कम कीमत देने पर किसानों का अड़ंगा

Meerut Updated Thu, 08 May 2014 05:30 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
मेरठ। दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस हाईवे के लिए भूमि अधिग्रहण पर किसानों के दिए जाने वाले प्रतिकर को लेकर विरोध शुरू हो गया है। बुधवार को नरहेड़ा के करीब 150 किसानों ने अपर जिलाधिकारी भूमि अध्यापित के कोर्ट में आपत्तियां दर्ज कराईं। इस दौरान किसानों ने कहा कि अंतिम दम तक संघर्ष करेंगे, लेकिन कम दामों पर जमीन नहीं देंगे।
विज्ञापन

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस हाईवे के लिए जमीन का अधिग्रहण होना है। इसमें मेरठ के भी एक दर्जन गांवों के किसानों की करीब 115 हेक्टेयर जमीन शामिल है। अधिग्रहण के लिए करीब 600 रुपये प्रति वर्ग मीटर की दर निर्धारित की गई है। प्रशासन ने इसके लिए नोटीफिकेशन भी जारी कर दिया है। इसे समाचार पत्रों में प्रकाशित कराने के साथ वेबसाइट पर भी अपलोड कर किसानों से आपत्तियां मांगी गईं हैं।
बुधवार को नरहेड़ा गांव के सैकड़ों किसानों ने शाहिद सिद्दीकी के नेतृत्व में अपर जिलाधिकारी भूमि अध्यापित डीपी श्रीवास्तव के कोर्ट में आपत्तियां दर्ज कराईं। नरहेड़ा गांव की 12.8733 हेक्टेयर जमीन अधिग्रहित होनी है। प्रभावित हो रहे किसानों ने स्पष्ट कर दिया कि वह सरकार द्वारा तय किए गए दामों पर किसी कीमत पर जमीन नहीं देंगे। उन्होंने एक स्वर में कहा कि यदि उनकी जमीन ली गई तो आंदोलन होगा। कुछ किसानों ने कहा कि उन्होंने जिस दाम पर जमीन खरीदी थी, उससे सस्ती कैसे दे दें। किसानों ने कहा कि देहात के सर्किल रेट से चार गुना और शहर के सर्किल रेट से दो गुना दाम पर ही जमीन देंगे। किसानों ने अपनी जमीन की रजिस्ट्री के कागज जमा करने के लिए सोमवार तक का समय मांगा है।
हम अनपढ़ हैं, लेखपाल को बताना था:
किसानों ने इस बात पर भी आपत्ति जताई कि उनकी जमीन अधिग्रहित की जा रही है, लेकिन उन्हें व्यक्तिगत सूचना तक नहीं दी गई। जब एडीएम एलए ने कहा कि समाचार पत्रों और इंटरनेट पर सूचना जारी हो चुकी है, तो किसानों ने कहा कि वह अनपढ़ हैं। इसलिए उन्हें लेखपाल को गांव भेजकर व्यक्तिगत सूचना देनी थी।
जूते से कम दाम, कैसे जमीन दे दें साहब:
किसान शाहिद सिद्दीकी ने कहा कि साहब जमीन हमारी रोजी-रोटी है। लेकिन आप तो इस जमीन को जूते से भी कम दाम पर ले रहे हैं। आज ब्रांडेड जूता भी एक हजार रुपये से ज्यादा का आता है। लेकिन हमारी जमीन तो आधे दाम पर ली जा रही है, जो नहीं होगा।
इन गांवों में होगा जमीन अधिग्रहण:
ग्राम जमीन हेक्टेयर में
चंदसारा 19.0718
ढ़िकौली 11.2395
घोसीपुर 3.7686
हाजीपुर 7.4112
खानपुर 22.0108
नंगलापातू 12.2774
नरहेड़ा 12.8733
सलेमपुर 10.8795
शाकरपुर 7.8659
अछरोंडा 9.4837
अमीनगर उर्फ भूड़बराल 1.5120
बराल परतापुर 9.9450
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us