किसानों के मसीहा थे चौधरी चरण सिंह

Meerut Updated Mon, 24 Dec 2012 05:30 AM IST
मेरठ। चौ. चरण सिंह किसानों और मजदूरों के मसीहा ही नहीं बल्कि एक महान विचारक भी थे। उन्होंने हमेशा किसानों को आगे लाने का प्रयास किया। हमें उनके बताए रास्ते पर चलने पर चलना चाहिए।
यह बात जिलाधिकारी विकास गोठलवाल ने दिल्ली रोड स्थित संयुक्त कृषि निदेशक कार्यालय परिसर में पूर्व प्रधानमंत्री स्व. चौधरी चरण सिंह के जन्मदिवस पर किसान गोष्ठी में कही। उन्होंने कहा कि भूमि की उर्वरा शक्ति कम होती जा रही है। किसानों को इस पर ध्यान देना होगा। उन्होंने कहा कि किसानों को खेती के साथ साथ बकरी पालन, मुर्गी पालन, मछली पालन आदि पर भी ध्यान देना चाहिए। इस अवसर पर जनपद के 92 प्रगतिशील किसानों को पुरस्कृत किया गया। प्रथम पुरस्कार पाने वाले प्रत्येक किसान को 3500 रुपए और द्वितीय पुरस्कार 2500 रुपए के चेक दिए गए। वहीं 60 किसानों को 2000 - 2000 रुपए के चेक दिए गए। किसान दिवस के अवसर पर सीडीओ आरके सिंह, उप गन्ना आयुक्त डा. वीबी सिंह, संयुक्त कृषि निदेशक डा. सुल्तानुलहक, जिला कृषि अधिकारी व्यासमुनि मिश्रा, देशपाल सिंह आदि रहे। किसान मेले में कृषि से जुड़े सभी विभागों ने स्टॉल लगाकर किसानों को जानकारी दी।

छात्रों ने किया माल्यार्पण
मेरठ। कालेजों में भी चौधरी चरण सिंह की जयंती पर छात्रों ने उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। वहीं कंकरखेड़ा में चौधरी साहब के जन्मदिवस पर जन कल्याण समिति ने रक्तदान शिविर का आयोजन किया।
डीएन पीजी कालेज में पूर्व प्रधानमंत्री चौ. चरण सिंह की जयंती मनाई। छात्र संघ महामंत्री रोहित चौधरी सहित सभी छात्र-छात्राओं ने उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। इस अवसर पर अंकित मलिक, अंकित, कुक्कू चौधरी, अरुण, आशीष, अंकित गिरी, विशाखा आदि रहे। उधर, डा. अंबेडकर डिग्री कालेज में जयंती पर एक गोष्ठी का आयोजन किया। इसमें प्राचार्य डा. सीडी सिंह ने कहा कि चौ. चरण सिंह गरीब, किसान, मजदूर व पिछडे़ समाज के हितषी थे। हरभजन सिंह, श्याम सिंह ने भी अपने विचार रखे। इस अवसर पर डा. कमल सिंह, डा. खिलाफत हुसैन, डा. रेखा आवस्थी, अनिल कुमार, नानक चंद आदि रहे। छात्र नेता अनुज जावला के नेतृत्व में मेरठ कालेज के छात्रों ने कमिश्नरी चौराहा पहुंचकर चौ. चरण सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया।

किसान दिवस के रूप में मनाई जयंती
नोट: फोटो ई के पीएच में है.............
मेरठ। बच्चा पार्क स्थित लोहिया संस्थान कार्यालय में रविवार को हरित प्रदेश संघर्ष समिति ने चौ. चरण सिंह के जन्मदिवस को किसान दिवस के रूप में मनाया। पूर्व विधायक सोहन वीर सिंह तोमर ने चौधरी चरण सिंह के सुझावों का समर्थन करते हुए उनके दिखाए मार्ग पर चलने का आह्वान किया। वक्ताओं ने हरित प्रदेश की मांग उठाते हुए हरित प्रदेश संघर्ष समिति की आवश्यक बैठक बुलाने का निर्णय लिया। अध्यक्षता पूर्व बार अध्यक्ष सुभाष चंद त्यागी और संचालन सरताज अहमद ने की। मौके पर सलीम, मुकेश शर्मा, अतुल कौशिक, सतीश चंद शर्मा, अजीम आदि मौजूद रहे।

सपाइयों ने भी किया माल्यार्पण
मेरठ। समाजवादी पार्टी की जिला और महानगर इकाई ने भी चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उनका भावपूर्ण स्मरण किया। इस मौके पर जिलाध्यक्ष जयवीर सिंह, महानगर अध्यक्ष हाजी इसरार सैफी, बाबर खान, कमल कुमार, चेतन्यदेव स्वामी, अहतेशाम इलाही और मुकेश शर्मा आदि मौजूद रहे। वहीं सपा मजदूर सभा के तत्वावधान में भूमिया का पुल स्थित कश्यप कार्यालय पर पूर्व प्रधानमंत्री चौ. चरण सिंह की जयंती मनाई। इस अवसर पर बिजेंद्र कुमार महरोज, गुलशन कश्यप, भूरी देवी, श्याम जैनवाल, इस्लामुद्दीन आदि मौजूद रहे।

भाजपा नेताओं ने किया माल्यार्पण
मेरठ। भाजपा नेताओं ने कमिश्नरी चौराहे पर पहुंचकर पूर्व प्रधानमंत्री चौ. चरण सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। इस अवसर पर भाजपा नेता सतेंद्र भराला, संदीप, राजेंद्र प्रेमी, कंवर वासित, पंकज प्रधान आदि रहे।

‘चौधरी चरण सिंह देश की आज जरूरत’
मेरठ। पूर्व प्रधानमंत्री की स्वर्ण जयंती समारोह पर सीसीएसयू में शनिवार को ‘चौधरी चरण सिंह : एक कुशल राजनीतिज्ञ’ विषय पर संगोष्ठी हुई। वक्ताओं ने कहा कि चौधरी साहब आज देश की जरूरत हैं।
मुख्य अतिथि और पूर्व प्रधानमंत्री के करीबी रहे डा. यशवीर सिंह ने बताया कि जब पंडित जवाहर लाल नेहरू प्रधानमंत्री थे, तो उन्होंने कांट्रेक्ट फार्मिंग देश में लाने की कोशिश की। चौधरी साहब ने इसका पुरजोर विरोध किया और यह संभव नहीं हो सका। आज गांव रोशन होने की जगह शहर बनाए जा रहे हैं। इस तरह देश बर्बाद हो जाएगा। जयपाल सिंह ने कहा कि चौधरी चरण सिंह सैद्धांतिक और व्यवहारिक रूप से गांधीवादी थे। नरेंद्र सिंह, रामपाल सिंह, डा. रमेश मदान और डा. आरिफ हुसैन मौजूद रहे। पूर्व प्रधान मंत्री द्वारा लिखी गई किताबें भी इस दौरान चर्चा का विषय बनी। कार्यक्रम में प्रति कुलपति प्रो. जेके पुंडीर, डा. राकेश कुमार, डा. अतवरी सिंह और डा. कुलदीप उज्ज्वल आदि मौजूद रहे।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

गरीबी की वजह से इस शख्स ने शुरू किया था मिट्टी खाना, अब लग गई लत

गरीबी की वजह से झारखंड के कारु पासवान ने मिट्टी खानी शुरू की थी।

19 जनवरी 2018

Related Videos

ईंठ भट्ठे की दीवार की लिपाई के दौरान दो लड़कियों के साथ हुआ भयानक हादसा

बागपत में ईंट भट्ठे की दीवार गिरने से दो लड़कियों की मौत हो गई। मरनेवाली दो लड़कियों में से एक की उम्र 15 साल थी। हादसे के बाद पूरे गांव में मातम पसरा हुआ है।

19 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper