विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
एक माह तक वृंदावन बिहारी जी मंदिर में कराएं चन्दन तुलसी इत्र सेवा , मिलेगा नौकरी व व्यापार से जुड़े समस्याओं का समाधान
Puja

एक माह तक वृंदावन बिहारी जी मंदिर में कराएं चन्दन तुलसी इत्र सेवा , मिलेगा नौकरी व व्यापार से जुड़े समस्याओं का समाधान

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

मुजफ्फरनगर में प्रवासी श्रमिकों सहित 6 कोरोना संक्रमित मिले, पश्चिमी यूपी में खौफ के बीच हुई ईद की खरीदारी

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कोरोना को खतरा टलता नहीं दिख रहा है। रविवार को शामली बिजनौर व सहारनपुर जिलों में नया मरीज सामने आने से थोड़ी राहत जरूर मिली है लेकिन मुजफ्फरनगर में छह नए कोरोना पाॅजिटिव मिलने से स्वास्थ्य विभाग की टेंशन फिर से बढ़ गई है। वहीं कल ईद को लेकर पुलिस प्रशासन ने कमर कस ली है। पुलिस लोगों से घरों में रहकर ही नमाज अदा करने की अपील कर रही है। पढ़ें वेस्ट में किस जिले में कैसा है माहौल

मुजफ्फरनगर जिले में आज छह नए कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इनमें तमिलनाडू से आए पांच प्रवासी श्रमिक हैं, जबकि एक 83 वर्षीया महिला है। डीएम सेल्वा कुमारी जे ने जानकारी दी कि श्रमिकों को किसान इंटर कॉलेज ककरौली में क्वारंटीन किया गया था।

कोरोना पॉजिटिव पाई गई महिला शहर के रामपुरम की निवासी है। परिजन उसे जिला अस्पताल में डायलिसिस के लिए लेकर आए थे। जांच में उसके कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हुई। जिले में अब तक 46 पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं। इनमें 22 सक्रिय हैं जबकि 24 ठीक हो चुके हैं।
... और पढ़ें

लविश हत्याकांड के मुख्य आरोपी सौरभ उर्फ गोटी ने अस्पताल में इलाज के दौरान तोड़ा दम

लखनऊ में हुए लविश हत्याकांड के मुख्य आरोपी सौरभ उर्फ गोटी की मेरठ मेडिकल में रविवार शाम उपचार के दौरान मौत हो गई। वह एक दिन पूर्व बुढ़ाना क्षेत्र के गांव मिंडकाली में हुई प्रशांत की हत्या के दौरान गोली लगने से घायल हुआ था। 

लखनऊ के मोहनलाल गंज स्थित फॉर्म हाउस पर गत 16 मई को लविश निवासी वाजिदपुर (बागपत) की हत्या कर दी गई थी। लविश के भाई प्रशांत ने सौरभ उर्फ गोटी निवासी गांव इटावा (मुजफ्फरनगर) व अनिल उर्फ धनपत निवासी ककड़ीपुर (बागपत) के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। 

शनिवार तड़के गांव मिंडकाली के जंगल में प्रशांत की लाश मिली थी और पास ही हत्यारोपी सौरभ उर्फ गोटी भी घायल मिला था। इंस्पेक्टर केपी सिंह ने बताया कि सौरभ को पांच गोलियां लगीं थीं। रविवार दोपहर मेरठ के अस्पताल में ऑपरेशन हुआ, शाम को उसकी मौत हो गई। 

प्रशांत की हत्या में भी सौरभ उर्फ गोटी व अनिल आरोपी बनाए गए थे। एसपी देहात नेपाल सिंह ने बताया कि फरार आरोपी अनिल उर्फ धनपत की धरपकड़ का प्रयास चल रहा है।
... और पढ़ें

असम से प्रवासी श्रमिकों को लेकर मेरठ पहुंची स्पेशल ट्रेन, थर्मल स्क्रीनिंग के बाद मजदूरों को घरों के लिए भेजा

Eid: 500 साल में पहली बार बेहट ईदगाह में नहीं पढ़ी गई ईद की नमाज, घर में रहकर मांगी वैश्विक महामारी के खात्मे की दुआ

सहारनपुर में ईद के दौरान ड्रोन से ली गई तस्वीर सहारनपुर में ईद के दौरान ड्रोन से ली गई तस्वीर

कोरोना मीटर: बिजनौर में तीन नए पाॅजिटिव मिले, मेरठ में कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 118 पहुंची

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कोरोना के मरीजों के ठीक होने का आंकड़ा तेजी से बढ़ा है वहीं लगातार मिल रहे नए मामलों में स्वास्थ्य विभाग की टेंशन बढ़ा रखी है। बिजनौर जनपद में आज तीन नए पाॅजिटिव मरीज मिले हैं। इनमें से दो महाराष्ट्र और एक मुंबई से लौटा था। उधर मेरठ में रविवार रात तक कुल मरीजों की संख्या 377 हो गई है। आगे विस्तार से जानें कहां कितना है कोरोना का कहर:-

कोराना संक्रमण के रविवार को मेरठ में 4 नए मरीज मिले हैं वहीं 24 घंटे में सबसे अधिक 40 मरीज शनिवार रात और रविवार को डिस्चार्ज किए गए। सीएमओ डॉक्टर राजकुमार के अनुसार नए मरीजों में 17 साल का किशोर जली कोठी का है, जो 18 मई को खैर नगर निवासी मरीज के संपर्क में आया था। 31 साल का एक युवक और 22 साल की युवती खैर नगर क्षेत्र से हैं, जो 16 मई को आशा कार्यकर्ता के संपर्क में आए थे।

18 साल का युवक अतराड़ा खरखौदा से है। वहीं, रविवार को स्वास्थ्य केंद्र से 12, मुलायम सिंह यादव मेडिकल कॉलेज से 24 और मेडिकल कॉलेज से दस कोरोना संक्रमितों को ठीक होने के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया। इनमें वाहिनी के 4 जवान भी शामिल थे। डीएम ने बताया कि मेरठ में 377 में 233 मरीज को दे चुके हैं। 22 की मौत हो चुकी है। अब कुल 118 हैं। 
... और पढ़ें

मेरठ के लिसाड़ी गेट में नमाज पढ़ने को लेकर दो पक्षों के बीच पथराव, आधा दर्जन घायल, चार हिरासत में

मेरठ में ईद के मौके पर लॉकडाउन के दौरान जहां सड़कों पर पुलिस मुस्तैद थी। वहीं, लिसाड़ी गेट क्षेत्र में नमाज पढ़ने को लेकर हुए विवाद में दो पक्षों के बीच जमकर पथराव हुआ। इस दौरान महिलाओं सहित आधा दर्जन लोग घायल हो गए। पुलिस ने दोनों पक्षों के चार लोगों को हिरासत में लिया है।

सोमवार लिसाड़ीगेट थाना क्षेत्र के लक्खीपुरा गली नंबर 26 में रियाज का परिवार रहता है। रियाज का कहना है कि आज वह अपने परिवार के सदस्यों के साथ घर में नमाज पढ़ने की तैयारी कर रहा था। आरोप है कि इसी दौरान मोहल्ले के रहने वाले दानिश, सलीम, शकील, दीनू, कल्लू और आशु जबरन उसके घर में दाखिल हो गए।

आरोपी रियाज के घर में ही नमाज पढ़ने की ज़िद करने लगे। रियाज का आरोप है कि उसके विरोध करने पर आरोपियों ने उसके परिवार के सदस्यों के साथ मारपीट करते हुए उसके घर पर पथराव शुरू कर दिया। जिसके बाद दोनों पक्षों के लोग आमने-सामने आ गए और उनके बीच जमकर लाठी-डंडे चले और पथराव हुआ।

घटना के चलते क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई। पथराव में रियाज और उसकी पुत्री गुलिस्तां, शबनम और परिवार की अन्य महिलाएं दानिश्ता और अंजुम आदि घायल हो गए। घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने लाठियां फटकारते हुए रियाज और दूसरे पक्ष के निजाम, जुनैद व अनस आदि को हिरासत में ले लिया।

पिल्लोखड़ी चौकी इंचार्ज अजय शर्मा ने बताया कि सभी आरोपियों के खिलाफ लॉकडाउन के उल्लंघन का मामला दर्ज किया जा रहा है।
... और पढ़ें

ईद मुबारक: कड़ी निगरानी व संपूर्ण लाॅकडाउन के बीच घर में अदा हुई ईद की नमाज, मेरठ में एक लाख लीटर दूध से बनी शीर

आज सोमवार को संपूर्ण लॉक डाउन के बीच मेरठ में ईद का त्योहार मनाया जा रहा है। कोरोना के चलते पुलिस प्रशासन ने ईद पर कोई भी राहत देने से इंकार किया है। जनपद को पांच सुपर जॉन और 15 सेक्टरों में बांटा गया है।

एसएसपी अजय साहनी के अनुसार ईद पर कड़ा पहरा लगाया गया है। संवेदनशील इलाकों में पीएसी और आरएएफ का पहरा है। पुलिस ने रात में ही मुस्लिम बाहुल्य इलाकों में लोगों से अपील की कि कोई व्यक्ति घर से नहीं निकलेगा। सभी घर पर रहकर ही ईद मनाए और नमाज अदा करें। कोरोना से लड़ने के लिए आपका घर पर रहना अति आवश्यक है। 

शहर काजी समेत अन्य जिम्मेदार लोगों ने पुलिस प्रशासन को भरोसा दिया है कि लोग घर पर ही ईद मनाएंगे। सभी लोगों से बात हो चुकी है। वहीं आज संपूर्ण लॉकडाउन के चलते बाजार नहीं खुलेंगे। केवल दवा और दूध की दुकानें खुलेंगी। 

सोमवार सुबह ईद के मौके पर शहरकाजी ने चार लोगों के साथ शाही जामा मस्जिद में  सोशल डिस्टेंस के साथ ईद की नमाज अदा करते हुए कोरोना महामारी से लोगों की सुरक्षा और देश की तरक्की की दुआ की।
... और पढ़ें

यूपी के इस जिले में समाजसेवी रवि ने पेश की सांप्रदायिक सौहार्द की मिसाल, रमजान में पढ़ा कुरान

Eid amid Lockdown Meerut
उत्तर प्रदेश के बिजनौर में कोराना महामारी और लाॅकडाउन के बीच समाजसेवी एवं कारोबारी रवि कपूर ने सांप्रदायिक सौहार्द की अनोखी मिसाल पेश की है। उन्होंने इस साल रमजान के दौरान कुरान पढ़कर सर्वधर्म संभाव का संदेश दिया है।

नजीबाबाद निवासी समाजसेवी एवं कारोबारी रवि कपूर करीब एक दशक से प्रत्येक रमजान में कुरान पढ़कर सर्वधर्म संभाव की मिसाल पेश करते आए हैं। पिछले वर्षो में मुकद्दस रमजान माह के दौरान रवि चार पांच बार कुरान पढ़ा करते थे। 

कोरोना महामारी के दौर में आए रमजान में रवि कपूर ने अपने धर्म की पूजा अर्चना के साथ ही कुरान शरीफ को भी दिल से पढ़ा। रवि कपूर कहते हैं कि 30वें रमजान को उन्होंने 11 बार कुरान म़ुकम्मल किया है।
... और पढ़ें

बुंदेलखंड पहुंचा टिड्डी दल, मेरठ में अलर्ट जारी, किसान कंट्रोल रूम में करें शिकायत, ये हैं बचाव के उपाय

राजस्थान और मध्य प्रदेश में फसलों को भारी नुकसान पहुंचाने के बाद पाकिस्तानी टिड्डी दल ने उत्तर प्रदेश में भी दस्तक दे दी है। इसे देखते हुए डीएम अनिल ढींगरा ने रविवार को अलर्ट जारी कर किसानों को चौकन्ना रहने की सलाह दी है।

डीएम ने बताया कि टिड्डी दल के राजस्थान और मध्य प्रदेश के रास्ते होते हुए झांसी, ललितपुर, जालौन आदि जनपदों में पहुंचने की सूचना मिली है। जिससे सीमावर्ती जिले आगरा एवं मथुरा में टिड्डी दल के आने की संभावना बढ़ गई है।

आने वाले दिनों में मेरठ जनपद में भी टिड्डी दल आने का खतरा बढ़ गया है। इसे देखते हुए जिला, ब्लॉक और ग्राम पंचायत स्तर पर आपदा राहत दल का गठन किया गया है। ये सभी टीम उनके पर्यवेक्षण में कार्य करेंगी।

विशेषज्ञों के अनुसार टिड्डी कीट का आकार 2 से 2.5 इंच का होता है। यह 15 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से एक दिन में 150 किलोमीटर तक उड़ने की क्षमता रखता है। यह लाखों करोड़ों की संख्या में झुंड के रूप में 3 से 5 किलोमीटर में एक साथ उड़ते हैं।

ये जहां से गुजरते हैं वहां बादल की तरह अंधेरा छा जाता है और लगभग 15 वर्ग किलोमीटर क्षेत्रफल में फैल जाता है। टिड्डी अपने वजन से अधिक भोजन खाती है। हरी पत्तियां एवं उस पर लगे फूल, फसल के बीज आदि टिड्डी के पसंदीदा हैं।
... और पढ़ें

ईद पर पहली बार गले मिलने से कतराए लोग, सूनी रहीं ईदगाह-मस्जिदें, बदला बधाई देने का सलीका

बिजनौर: डीएफओ पर रेंजर ने लगाया रिश्वतखोरी का आरोप, परिजनों के खातों की दी डिटेल

बिजनौर। डीएफओ एम सेम्मारन पर बिजनौर रेंज के रेंजर ने कर्मचारियों पर दबाव बनाकर फर्जी बिल बनाने व मानसिक उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है। वन संरक्षक मुरादाबाद से की शिकायत में रेंजर ने यह भी आरोप लगाया है कि डीएफओ ने 2600 किमी दूर अपने गृहराज्य तमिलनाडु से पौध मंगवाई और मोटा कमीशन लिया जबकि इसकी पौध जिले में भी मिलती है।

रेंजर ने डीएफओ के परिजनों के बैंक खाते की डिटेल देते हुए आरोप लगाया कि लकड़ी ठेकेदारों व अन्य लोगों से डीएफओ ने परिचितों के खातों में रुपये ट्रांसफर कराए हैं। डीएफओ ने रेंजर के आरोप गलत बताते हुए उनके खिलाफ कई मामलों में चार्जशीट लगाए जाने की बात कही है।

रेंजर शरद गुप्ता ने वन संरक्षक को की शिकायत में बताया कि डीएफओ अधीनस्थ कर्मचारियों को दबाव में डालकर फर्जी बिल बनवाते हैं। ऐसा नहीं करने पर उनके खिलाफ चार्जशीट बनाने या निलंबित करने की धमकी दी जाती है। उन्होंने कहा कि इसकी जांच होनी चाहिए कि डीएफओ ने अपने कार्यकाल में कितने कर्मचारियों को किस वजह से निलंबित किया और फिर किस आधार पर बहाल किया। आरोप लगाया कि डीएफओ द्वारा अपने चहेते ठेकेदारों से काम कराया जाता है और इसका विज्ञापन भी नहीं निकाला जाता।

नियमानुसार पौधारोपण के लिए मनरेगा श्रमिकों से गड्ढ़े खुदवाने का प्रावधान है ताकि मजदूरों को रोजगार मिले। आरोप लगाया कि डीएफओ द्वारा ट्रैक्टर व मशीन से गड्ढ़े खुदवा जाते हैं। डीएफओ ने बिजनौर रेंज की पौधों की नर्सरी में कमरे का बिल बनाया गया है और इसकी लागत तीन लाख रुपये दर्शाई है जबकि कोई निर्माण नहीं हुआ।

आरोप लगाया कि सोलर पंप भी बिना लगवाए ही सात लाख रुपये का बिल बनवा लिया। आरोप लगाया कि डीएफओ ने 2600 किमी दूर अपने गृह राज्य तमिलनाडु से दो लाख रुपये के सागौन के पौधे मंगवाए जबकि ये पौधे बिजनौर की नर्सरियों में भी मिलते हैं।

रेंजर ने आरोप लगाया कि डीएफओ वन विभाग के ठेकेदारों से मोटा कमीशन लेते हैं और अपने परिचितों के बैंक खातों में जमा करते हैं। डीएफओ खुलेआम कहते हैं कि उनके ऊपर तक संबंध हैं और उनका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता है। रेंजर ने कहा कि उनका भी छह माह से वेतन नहीं दिया गया है। जबकि वन संरक्षक कार्यालय से भी उनका वेतन पास किया जा चुका है। उन्होंने डीएफओ के खिलाफ विभागीय जांच कराने की मांग की है।

उधर डीएफओ डा.एम सेम्मारन ने सभी आरोपों को गलत बताते हुए कहा कि रेंजर ने नीलगाय का शिकार करने वाले एक व्यक्ति को रिश्वत लेकर छोड़ दिया। उन्होंने नर्सरी में 1.3 लाख पौधे तैयार नहीं कराए। वे पैसे लेकर पलेज की खेती कराते हैं। उनके खिलाफ चार्जशीट तैयार की गई है। रेंजर शरद गुप्ता अपने खिलाफ कई मामले होने के कारण ड्यूटी पर नहीं आ रहे हैं। कोई बिना सूचना दिए छुट्टी जाएगा तो उसे वेतन कैसे दिया जाएगा।
... और पढ़ें

सहारनपुर: ईद के दिन पति ने पत्नी से की मारपीट, बचाव में आई मां और भाईयों को किया घायल

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में ईद के दिन एक पति ने अपने परिजनों के साथ मायके में रही पत्नी की पिटाई कर डाली। इतना ही नहीं बचाव में आई उसकी मां और भाईयों को भी नहीं बख्शा। घायलों का सीएचसी में उपचार कराया गया। पीड़िता ने कोतवाली में तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है।

नगर के मुहल्ला गुलाम ओलिया निवासी 22 वर्षीय गुलाबसा ईद के दिन घायल अवस्था में कोतवाली पहुंची। जहां उसने तहरीर देकर बताया कि उसकी शादी करीब दो साल पूर्व मुहल्ले में ही एक युवक से हुई थी। उसके एक छोटा बच्चा है।

पांच दिन पूर्व उसने अपने पति से ईद के लिए खर्च की मांग की, तो उसने मारपीट कर उसे बच्चे सहित घर से निकाल दिया। इसके बाद वह अपने मायके चली गई।

आरोप है कि ईद के दिन सोमवार की सुबह उसका पति अपने परिजनों के साथ उसके घर पहुंचा और पत्नी के साथ मारपीट कर डाली। बचाव में आई उसकी मां फिरदौस, उसके भाई मुर्तजा, आस मोहम्मद घायल हो गए।

पुलिस ने महिला का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र उपचार कराया। कोतवाली प्रभारी भगवत सिंह का कहना है कि पति-पत्नी का आपस का झगड़ा है। मामले की जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

यूपी: ईद के दिन खूनी संघर्ष, चचेरे भाईयों में चली गोलियां, चार महिलाओं सहित 11 घायल, पुलिस ने लाठी फटकार दौड़ाया

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में ईद के दिन ट्रैक्टर की छतरी मांगने को लेकर ईद के दिन एक ही परिवार के दो पक्षों में खूनी संघर्ष हो गया। जमकर लाठी-डंडे चले और फायरिंग तक हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने झगड़ा कर रहे दोनों पक्षों के लोगों को लाठियां फटकार कर दौड़ाया। संघर्ष में चार महिलाओं सहित 11 लोग घायल हो गए। घायलों को सीएचसी गंगोह में भरती कराया गया।

गंगोह कोतवाली क्षेत्र के गांव बेगी रुस्तम का साबिर अपने ट्रैक्टर को लेकर कहीं जा रहा था। इसी दौरान उसके चचेरे भाई आबिद ने उससे अपने ट्रैक्टर की छतरी मांगी तो साबिर ने भी अपने ट्रैक्टर का उसे दिया हुआ बंपर वापस मांगा। इसी बात को लेकर दोनों भाईयों में बहस हो गई जो देखते ही देखते खूनी संघर्ष में बदल गई।

लाठी-डंडे धारदार हथियार चलने लगे और दोनों पक्षों में फायरिंग हो गई। फायरिंग होते ही अफरा-तफरी मच गई। इसी दौरान एक तमाशबीन किशोर 17 वर्षीय जकरिया पुत्र शाहदीन को गोली लग गई जिससे वहां भगदड़ मच गई।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us