जालिमों को मिलेगा कसाब की फांसी से सबक

Meerut Updated Thu, 22 Nov 2012 12:00 PM IST
मेरठ। ‘इस्लाम भाईचारे का पैगाम देता है, इस्लाम में आतंकवाद के लिए कोई जगह नहीं है’। आतंकवादी कसाब को फांसी दिए जाने पर स्थानीय उलेमा, एडवोकेट और सामाजिक संगठनों से जुड़े मुस्लिमों ने यह प्रतिक्रिया व्यक्त की।
शहर काजी जैनुस साजिद्दीन का कहना है कि मुंबई में दहशतगर्दी की जो शर्मनाक हरकत की गई थी उसने न सिर्फ धर्म, अखलाक और तहजीब को दागदार किया गया, बल्कि इंसानियत को भी शर्मिंदा किया गया। उन्होंने कहा कि दहशतगर्दी का कोई मजहब नहीं होता। दहशतगर्द सिर्फ जालिम होता है, उसे इंसान कहना भी इंसानियत की तौहीन है। समाज में जो लोग जुल्म ज्यादती करते हैं और फितना, फसाद फैलाते हैं, उनको कसाब की फांसी से सबक लेना चाहिए।
सदर बाजार स्थित मदरसा इमदादुल इस्लाम के मोहतमिम मौलाना शाहीन जमाली चतुर्वेदी का कहना है कि इस्लाम स्वयं सुरक्षित रहने वाला और दूसरों को सुरक्षा प्रदान करने वाला धर्म है। इसलिए अगर कोई व्यक्ति किसी निर्दोष की हत्या या शांति व्यवस्था को भंग करता है तो वह घोर अपराधी है। मानव समाज में वो असहनीय बोझ है, इसलिए कसाब की फांसी हर तरह से उचित है।
एडवोकेट मो. साजिद का कहना है कि कसाब को फांसी देने में देरी हुई। देशद्रोहियों के मुकदमों का निर्णय जल्द होना चाहिए। ऐसे अपराधियों के लिए हर जिले में विशेष अदालतों का गठन होना चाहिए। जमात ए सैफिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष सईद अहमद सैफी ने कहा कि आतंकवादी को फांसी मिलनी ही चाहिए थी।
सामाजिक कार्यकर्ता एवं व्यापारी हाजी मो. असलम ने कहा कि कसाब की फांसी उन लोगों के लिए सबक है जो अराजकता एवं शांति व्यवस्था को बिगाड़ने में शामिल रहते हैं। हर अमन पसंद व्यक्ति आतंकवाद के खिलाफ है।
अंजुमन तंजीम-ए-अब्बास के संस्थापक सैय्यद तालिब जैदी ने कहा कि इस्लाम आतंकवाद के सख्त खिलाफ है। किसी भी शांति प्रिय और देशभक्त व्यक्ति की कोई हमदर्दी कसाब जैसे अपराधी के साथ नहीं हो सकती।

Spotlight

Most Read

Hapur

अब जिले में नहीं कटेंगे बूढ़े हो चुके फलदार वृक्ष

अब जिले में नहीं कटेंगे बूढ़े हो चुके फलदार वृक्ष

22 जनवरी 2018

Related Videos

मेरठ में सेना दिवस पर हाफ मैराथन का आयोजन

मेरठ के कुलवंत सिंह स्टेडियम में रविवार की सुबह का नजारा देखने वाला था। ठंड के बावजूद सेना दिवस के मौके पर बच्चों का उत्साह देखते बन रहा था। आर्मी बैंड से जैसे ही "ऐ मेरे वतन के लोगों" की धुन निकली तो स्टेडियम का माहौल देश भक्ति से ओतप्रोत हो गया।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper