सगे भाइयों की मौत से गम में डूबा गांव

Meerut Updated Mon, 15 Oct 2012 12:00 PM IST
मेरठ। लुधियाना से गरम कपड़े खरीदकर ला रहे सगे भाइयों की मौत की खबर मिलते ही किनानगर गांव में गम पसर गया। शाम को दोनों के शव पोस्टमार्टम के बाद गांव पहुंचे। इन्हें सुपुर्द ए खाक कर दिया गया। हादसे में उनका एक भाई भी घायल हुआ है, उसे मेरठ के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
किनानगर निवासी इकरामुद्दीन, इस्लामुद्दीन और फाजिल लुधियाना से गरम कपड़ों को खरीदकर लाते थे और मेरठ में बेचते थे। शनिवार रात वे लुधियाना से लौट रहे थे। शामली के झिंझाना क्षेत्र में मेरठ करनाल मार्ग पर काठा नदी पुल के पास हुए हादसे में इकरामुद्दीन और इस्लामुद्दीन की मौत हो गई। उनके भाई फाजिल सहित अन्य लोग घायल हो गए। इसकी सूचना रात में ही पुलिस ने परिजनों को दे दी थी, परिवार के लोग रात में ही घटना स्थल पर पहुंच गए थे।
रविवार शाम को दोनों शव पोस्टमार्टम के बाद किनानगर पहुंचे। यहां गमगीन माहौल में इन्हें सुपुर्द ए खाक कर दिया गया। मृतक इकरामुद्दीन की पत्नी शमा और इस्लामुद्दीन की पत्नी परवीन सहित बच्चों का रो रोकर बुरा हाल था। इकरामुद्दीन के तीन बच्चे हैं, जबकि इस्लामुद्दीन के चार बेटे हैं।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

बागपत: पत्नी की हत्या के आरोप में बीएसएफ जवान गिरफ्तार

बागपत में पत्नी की हत्या के आरोप में बीएसएफ के जवान को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपी जवान की पत्नी गीता की लाश बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दी है।

23 जनवरी 2018