कहीं ट्रेन रोकी तो कहीं जाम लगाकर पुतले फूंके

Meerut Updated Fri, 21 Sep 2012 12:00 PM IST
मेरठ। महंगाई और एफडीआई के विरोध में शहर के सभी मुख्य बाजारों में शटर नहीं उठे। शापिंग मॉल्स में सन्नाटा रहा। जाम रहने वालीं शहर की अधिकांश सड़कें सूनी रहीं। वहीं मुसलिम इलाकों में भी बंद का खासा असर देखा गया।
बंद सफल बनाने के लिए संयुक्त व्यापार संघ, भाजपा और सपा कार्यकर्ता गुरुवार तड़के ही सड़कों पर उतर गए। संयुक्त व्यापार संघ के अध्यक्ष अरुण वशिष्ठ, महामंत्री नवीन गुप्ता, कौशल गोयल, सतीश चंद जैन, संजय जैन, गजेंद्र शर्मा, सरदार दलजीत सिंह, अशोक ग्रोवर, संजीव रस्तोगी, संदीप गुप्ता एल्फा, सुभाष गुप्ता, विजय गांधी, प्रदीप शर्मा आदि पदाधिकारियों के अलावा भाजपा सांसद राजेंद्र अग्रवाल, विधायक कैंट सत्यप्रकाश अग्रवाल, विधायक मेरठ दक्षिण रवींद्र भड़ाना के नेतृत्व में भाजपाईयों ने शहर भर में घूमकर दुकानें बंद कराईं। दोपहर 12.40 बजे भाजपा सांसद के नेतृत्व में तेजगढ़ी पर जाम लगाया गया। भाजपा ने जनपद को 28 मंडलों में बांटकर बंद सफल बनाने की रणनीति बनाई थी।
सपा के सभी फ्रंटल संगठनों, प्रकोष्ठ व विंग ने बंद सफल कराने में कसर नहीं छोड़ी। सपा जिलाध्यक्ष जयवीर सिंह के नेतृत्व में सिटी रेलवे स्टेशन पर शालीमार रोकी गई। सभा व्यापार प्रकोष्ठ के गोपाल अग्रवाल के नेतृत्व में छिपी टैंक से साइकिल रैली निकाली गई। सपा युवजन सभा के जिलाध्यक्ष ओमपाल गुर्जर के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने तेजगढ़ी चौपले पर आधा घंटा जाम लगाकर केन्द्र सरकार का पुतला फूंका। सपा पदाधिकारी जगह जगह गाड़ियों से घूमते हुए दुकानें बंद कराते रहे। सईद सज्जू, अख्तरी बेगम ने हापुड़ रोड पर दुकानें बंद कराईं। अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष विष्णु दत्त स्वामी, कुलदीप चौधरी, मोहसिन, दीपक शर्मा, अमित चपराना, मुकुल, रोहित ठाकुर, रविन्द्र गुर्जर आदि भी मौजूद रहे। उप्र उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के सदस्यों ने मेघदूत चौराहे पर केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री का पुतला फूंका। इसके बाद कलेक्ट्रेट पर एसीएम प्रथम मोहनलाल को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा। संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष व महानगर अध्यक्ष लोकेश कुमार अग्रवाल, सुनील वर्मा, सफल कुमार, साकिब, परवेज, रिजवान, श्याम सिंह, मुकेश गर्ग, अजय गुप्ता, रामअवतार बंसल, शैलेंद्र गौड़, अंजुम निजामी, फूलचंद गुप्ता आदि मौजूद रहे।
बंद का मुसलिम इलाकों में खासा प्रभाव रहा। अधिकांश इलाकों में सन्नाटा पसरा रहा। घंटाघर, पीर तिराहा, खैर नगर, वैली बाजार, कबाड़ी बाजार, अहमद रोड, हापुड़ अड्डा से लेकर लिसाड़ी रोड तारापुरी तक अधिकांश बाजार बंद रहा। ऊंचा सद्दीक नगर ट्यूबवेल तिराहे के एक ओर फिरोज नगर, शकूर नगर, रशीद नगर और तारापुरी में मुख्य मार्ग के दोनाें ओर कुछ दुकानें खुलीं। वहीं तिराहे के दूसरी ओर गुलजार ए इब्राहीम, भुमिया का पुल चौराहा, पद्मपुरा, प्रहलाद नगर, रामनगर और हापुड़ अड्डा चौराहा तक दुकानें बंद रहीं। हापुड़ अड्डा चौराहे स्थित सूर्या प्लाजा, भगत सिंह मार्केट में सभी दुकानें बंद रहीं। हापुड़ रोड शाहपीर गेट और इंदिरा चौक पर बंद का मिला जुला असर रहा। माधवपुरम में मुख्य मार्गों के साथ मोहल्ले की दुकानें भी बंद रहीं।
मेरठ दिल्ली हाइवे जाम हुआ
परतापुर में भाजपा कार्यकर्ताओं ने भाजपा मलियाना मंडल संयोजक हरीश कुमार के नेतृत्व में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का पुतला फूंककर हाईवे जाम कर दिया। इससे रिठानी से परतापुर फ्लाईओवर और संजय वन तक तीन किलोमीटर लंबा जाम लग गया। जिससे यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पडा। विधायक भड़ाना ने कार्यकर्ताओं को समझाया तो प्रदर्शनकारियों ने हाईवे छोड़ा। परतापुर पुलिस ने जाम खुलवाकर यातायात सुचारु कराया।
यूथ पर भारी पड़ा बंद
शहर के यूथ पर बंद भारी पड़ा। युवाओं की भीड़ से गुलजार रहने वाले बेगमपुल और आबूलेन क्षेत्र में दुपहर तक सन्नाटा रहा। यहां फूड शॉप और रेस्टोरेंट भी बंद रहे। आबूलेन स्थित एक रेस्टोरेंट पहुंचे युवा कपिल किशोर, सुमित, श्रुति गर्ग, तरुणा तायल ने बताया कि मॉल्स से लेकर सिंगल स्क्रीन सिनेमा हॉल्स में भी शो बंद हैं। इस कारण रेस्टोरेंट आए हैं लेकिन ये भी बंद हैं। हालांकि सभी इस बंद के समर्थन में बातचीत करते नजर आए। इरा और पीवीएस मॉल में भी आम दिनों के मुकाबले कम लोग पहुंचे। शो न चलने पर युवाओं को निराश होना पड़ा। इरा में दोपहर दो बजे तक के सभी शो बंद रहे। बंद में पॉश इलाके के बाजार भी शामिल हुए। सिविल लाइंस, पीएल शर्मा रोड, साकेत, छीपी टैंक, वेस्टर्न कचहरी रोड, नेहरू नगर, स्टेडियम रोड, मवाना अड्डा सभी जगह के बाजार बंद रहे। दुपहर बाद ही मार्केट खुले
खुले रहे सरकारी दफ्तर, होता रहा काम
मेरठ। कलेक्ट्रेट, विकास भवन, जिला पंचायत और तहसीलों में बंद का कोई असर नहीं रहा। यहां अधिकारी और कर्मचारी काम करते नजर आए। डीएम सहित अन्य कार्यालयों में सुबह से फरियादियों की भीड़ लगी रही। जनता की समस्याएं सुनने के बाद अधिकारियों ने रुटीन काम और समीक्षा बैठकें लीं। मजिस्ट्रेटों ने अपने-अपने इलाके में भ्रमण कर शांति और कानून व्यवस्था परखी। अन्य काम रोज की तरह ही चलते रहे।

Spotlight

Most Read

Shimla

कांग्रेस के ये तीन नेता अब नहीं लड़ेंगे चुनाव, चुनावी राजनीति से लिया संन्यास

पूर्व मंत्री एवं सांसद चंद्र कुमार, पूर्व विधायक हरभजन सिंह भज्जी और धर्मवीर धामी ने चुनाव लड़ने की सियासत को बाय-बाय कर दिया है।

17 जनवरी 2018

Related Videos

सरेंडर से पहले इस SP नेता ने की प्रेस कॉन्फ्रेस, बीजेपी पर जमकर बोला हमला

कई मामलों में वांछित चल रहे समाजवादी पार्टी नेता अतुल प्रधान ने मंगलवार को सरेंडर कर दिया। इससे पहले प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर बीजेपी और यूपी पुलिस पर जमकर हमला बोला।

17 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper