धनतेरस पर बरसा धन

Meerut Updated Mon, 12 Nov 2012 12:00 PM IST
मेरठ। धनतेरस पर महानगर के दुकानदारों पर खूब धनवर्षा हुई। ज्वैलरी, बर्तन, सोने-चांदी के सिक्के से लेकर लैपटॉप, मोबाइल और इलेक्ट्रानिक्स बाजार देर रात तक गुलजार रहे। रविवार को अवकाश के कारण खरीदारी का मजा दुगुना रहा। लोग अपने परिवार के साथ खरीदारी करने निकले। एक अनुमान के मुताबिक मेरठ में करीब छह सौ रुपये का कारोबार हुआ।

50 करोड़ के बर्तन बिके
बर्तन की दुकानों पर पैर रखने की जगह नहीं दिखी। धनतेरस पर बर्तन खरीदना शुभ माना जाता है। पीतल, स्टील के दीये के अलावा थाली, लोटा से लेकर चम्मच, गिलास यानी हरेक परिवार ने कोई न कोई बर्तन खरीदे। आबूलेन स्थित महेश जी बर्तन एंड संस के मालिक संजीव गुप्ता ने बताया कि व्यापार पिछले साल के मुकाबले अच्छा रहा। जनपद में करीब पचास करोड़ रुपये का कारोबार हुआ।

सोने-चांदी का दो सौ करोड़ का कारोबार
आबूलेन, सदर बाजार, शहर सर्राफा, भगत सिंह मार्केट, शास्त्रीनगर, लालकुर्ती, घंटाघर, कंकरखेड़ा, गंगानगर आदि इलाकों में सर्राफा की दुकानों पर चांदी-सोने के सिक्के तथा ज्वैलरी की खरीदारी के लिए भीड़ उमड़ पड़ी। सबसे अधिक बिक्री सोने - चांदी के सिक्कों की हुई। मेरठ बुलियन ट्रेडर्स एसोसिएशन के महामंत्री सर्वेश सर्राफ ने बताया कि काफी दिनों बाद अच्छा कारोबार रहा। एक अनुमान के मुताबिक जनपद में करीब सौ करोड़ का कारोबार रहा।

65 करोड़ की बिक गईं कार और बाइकें
सी एंड टी मोटर्स के जीएम शशांक का कहना है कि कारों की डिलीवरी उम्मीद से अधिक हुई। देर रात तक लगभग 80 वाहन की बुकिंग हुई। उधर विक्रांत आटोमोबाइल से विक्रांत वरुण ने बताया कि 200 बाइक की डिलीवरी हुई। आटोमोबाइल्स शोरूम के जीएम के अनुसार जनपद भर में टू-व्हीलर और फोर व्हीलर का लगभग 60 से 65 करोड़ रुपये का कारोबार हुआ है।

बैंक, डाक घरों में बिका सोना
धनतेरस पर बैंकों ने भी दिवाली मनाई। भारतीय स्टेट बैंक, पंजाब नेशनल बैंक और आईसीआईसीआई बैंक की शाखाएं रविवार को खुली रहीं। इस दौरान सोने के सिक्के की जमकर खरीदारी हुई। उधर, मुख्य डाक अधीक्षक मांगेराम गिरी ने बताया कि डाकघरों में चार लाख के सोने के सिक्के बेचे गए।

150 करोड़ से अधिक का इलेक्ट्रानिक्स सामान बिका
इलेक्ट्रॉनिक्स गुड्स की खरीदारी भी ठीक-ठाक रही। लैपटॉप के अलावा एलसीडी, वाशिंग मशीन, फ्रिज की खूब डिमांड रही। मेरठ इलेक्ट्रॉनिक्स एसोसिएशन के संरक्षक मुकुल सिंहल ने बताया कि सौ करोड़ रुपये से ज्यादा का कारोबार हुआ है। सरदारजी फोंस के राजबीर सिंह ने बताया कि इस बार मोबाइल की तुलना में पचास फीसदी टैबलेट की भी बिक्री हुई है। इस तरह धनतेरस पर मोबाइल दुकानदारों ने भी करीब दस करोड़ का कारोबार किया।

सजावट पर भी खूब खर्चे
रंगीन लाइटों, सजावट के समान, बंदनवार आदि की भी खूब बिक्री हुई। लक्ष्मी गणेश की मूर्तियों के अलावा इनकी दुकानों पर खूब भीड़ रही। इसके अलावा पटाखों, रेडीमेड कपड़ों की भी खूब खरीदारी हुई। इन्हें मिला दिया जाए तो जनपद में करीब डेढ़ सौ करोड़ रुपये का कारोबार होने का अनुमान है।

दीपावली पर पूजन का मुहूर्त
मेरठ।
प्रतिष्ठान
मंगलवार दोपहर 1:06 बजे से 2:34 बजे के बीच पूजा करना उत्तम रहेगा।
घरों में
घर में पूजा का समय शाम 5:31 से 7:27 बजे तक श्रेष्ठ होगा।
निशिक काल की पूजा
जो भक्त निशिक काल में गणेश-लक्ष्मी की पूजा करना चाहते हैं, उनके लिए रात्रि 11:55 से रात्रि 2:18 तक का समय श्रेष्ठ रहेगा।
अभिजीत पूजा का मुहूर्र्त रात्रि 11: 30 बजे से 12:30 बजे तक।

एक एसएमएस पर लगेगा डेढ़ रुपया
मेरठ। दिवाली की बधाई एसएमएस नहीं कॉल करके ही देना बेहतर होगा। मोबाइल फोन कंपनियों ने धनतेरस से दिवाली तक एसएमएस प्लान की सुविधा खत्म कर दी है। कंपनियां प्रति एसएमएस एक से डेढ़ रुपये वसूल रही हैं। पिछले साल धनतेरस से दीपावली तक अकेले मेरठ से तीन करोड़ एसएमएस भेजे गए थे। इस बार कंपनियां दीपावली तक लोकल एसएमएस पर एक रुपये और एसटीडी पर डेढ़ रुपये वसूलेंगी।

Spotlight

Most Read

Champawat

एसएसबी, पुलिस, वन कर्मियों ने सीमा पर कांबिंग की

ठुलीगाड़ (पूर्णागिरि) में तैनात एसएसबी की पंचम वाहिनी की सी कंपनी के दल ने पुलिस एवं वन विभाग के साथ भारत-नेपाल सीमा पर सघन कांबिंग कर सुरक्षा का जायजा लिया।

21 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: बागपत में बच्चे के साथ कुकर्म, 60 हजार रुपये के लेन-देन का मामला

बागपत में एक युवक ने बच्चे का अपहरण कर उसकी हत्या कर दी। आरोपी युवक की हैवानियत यहीं नहीं रुकी उसने हत्या के बाद बच्चे के शव के साथ कुकर्म भी किया है। हालांकि पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

21 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper