सुरक्षित नहीं बेटियां, घर और बाहर खौफ और दहशत

Meerut Updated Tue, 02 Oct 2012 12:00 PM IST
मेरठ। हालात इस कदर बिगड़ चुके हैं कि बेटियों को घर के अंदर और बाहर डर लगने लगा है। सोमवार को छेड़छाड़, अनजान कॉल्स से खौफ, लूटपाट और अस्मत बचाने की जद्दोजहद के आधा दर्जन केस सामने आए।
‘साहब, इस शोहदे से मुझे बचाओ’
गढ़ रोड स्थित अजंता कॉलोनी की एक छात्रा सोमवार को मेडिकल थाने पहुंची। एक युवक दो माह से दिल्ली के नए-नए नंबरों से छात्रा को कॉल करके परेशान कर रहा है। अब वह घर से निकलने में भी डरने लगी है। पुलिस ने थाने में ही छात्रा से मोबाइल नंबर लेकर उसके सामने ही कॉल कर शोहदे को हड़काया। छात्रा को आशंका है कि आरोपी उसके साथ किसी अनहोनी को अंजाम दे सकता है। पुलिस ने तहरीर लेकर आरोपी की तलाश करनी शुरू कर दी है।
गलत धंधे में उतारना चाहते हैं पड़ोसी!
कंकरखेड़ा क्षेत्र के फाजलपुर निवासी युवती ने सोमवार को महिला थाने पहुंचकर आरोप लगाया कि उसके पड़ोस में रहने वाली एक महिला और उसका पति उसे गलत धंधे में उतारने का दबाव बना रहे हैं। ऐसा न करने पर झूठे मामले में फंसाने की धमकी दे रहे हैं। यह भी धमकी दी जाती है कि नहीं तो उसे जलाकर मार देंगे। इस बीच दूसरा पक्ष भी थाने पहुंचा तो दोनों पक्षों में नोकझोंक हो गई। दूसरे पक्ष का आरोप है कि युवती अनर्गल आरोप लगा रही है। उसका भाई कमेटी के नाम पर लाखों रुपये लेकर चंपत हो गया। पैसे मांगने पर पीछा छुड़ाने के लिए इस लड़की को झूठे आरोप लगाकर आगे कर दिया जाता है। दोनों पक्षों में जब मारपीट की नौबत आ गई तो महिला पुलिसकर्मियों ने उन्हें हड़काकर शांत किया। एसओ महिला के अनुसार जांच के बाद कार्रवाई होगी।
‘हमारी बेटी बरामद कराओ’
पांच दिन से अपहृत किशोरी की बरामदगी की मांग को लेकर सरधना के दबथुवा गांव के लोगों का सोमवार को गुस्सा फूट गया। एसएसपी आफिस पर प्रदर्शन करते हुए आरोप लगाया कि आरोपी का नाम बताने के बावजूद पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही। एसएसपी के आदेश पर देर शाम संजय पुत्र विजयपाल के खिलाफ केस दर्ज किया गया। यह किशोरी विगत 25 सितंबर को संदिग्ध हालात में लापता हो गई थी। परिजनों ने गांव के ही एक युवक पर अंदेशा जताया। थाने पर शिकायत के बाद भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। सोमवार को ग्रामीण पुलिस दफ्तर पहुंच गए। आरोप था कि पुलिस की शह पर आरोपी के परिजन पीड़ित परिवार को धमकी दे रहे हैं।
छेड़छाड़ करते तीन छात्र धुने
लालकुर्ती छोटा बाजार स्थित एक घर में तीन छात्र किराये पर रहते हैं। आरोप है कि तीनों कई दिनों से मोहल्ले की लड़कियों से छेड़छाड़ कर रहे थे। सोमवार को लोगों ने घर से निकालकर तीनों की पिटाई कर दी। पुलिस छात्रों को थाने ले आई। जानकारी के बाद छात्रों के परिजन भी वहां पहुंचे। थाना प्रभारी संजीव कुमार ने बताया कि छात्रों के खिलाफ किसी ने तहरीर नहीं दी। उन्हें छोड़ दिया गया।
‘छात्र बने जिम्मेदार शहरी’
सोमवार दोपहर परतापुर पुलिस जनता इंटर कॉलेज के पास से दो मनचलों को हिरासत में लेकर थाने ले आई। कॉलेज के छात्रों ने मनचलों पर आरोप लगाया है कि आरोपी आती-जाती छात्राओं पर अश्लील फब्तियां कस रहे थे। पीड़ित छात्राओं के परिजनों ने आरोपियों के खिलाफ नामजद तहरीर दी है।

कहना इनका
महिलाओं की सुरक्षा सर्वोपरि है। यदि कोई पुलिसकर्मी इसमें लापरवाही का दोषी पाया जाएगा तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। ऐसे मामलों में पुलिस अतिसंवेदनशीलता से काम करें। - के. सत्यनारायणा, एसएसपी

Spotlight

Most Read

Gorakhpur

पद्मावत फिल्म का प्रदर्शन रोकने को सड़क पर उतरी करणी सेना

पद्मावत फिल्म का प्रदर्शन रोकने को सड़क पर उतरी करणी सेना

22 जनवरी 2018

Related Videos

‘आओ साइकिल चलाएं’ कार्यक्रम का आयोजन, होगा ये फायदा

बागपत में एक पेट्रोल पंप पर 'आओ साइकिल चलाएं' कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में केंद्रीय मानव संसाधन राज्यमंत्री डॉ सत्यपाल सिंह भी शामिल हुए।

22 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper