पर जाम की स्थिति रही। 

किसान ने ट्रैक्टर से किया स्टंट, अफरा-तफरी  
सिवाया टोल प्लाजा पर रात करीब 11 बजे एक किसान ने ट्रैक्टर से स्टंट करना शुरू कर दिया। 15 से 20 मिनट तक स्टंट करने के दौरान कई बार ट्रैक्टर पलटने से बचा। इससे जमीन पर सो रहे किसानों में अफरा-तफरी मच गई। उन्होंने किसान को स्टंट करने से रोकने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं माना। 
... और पढ़ें

किसान आंदोलन: मेरठ में टोल प्लाजा की आठ लाइनों पर किसानों का कब्जा, जमा हुए डेढ़ सौ से ज्यादा ट्रैक्टर, दिखाए स्टंट

तीनों कृषि कानून वापस लिए जाने की मांग एवं एमएसपी पर न्यूनतम मूल्य की खरीद गारंटी को लेकर पिछले काफी समय से गाजीपुर बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन में शामिल होने के लिए सहारनपुर, मुजफ्फरनगर और मेरठ से हजारों किसान रवाना हो चुके हैं। भाकियू प्रदेश उपाध्यक्ष चौधरी विनय कुमार ने बताया कि सहारनपुर जिले से करीब 15 ट्रैक्टर-ट्रॉली रवाना हुईं। इसके साथ ही किसान अपने निजी वाहनों से भी गाजीपुर के लिए कूच कर रहे हैं। 

सहारनपुर से शुरू होकर किसान यात्रा मुजफ्फरनगर से होते हुए मेरठ के शिवाय टोल प्लाजा पर पहुंची। यहां तकरीबन 150 ट्रैक्टरों के साथ भारी संख्या में किसान टोल प्लाजा पर मौजूद हैं। किसानों का कहना है कि जब तक केंद्र सरकार मांगे नहीं मान लेती वे पीछे नहीं हटेंगे। आगे तस्वीरों में देखें कैसे रात भर किसानों के कब्जे में रहा शिवाया टोल प्लाजा :-
... और पढ़ें

यूपी: कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही का भाकियू पर निशाना, राकेश टिकैत के बयान पर दिया करारा जबाव

प्रदेश के कृषि एवं जिला प्रभारी मंत्री सूर्यप्रताप शाही ने शुक्रवार को सहारनपुर में प्रेसवार्ता की। उन्होंने कहा कि भाजपा ने किसानों के हक में हर काम किया है। गेहूं और धान की रिकॉर्ड खरीद की गई है। गन्ना मूल्य भुगतान भी पूर्व की सरकारों के मुकाबले कई गुना ज्यादा किया है।

भाकियू की ट्रैक्टर यात्रा पर सूर्यप्रताप शाही ने कहा कि किसानों को बरगलाने वालों को यह देखना चाहिए कि भाजपा सरकार ने किसानों के हितों में कितने कार्य किए हैं और सपा, बसपा व कांग्रेस वालों के शासन में क्या हुआ था।

वहीं भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत के बयान को लेकर उन्होंने कहा कि भाजपा पश्चिम बंगाल में तीन सीटों से 92 तक पहुंच गई है। यदि ऐसा ही इलाज है तो हमारी पार्टी के लिए अच्छा है। क्योंकि पश्चिम बंगाल में भाजपा मजबूत हुई है। गौरतलब है कि राकेश टिकैत ने बयान देकर कहा कि सरकार के अहंकार की दवा किसानों के पास है, सरकार का इलाज पश्चिम बंगाल में किया है और आगे भी करेंगे।
... और पढ़ें

खौफनाक वारदात: चांद की हत्या का सनसनीखेज खुलासा, दबोचे गए आरोपी, कबूल किया जुर्म

सहारनपुर में प्रेसवार्ता के दौरान बोलते कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही।
उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में एक सनसनीखेज वारदात का खुलासा हुआ है। एक युवक की चाकू से गोदकर हत्या करने वाले दो आरोपियों को दबोच लिया है। फिलहाल पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है।
 
मुजफ्फरनगर के शहर कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत किदवई नगर निवासी युवक चांद (22) की दो युवकों ने चाकू से गोदकर हत्या कर दी। हत्या के पीछे उधार दिए गए रुपये वापस न देने का मामला बताया गया है। पुलिस ने हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर उनकी निशानदेही पर शव सुजड़ू के जंगल से शव बरामद किया है।

सीओ सिटी कुलदीप कुमार ने बताया कि 11 जून को चांद अचानक लापता हो गया था 13 जून को उसके पिता नूर हसन ने शहर कोतवाली पर उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई थी। जांच के दौरान पुलिस ने सुजड़ू निवासी वाजिद और आसिफ को गिरफ्तार कर उनसे पूछताछ की। दोनों ने चांद की चाकू से गोदकर हत्या कर शव जंगल में फेंकने की बात स्वीकार की। 

वहीं पुलिस ने उनकी निशानदेही पर शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। सीओ ने बताया कि वाजिद ने चांद को 43 हजार उधार दिए थे। वह वापस नहीं कर रहा था इसी कारण हत्या की है। पुलिस हत्यारोपियों से पूछताछ कर रही है।
... और पढ़ें

धर्मांतरण प्रकरण : मुजफ्फरनगर से युवतियों को लेकर हमीरपुर लौटी पुलिस, शादी के बाद भी युवकों से चल रहा था दोनों का प्रेम-प्रसंग

मुजफ्फरनगर के खतौली में दो युवतियां का धर्मांतरण कराकर उनसे निकाह करने के मामले में हमीरपुर पुलिस बुधवार देर रात कस्बे में पहुंची। बृहस्पतिवार सुबह दोनों युवतियों को लेकर पुलिस टीम हमीरपुर रवाना हो गई। पुलिस पूछताछ में पता चला कि दोनों युवतियां सहेली हैं। उनके शादी से पहले ही दूसरे वर्ग के दोनों युवकों से संबंध होने की बात सामने आई है। दोनों युवतियों के संबंध उनकी शादी के बाद भी जारी रहे। आखिरकार दोनों अपने पति छोड़ प्रेमियों संग खतौली आ गईं।

कस्बे के मोहल्ला श्यामपुरी व नई आबादी निवासी वसीम व रहमान पठान के घरों से पुलिस ने दूसरे वर्ग के दो युवतियों को बरामद किया था। मामले में भाजपा कार्यकर्ताओं ने थाने पर हंगामा भी किया था। खतौली पुलिस की सूचना पर बुधवार देर रात हमीरपुर के राठ थाने से एसआई दारा सिंह, अशोक व सिरेंद्र सिंह के साथ ही महिला कांस्टेबल व एक महिला के भाई को लेकर खतौली थाने पहुंचीं।

पूछताछ में पता चला कि बरामद दोनों युवतियां एक-दूसरे के साथ एक ही कक्षा में पढ़ने वाली सहेलियां हैं। इनमें से एक युवती के पिता हमीरपुर में मुसाफिरों के ठहरने की धर्मशाला चलाते हैं। खतौली निवासी दोनों युवक अक्सर कपड़े की फेरी लगाने हमीरपुर जाते और उक्त धर्मशाला में ही रुकते थे।
... और पढ़ें

सहारनपुर देवबंद कोतवाली में तैनात सिपाही ने सर्विस रिवॉल्वर से गोली मारकर की आत्महत्या 

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में गुरुवार को देवबंद कोतवाली की भायला चौकी पर तैनात सिपाही धीरज कुमार ने अपनी सर्विस रिवाल्वर से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और सिपाही मामले की जांच पड़ताल की। हालांकि अभी सिपाही द्वारा आत्महत्या किए जाने के कारणों का पता नहीं चल सका है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

जानकारी के अनुसार सिपाही धीरज कुमार पुत्र धर्मपाल सिंह बागपत के छपरौली थाना क्षेत्र के बदरखा गांव का रहने वाला था। धीरज कुमार 2011 में पुलिस में भर्ती हुआ था और 19 जनवरी 2021 से देवबंद कोतवाली की भायला चौकी पर तैनात था।  इन दिनों वह देवबंद के विवेक विहार कॉलोनी में अपनी पत्नी और 5 साल की बेटी के साथ रह रहा था।

गुरुवार को सिपाही धीरज कुमार ने अपनी सर्विस रिवाल्वर से खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। सिपाही ने आत्महत्या क्यों की है इसका कारण अभी स्पष्ट नहीं हो सका है। सीओ देवबंद रजनीश उपाध्याय का कहना है कि आत्महत्या के कारण का पता किया जा रहा है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है, पत्नी से भी पूछताछ की जा रही है। वहीं सिपाही की मौत की खबर सुनकर परिजनों में कोहराम मच गया। परिजन सहारनापुर के लिए रवाना हो गए। 
... और पढ़ें

मेरठ : शौहर ने दिया तीन तलाक, ससुर ने महिला कांस्टेबल के साथ किया दुष्कर्म, सात नामजद

मेरठ में महिला सिपाही से लूट का मामला ठंडा भी नहीं हुआ, अब एक महिला सिपाही से दुष्कर्म की वारदात सामने आई है। महिला सिपाही का आरोप है कि पति ने उसे तीन तलाक दे दिया। आरोप है कि ससुर ने दुष्कर्म किया। आरोपी उसे जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। पीड़िता का पति यूपी और ससुर पीएसी में सिपाही है। पीड़िता की तहरीर पर पति, ससुर, जेठ, सास समेत सात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। 

मेरठ शहर के एक थाने में तैनात महिला कांस्टेबल की शादी 2018 में यूपी पुलिस के सिपाही आबिद के साथ हुई। महिला का आरोप है कि शादी के बाद से ही दहेज के लिए उसका उत्पीड़न किया जा रहा है। कई बार उसके साथ मारपीट की गई। आरोप है कि बुधवार रात 11 बजे घर में पुत्रवधू को अकेला देख ससुर नजीर अहमद ने दुष्कर्म किया और जान से मारने की धमकी दी। 

पीड़िता ने मेरठ पुलिस लाइन में तैनात पति आबिद को आपबीती बताई, लेकिन उसने भी मारपीट की और धमकी दी। आरोप है कि पति ने तीन तलाक भी दे दिया। इससे पहले जेठ ने भी अश्लील हरकत करते हुए उसके कपड़े फाड़ दिए थे।

महिला सिपाही ने उच्चाधिकारियों को जानकारी दी। कोतवाली थाने में ससुर, पति समेत सात लोगों के खिलाफ दुष्कर्म, मारपीट, जान से मारने की धमकी, दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आरोपी ससुर गाजियाबाद में तैनात है।

आरोप सही मिले तो होगी विभागीय कार्रवाई
पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी। आरोपी पिता-पुत्र का रिकॉर्ड गाजियाबाद से लिया जा रहा है। अगर मामला जांच में सच पाया गया तो पिता-पुत्र के खिलाफ विभागीय कार्रवाई भी होगी।

सीओ को निगरानी की जिम्मेदारी
महिला सिपाही की तहरीर पर पति सिपाही और ससुर के खिलाफ कोतवाली थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया। नामजद पिता-पुत्र को पहले नोटिस,  बयान दर्ज और फिर पुलिस कार्रवाई करेगी। सीओ कोतवाली इस मुकदमे की मॉनिटरिंग भी करेंगे।  - विनीत भटनागर, एसपी सिटी
... और पढ़ें

बड़ी उपलब्धि : सीबीएसई की कक्षा सात की किताब में जोड़ा गया मेरठ की ईहा दीक्षित का चैप्टर, पर्यावरण बचाने का देंगी संदेश

मेरठ के जागृति विहार निवासी ईहा दीक्षित ने नई उपलब्धि हासिल की है। ईहा के पर्यावरण प्रेम को सीबीएसई की कक्षा सात की पाठ्य पुस्तक का हिस्सा बनाया गया है। लगातार 162 सप्ताह से पौधारोपण करके पर्यावरण संरक्षण के कार्य में जुटी आठ वर्षीय ईहा की इस उपलब्धि पर परिजनों ने खुशी जताई है। 

बीबीसी द्वारा सीबीएसई छात्रों के लिए अंगेजी विषय में काॅम्पेक्टा सीरीज का प्रकाशन किया जाता है। कक्षा सात की इसी काॅम्पेक्टा पुस्तक में बतौर एसाइनमेंट ईहा दीक्षित के पर्यावरण कार्यों का उल्लेख किया गया है। पुस्तक के क्लासरूम एसाइनमेंट संख्या 6 में ईहा दीक्षित के पौधारोपण कार्यों की शुरूआत और चुनौतियों का वर्णन 'द लिटिल ग्रीन वाॅरियर' नाम से दिया गया है।

दो पेज के इस अध्याय में ईहा के द्व़ारा पर्यावरण की दिशा में संचालित उसके “ग्रीन ईहा स्माइल क्लब” का भी वर्णन किया गया है। ईहा सेंट फ्रांसिस स्कूल में कक्षा चार की छात्रा है। ईहा के द्वारा पर्यावरण की दिशा में किए जा रहे कार्यों के कारण ही उसे सबसे कम उम्र में देश का सर्वोच्च बाल पुरस्कार प्रधानमंत्री बाल पुरस्कार भी प्रदान किया गया था।
... और पढ़ें

यूपी: आत्मनिर्भर बनने के लिए लिया था ऋण, किसान अब नहीं दे पा रहे किस्त, एनपीए घोषित हुए नौ हजार खाते

कोरोना काल में रेहड़ी और फड़ वालों की मदद के लिए सरकार ने उनके खातों में दस-दस हजार रुपये का ऋण दिलाया, लेकिन ये खाते अब एनपीए (नॉन परफॉर्मिंग एसेट) हो गए हैं। फड़ व रेहड़ी वाले बैंकों को ऋण की किस्त समय पर नहीं जमा कर रहे हैं। बिजनौर जिले में ऋण लेने वाले नौ हजार खातों में से करीब 40 प्रतिशत खाते एनपीए हो गए हैं। अब सरकार इन लोगों को 20-20 हजार का ऋण देने की योजना बना रही है। जो लोग समय से किस्त जमा करेंगे वे ही इस ऋण का फायदा ले पाएंगे। 

पिछले साल कोरोना के समय जनता के काम-धंधे बहुत प्रभावित हुए थे। तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आर्थिक मदद के लिए आत्मनिर्भर भारत योजना शुरू की थी। इसमें हर वर्ग के लिए अलग योजना का संचालन किया गया था। शहरों में सड़क किनारे फड़ व रेहड़ी लगाने वालों के लिए भी प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना चलाई थी। योजना में नगर पालिका में पंजीकृत फड़ व रेहड़ी वालों के काम को बढ़ाने के लिए दस-दस हजार रुपये का ऋण दिलाया था।

इस ऋण पर सात प्रतिशत ब्याज की सब्सिडी भी थी। जिले में नौ हजार से अधिक फड़ व रेहड़ी वालों को इस योजना का लाभ मिल चुका है। इनके खातों में दस-दस हजार रुपये जमा किए गए। इस ऋण को जमा करने के लिए हर महीने 975 रुपये की किस्त निर्धारित की गई। लेकिन अधिकतर रेहड़ी व फड़ वालों ने यह रकम बैंकों में जमा ही नहीं की और इनके खाते एनपीए हो गए।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us