माया और सोनिया की शवयात्रा निकाली

Meerut Updated Fri, 21 Dec 2012 05:31 AM IST
मेरठ। प्रमोशन में आरक्षण के विरोध में गुरुवार को भी सरकारी कार्यालयों में कामकाज ठप रहा। सभी कर्मचारी सड़कों पर कांग्रेस, बसपा, भाजपा नेताओं के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाते नजर आए। कर्मचारियों ने नेताओं के पुतलों की शवयात्रा निकाली और उन्हें जला दिया। मांग पूरी न होने तक आंदोलन जारी रखने की चेतावनी दी।
सुबह लगभग साढ़े दस बजे सैकड़ों कर्मचारी कमिश्नरी चौराहा स्थित चौधरी चरण सिंह पार्क में इकट्ठा हुए। कर्मचारियों ने जुलूस का शुभारंभ कमिश्नर कार्यालय के बाहर पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के पुतले के दहन से किया। उन्होंने सोनिया गांधी के पुतले की अर्थी निकाली। सभी कर्मचारी अर्थी के पीछे जुलूस के रूप में कोआपरेटिव बैंक, बच्चा पार्क होते हुए बेगमपुल पहुंचे। कर्मचारियों ने मानव शृंखला बनाकर 20 मिनट तक बेगमपुल को जाम रखा। इस दौरान सड़कों पर वाहनों की लंबी-लंबी कतारें लग गईं। हालांकि पुलिस ने हापुड़ रोड, दिल्ली रोड और रुड़की रोड से बेगमपुल आने वाले वाहनों को अन्य मार्गों से निकाला।
कर्मचारियों ने बेगमपुल पर सोनिया गांधी का पुतला जलाया। साथ ही कांग्रेस, भाजपा, बसपा के विरोध में नारे लगाए। इस दौरान शहर का यातायात पूरी तरह बाधित रहा। इसके उपरांत सभी कर्मचारी जुलूस के रूप में वापस कमिश्नरी चौराहे पर पार्क में पहुंचे। कर्मचारी पंकज अग्रवाल, राकेश शर्मा आदि सभी कर्मचारियों ने प्रमोशन में आरक्षण का बिल पास होने पर आरपार की लड़ाई का ऐलान कर दिया। शुक्रवार को भी कर्मचारी चौ. चरण सिंह पार्क में जुटेंगे।

गन्ना भवन कर्मियों ने किया कार्य बहिष्कार
मेरठ। प्रमोशन में आरक्षण के खिलाफ गन्ना विभाग कर्मियों ने गुरुवार को कार्य बहिष्कार किया। गन्ना भवन में दिए धरने में कर्मचारी यूनियन के अध्यक्ष दिलीप सिंह ने कहा कि प्रमोशन में आरक्षण संवैधानिक रूप से अन्यायपूर्ण एवं कर्मचारी हितों के प्रतिकूल है। सभी कर्मचारियों ने एकमत होकर आरक्षण के खिलाफ लड़ाई लड़ने का संकल्प लिया। इस मौके पर रजनीश सोम, गगनदीप, राजकुमार पांडे, अब्दुल कयूम, दिनेश शर्मा, अवनीश, रेखा गुप्ता, नरेंद्र कुमार, केपी सिंह, विनीत कुमार, शकील अहमद, अल्पना, प्रमेंद्र, रामप्रकाश आदि मौजूद रहे। वहीं, उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना के जिलाध्यक्ष स्पर्श शर्मा के नेतृत्व में कार्यकर्त्ताओं ने कांग्रेस, भाजपा और बसपा का पुतला दहन करते हुए आरक्षण विरोधी नारेबाजी की। प्रतीक गोपाल, सुंदर बेंसला, दिवांशु गोस्वामी आदि रहे।

दो दिन ज्यादा काम करेंगे कर्मचारी
मेरठ। प्रमोशन में आरक्षण के खिलाफ कार्य बहिष्कार में शामिल कर्मचारियों ने दो दिन ज्यादा काम करने का निर्णय लिया है। यह जानकारी सर्वजन हिताय आरक्षण समिति मेरठ शाखा के संयोजक दिनेश अग्रवाल ने दी। उन्होंने बताया कि लोकसभा में आरक्षण बिल का मामला लटक जाने से कर्मचारियों ने कार्य बहिष्कार खत्म कर दिया है। शुक्रवार और शनिवार को कर्मचारी देर तक काम करके छूटे कार्यों को पूरा करेंगे।

काम न करने वाले कर्मचारियों हो कार्रवाई
मेरठ। पदोन्नति में आरक्षण को लेकर समर्थन और विरोध का सिलसिला जारी है। एससी/एसटी वेलफेयर एसोसिएशन की रेलवे रोड पर हुई बैठक में पदोन्नति में आरक्षण को जरूरी बताया गया। वक्ताओं ने आरक्षण का विरोध करने वालों से अपील की कि वे समाज के वंचित लोगों के हित में वह अपना विरोध बंद कर दें। बैठक में सत्येंद्र भौनवाल, डॉ. सतीश प्रकाश, नानक चंद जाटव, मनोज जाटव, विनोद कुमार, गजेंद्र, देवेंद्र प्रकाश, बाबू रूपचंद वर्मा आदि ने विचार रखे। भारतीय बौद्ध महासभा की बैठक में संसद में सपा सांसद द्वारा आरक्षण बिल की प्रति फाड़े जाने की निंदा की गई। आरक्षण का विरोध कर रहे कर्मचारियों द्वारा काम न करने पर उनके विरुद्ध कार्रवाई की मांग की गई। बैठक में जीएस गौतम, वीर सिंह गौतम, पूरन सिंह, आरपी गौतम, यशपाल सिंह, संतराम बौद्ध आदि ने विचार रखे। आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति की बैठक में यूथ कोआर्डिनेटर डॉ. रविप्रकाश ने कहा कि आरक्षण बिल की प्रति फाड़ने वाले सपा सांसद नगीना सुरक्षित सीट से हैं। अगले चुनाव में उन्हें जीत की उम्मीद छोड़ देनी चाहिए। बैठक में अमित चित्तोड़िया और आदेश गौतम ने भी विचार रखे।

पदोन्नति मुद्दे पर पार्टी से सहमत नहीं भराला
मोदीपुरम। भारतीय जनता मजदूर महासंघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सुनील भराला पदोन्नति में आरक्षण मुद्दे पर पार्टी के खिलाफ खुलकर सामने आ गए हैं।
महासंघ की बैठक गुरुवार को पल्लवपुरम में हुई। भराला ने कहा कि पदोन्नति में आरक्षण के मुद्दे पर वह पार्टी का निजी तौर पर विरोध करते हैं। यह निर्णय न समाज के हित में है, और न ही पार्टी के हित में है। आरक्षण केवल आर्थिक आधार पर होना चाहिए। भाजपा जिस वोट बैंक को बचाने के लिए बिल का विरोध नहीं कर रही है, वो वोट बैंक तो बसपा का है।

मुस्लिम समाज को भी मिले आरक्षण
मेरठ। ऑल इंडिया मुत्ताहिता महाज की गोला कुंआ स्थित कार्यालय पर हुई बैठक में केंद्र सरकार से मुस्लिमों को भी अलग से आरक्षण देने की मांग की गई। इसके लिए प्रदेश के सभी जनपदों में जिलाधिकारी के माध्यम से प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजने का निर्णय लिया गया। बैठक में फैज अहमद, मतीन अहमद अंसारी, हाजी इकरामुद्दीन कस्सार, मौ. शकील, मिर्जा कय्यूम, सैय्यद एसके रजा, नईम अख्तर व शाह बिलाल आदि मौजूद रहे।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

सरेंडर से पहले इस SP नेता ने की प्रेस कॉन्फ्रेस, बीजेपी पर जमकर बोला हमला

कई मामलों में वांछित चल रहे समाजवादी पार्टी नेता अतुल प्रधान ने मंगलवार को सरेंडर कर दिया। इससे पहले प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर बीजेपी और यूपी पुलिस पर जमकर हमला बोला।

17 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper