एनएसयूआई और छात्र लोकदल की मनी दिवाली

Meerut Updated Fri, 09 Nov 2012 12:00 PM IST
मेरठ। एनएसयूआई और राष्ट्रीय छात्र लोकदल को दिवाली से पहले दिवाली मनाने का मौका मिल गया। चार कालेजों में हार का सामना करने के बाद एनएएस कालेज में एनएसयूआई ने चार सीटों पर कब्जा जमाया। मेरठ कालेज में महामंत्री की महत्वपूर्ण सीट जीतने के बाद समाजवादी छात्र सभा ने एनएएस में अध्यक्ष पद पर जीत हासिल की। कनोहरलाल में राष्ट्रीय छात्र लोकदल का सिक्का चला और तीन पदाधिकारी चुने गए। दोनों कालेजों में एबीवीपी का सूपड़ा साफ हो गया।
एनएएस में समाजवादी छात्र सभा के जयराज अध्यक्ष चुने गए। जयराज ने एनएसयूआई के विक्रम सिंह को हराया। बाकी चारों पद पर एनएसयूआई पैनल का कब्जा रहा। प्रगति मिश्रा उपाध्यक्ष, नवीन कुमार महामंत्री, कपिल कुमार संयुक्त सचिव और शैंकी चौहान कोषाध्यक्ष चुने गए। कनोहरलाल डिग्री कालेज में राष्ट्रवादी छात्र लोकदल पैनल की प्रियंका अध्यक्ष चुनी गईं। पैनल की रजनी ने संयुक्त सचिव और शाइस्ता ने कोषाध्यक्ष पद पर जीत दर्ज की। निर्दलीय कविता रानी उपाध्यक्ष और कल्पना सचिव चुनी गईं। समाजवादी छात्र सभा और एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने ढोल नगाड़े और आतिशबाजी के साथ खुशी का इजहार किया।
एनएएस में एनएसयूआई ने भरा दम, सछास भी छाई
मेरठ। एनएएस कालेज का चुनाव दिलचस्प रहा। खाता खोलने के लिए तरस रही एनएसयूआई ने एनएएस में ‘चौका’ लगाया। समाजवादी छात्र सभा (सछास) ने अध्यक्ष पद पर कब्जा जमाकर दमदार उपस्थिति दर्ज की। झटका अखिल विद्यार्थी परिषद को लगा, इसे एक भी सीट नहीं मिली। 41.82 प्रतिशत छात्र-छात्राओं ने वोट डाले।
मेरठ कालेज, डीएन, आरजी और इस्माईल में एनएसयूआई का खाता भी नहीं खुला था। मेरठ कालेज में अध्यक्ष पद प्रत्याशी ने अच्छा चुनाव लड़ा, लेकिन वे हार गए। एनएएस में सछास पैनल से जयराज अध्यक्ष चुने गए। उन्हें 891 मत मिले। 333 वोट से जीत हुई। बाकी पूरे पैनल पर एनएसयूआई का कब्जा रहा। उपाध्यक्ष प्रगति मिश्रा ने पायल को 302 वोट से हराया। महामंत्री नवीन ने अरुण शर्मा को 435 वोट से शिकस्त दी। संयुक्त सचिव कपिल ने मोहित मलिक को 535 वोटों से हराया। शैंकी चौहान ने 636 वोट से पीयूष को हराया। जीत के बाद एनएसयूआई और सछास कार्यकर्ताओं ने कालेज गेट के बाहर जश्न मनाया। काफी देर तक समर्थक नारे लगाते रहे।
जाम की रही स्थिति
मतगणना के दौरान कालेज गेट के बाहर जाम की स्थिति रही। समर्थकों की नारेबाजी और भीड़ से परेशान पुलिस ने कई बार लाठी फटकारी। नतीजे घोषित होने के बाद सड़क पर जश्न मनाने की वजह से जाम लग गया।
.........................
कुल प्रत्याशी 16
कुल वोटर 4423
पड़े मत 1850
मतदान प्रतिशत 41.82

कितने वोट मिले
अध्यक्ष पद
जयराज 891
विक्रम सिंह 558

उपाध्यक्ष
प्रगति मिश्रा 754
पायल 452

महामंत्री
नवीन कुमार 888
अरुण शर्मा 453

संयुक्त सचिव
कपिल कुमार 1176
मोहित मलिक 641

कोषाध्यक्ष
शैंकी चौहान 1051
पीयूष कुमार 415
कनोहरलाल में प्रियंका बनीं अध्यक्ष
मेरठ। कनोहर लाल डिग्री कालेज की अध्यक्ष प्रियंका चुनी गई हैं। 32.83 प्रतिशत छात्राओं ने मत डाले। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के पैनल का पत्ता पूरी तरह साफ हो गया। पांच में से तीन सीटों पर राष्ट्रवादी छात्र लोकदल ने कब्जा जमाया। निर्दलीय उम्मीदवारों ने भी अच्छा प्रदर्शन किया और दो सीटें कब्जाईं।
सुबह 10 बजे से छह बूथों पर मतदान शुरू हुआ। साढ़े नौ बजे से ही छात्राओं की कतारें लगनी शुरू हो गईं। छात्राओं को वोट देने के बाद कालेज से बाहर कर दिया गया। 12.30 बजे के बाद वोटरों का उत्साह ठंडा पड़ गया। इसके बाद निर्धारित समय तीन बजे तक इक्का-दुक्का ही वोट डाले गए। तीन बजे ही मतगणना शुरू कर दी गई। चुनाव अधिकारी डॉ. माया गहलौत ने पांचों पदों के नतीजे घोषित किए। राष्ट्रवादी छात्र लोकदल पैनल से प्रियंका को 261 मत मिले। 82 मत से नेहा शर्मा को हराया। उपाध्यक्ष चुनी गईं कल्पना ने पूजा को 44 वोटों से हराया। सचिव पद पर कल्पना ने प्रिया को 29 वोटों से शिकस्त दी। संयुक्त सचिव पद पर रजनी ने रीता को 36 मतों से हराया। कृष्णा सैनी को नौ मतों से हराकर शाइस्ता कोषाध्यक्ष चुनी गईं। 24 नवंबर को शपथ ग्रहण समारोह होगा।

चुनाव एक नजर
कुल प्रत्याशी - 26
कुल मतदाता - 2400
डाले गए वोट - 788
मतदान प्रतिशत - 32.83

अध्यक्ष
विजेता प्रियंका - राष्ट्रीय लोकदल छात्र सभा --- 261 वोट
नेहा शर्मा - एबीवीपी ---- 179 वोट
उपाध्यक्ष
कविता रानी - निर्दलीय ----192 वोट
पूजा रानी - निर्दलीय -----148
सचिव
कल्पना - निर्दलीय ---244
प्रिया - राष्ट्रीय लोक दल छात्र सभा --215
संयुक्त सचिव
रजनी - राष्ट्रीय लोकदल छात्र सभा --177
रीता - निर्दलीय -----141
कोषाध्यक्ष
शाइस्ता - राष्ट्रीय लोकदल छात्र सभा--266
कृष्णा सैनी- निर्दलीय -----257

लचर व्यवस्था से फीका रहा चुनाव
मेरठ। लचर व्यवस्थाओं के बीच कनोहर में चुनावी फार्मेलिटी पूरी की गई। कॉलेज प्रबंधन ने जरा भी रुचि नहीं दिखाई। नामांकन से लेकर मतगणना तक पूरा चुनाव फीका और अव्यवस्थित रहा।
कॉलेज में चार और पांच नवंबर को सार्थक प्रदर्शनी के आयोजन में ही स्टाफ व्यस्त रहा। अचानक चुनाव कार्यक्रम जारी कर नामांकन कराए गए। छात्राओं को प्रचार के लिए छह और सात नवंबर दो दिन ही मिले। प्रत्याशियों से घोषणा पत्र नहीं पढ़वाए गए। फाइनल प्रत्याशियों की संख्या गलत बताई गई। पहले 29 प्रत्याशी फाइनल हुए, जबकि कुल 26 प्रत्याशी मैदान में थे। मतगणना की कोई जानकारी शिक्षिकाओं को नहीं थी। चुनावी तैयारियों को लेकर कोई बैठक कॉलेज में नहीं हुई। मतगणना में वैलिड-अनवैलिड मत को लेकर अंत तक जिरह होती रही। एक शिक्षिका ने सारे मत ही गलत गिन दिए। गिनती गलत होने पर शिक्षिका घबराकर रोने लगी। ये मत दोबारा गिने गए। 788 मतों को गिनने के लिए 15 कर्मी लगाए गए, फिर भी तीन घंटे से अधिक का समय लगा।
लिंगदोह ने बदली छात्र संघ चुनाव की तस्वीर
मेरठ। छह साल बाद हुए छात्र संघ चुनाव की तस्वीर लिंगदोह समिति की सिफारिश ने काफी हद तक बदल दी है। उम्रदराज नेता की जगह नए चेहरों के हाथ में छात्र संगठन की कमान आई है। ये अच्छा होने के साथ चुनौतीपूर्ण भी है। सीसीएसयू कैंपस में जहां लिंगदोह समिति का पूरा पालन हुआ, वहीं कालेजों में अनदेखी हुई। प्रत्याशी की योग्यता के अलावा समिति की सिफारिश पर कालेजों ने गौर नहीं किया। शहर के कालेजों की बात करे तो एबीवीपी को आठ, समाजवादी छात्र सभा (पांच), एनएसयूआई को चार और राष्ट्रवादी छात्र लोकदल को चार सीटें मिलीं। गर्ल्स कालेजों में मुख्य छात्र संगठनों को वोटरों ने नकार दिया।

17 नवंबर को सीसीएसयू कैंपस से छात्र संघ चुनाव की शुरूआत हुई। कैंपस ने लिंगदोह समिति की सिफारिश का सख्ती से पालन हुआ। नतीजा कथित नेता चुनाव नहीं लड़ सके। एबीवीपी और सछास को दो-दो सीटें मिली। इसके बाद डिग्री कालेज चुनाव के रंग में रंग गए। मेरठ कालेज में दिलचस्प चुनाव हुआ। एबीवीपी का अध्यक्ष समेत दो सीटों पर कब्जा जमा, साथ ही सछास ने महामंत्री पद जीतकर चौंका दिया। डीएन डिग्री कालेज में एबीवीपी ने चार और आरजी पीजी कालेज में एक सीट जीती। सछास को अच्छा प्रदर्शन रहा। मेरठ कालेज में महामंत्री जीतने के अलावा एनएएस कालेज में अध्यक्ष पद जीता। इस्माईल गर्ल्स कालेज में अध्यक्ष समेत दो पद जीते। एक पद डीएन में जीता। एनएसयूआई ने अच्छा प्रदर्शन किया। एनएएस कालेज में चार पद कब्जाए। इसके अलावा कनोहरलाल कालेज में दो प्रत्याशी पैनल से जीतने का दावा किया जा रहा है। चुनाव के दौरान छात्र संगठनों में फूट भी दिखाई पड़ी। प्रत्याशी को हरवाने और जीतने के लिए दूसरे प्रत्याशी के साथ पैक्ट का सहारा लिया गया।

गर्ल्स कालेज में लोकदल
गर्ल्स कालेजों में राष्ट्रवादी छात्र लोकदल ने चार सीट कब्जाई। कनोहरलाल में अध्यक्ष पद समेत तीन सीट जीती। इस्माईल डिग्री कालेज में भी एक पद पर कब्जा किया। आरजी कालेज में भ्रष्टाचार विरोध दल ने चार सीट जीतकर मुख्य छात्र संगठनों को बता दिया कि यहां उनकी दाल गलने वाली नहीं है। राष्ट्रीय छात्र कांग्रेस ने इस्माईल में दी सीट जीतीं।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

16 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: यूपी में देवी देवताओं की फोटो फाड़ने वाले युवक का हुआ ये हाल

मुजफ्फरनगर से एक घटना का वीडियो सामने आया है जिसको देखकर आपकी रूह कापं उठेगी। वीडियो में एक युवक को कुछ तथाकथित हिंदू संगठन के लोग जमीन पर गिरकार बेरहमी से पीट रहे हैं। मामला जानने के लिए देखिए ये रिपोर्ट।

16 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper