टैंकर से कुचलकर सगी बहनों की मौत

Meerut Updated Sun, 30 Sep 2012 12:00 PM IST
मेरठ/परतापुर। बाइक से परतापुर के गांव गगोल जा रहे भाई बहनों को अमूल प्लांट में दूध लेकर जा रहे टैंकर ने कुचल दिया। दोनों सगी बहनों की मौके पर दर्दनाक मौत हो गई, जबकि भाई गंभीर रूप से घायल हो गया। घायल भाई को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हादसे से गुस्साए ग्रामीणों ने प्लांट पहुंचकर तोड़फोड़ कर दी। कई थानों की पुलिस और पीएसी के साथ मौके पर पहुंचे अधिकारियों और नेताओं ने ग्रामीणों को बामुश्किल समझाकर शांत कराया। बावजूद इसके कई घंटों तक मौके से शव नहीं उठने दिए।
दौराला निवासी असलम का बेटा हसीन (19), बेटी सितारा (18) और चांदनी (20) शनिवार शाम करीब साढ़े पांच बजे बाइक से परतापुर क्षेत्र के गांव गगोल में ननिहाल जा रहे थे। परतापुर फ्लाईओवर से गगोल गांव की तरफ डिवाइडर रोड पर सोफिया हाईस्कूल वाले मोड़ पर दूध के टैंकर ने पीछे से टक्कर मार दी। टक्कर से बाइक चला रहा हसीन उछलकर दूर जा गिरा, जबकि दोनों बहनें टैंकर के पहिये में फंस गईं। इसके बाद काफी दूर तक दोनों बहनों को कुचलता हुआ चालक टैंकर लेकर दूध प्लांट में घुस गया। प्लांट जगवीर नागर का बताया जा रहा है, जिन्होंने अमूल की फ्रेंचाइजी ली हुई है। हादसे की सूचना पर गांव गगोल से मृतक युवतियों के ननिहाल वाले सैकड़ों ग्रामीणों के साथ मौके पर पहुंच गए। आसपास के ग्रामीण भी वहां इकट्ठा हो गई। घायल हसीन को जिला अस्पताल में भर्ती कराया।
हादसे की भयावहता देख लोगों में गुस्सा भड़क उठा और ग्रामीण प्लांट में जा पहुंचे। इस दौरान प्लांट में मौजूद कर्मियों ने एक युवक को पकड़कर पीट दिया, जिसके बाद ग्रामीणों ने सप्लाई प्लांट में तोड़फोड़ के साथ ही कई वाहनों के शीशे भी तोड़ डाले। सूचना पर एसओ परतापुर के अलावा एसपी सिटी ओमप्रकाश, सीओ ब्रहमपुरी, सीओ कोतवाली, सीओ कैंट भी पुलिस और पीएसी के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने ग्रामीणों को समझाकर शांत किया। बाद में पूर्व सांसद शाहिद अखलाक के भाई साजिद अखलाक, सपा एमएलसी डॉक्टर सरोजनी अग्रवाल तथा आदिल चौधरी भी मौके पर पहुंचे। ग्रामीणों ने मृतक युवतियों के परिजनों को आर्थिक सहायता के तौर पर पांच पांच लाख रुपये दिलाने की मांग की। कई घंटे तक हंगामा चलता रहा। ग्रामीणों की मांग थी कि परिजनों को आर्थिक मुआवजा दिलाएं तथा प्लांट वालों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई जाए।

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

14 साल के इस बच्चे ने कराई चार कैदियों की रिहाई, दान में दी प्राइज मनी

14 साल के आयुष किशोर ने चार कैदियों की रिहाई के लिए दान कर दी राष्ट्रपति से मिली प्राइज मनी।

22 जनवरी 2018

Related Videos

‘आओ साइकिल चलाएं’ कार्यक्रम का आयोजन, होगा ये फायदा

बागपत में एक पेट्रोल पंप पर 'आओ साइकिल चलाएं' कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में केंद्रीय मानव संसाधन राज्यमंत्री डॉ सत्यपाल सिंह भी शामिल हुए।

22 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper