विज्ञापन
विज्ञापन

एकराम का महीना है रमजान

Mau Updated Sun, 29 Jul 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
मऊ। रमजान का महीना इनाम एवं एकराम का है। रमजाने मुबारक का महीना चांद के महीने के इतेबार से नौवां महीना है। इसमें रोजा रखा जाता है। रमजान का महीना रम्ज से बना है जिसका आशय जलाने से है। अर्थात रमजान के महीने में रखा गया रोजा भी रोजेदार के गुनाहों को जलाकर राख कर देता है। इस महीने में अल्लाह के करम से बेशुमार बरकतों एवं रहमतों का नुजूल होता है। इसलिए हमें चाहिए कि हम रोजे को एहतेमाम के साथ रखें।
विज्ञापन
विज्ञापन
मौलवी मुहम्मद शमीम कहते हैं कि रमजान माह में गफलत व सुस्ती न बरते क्योंकि रमजाने मुबारक बहार का महीना है। रमजान का महीना सब्र, शुक्र और इनाम का भी महीना है। यह तकवा और तरबीयते नफ्स का महीना है। रमजान वह मुकद्दस महीना है जिसमें कुरान करीम नाजिल हुआ। यह इंसान के जरीए हितायत है। यूं समझिए कि कुरान का रमजान और रमजान का कुरान से गहरा ताल्लुक है। जब बंदए मोबिन रोजा रखता है और दिन में कुरान की तिलावत करता है। रातों में तराबी का एहतेमाम करता है। मालिके हकीकी के दरबार में सज्जदारेज होता है तो अल्लाह ताला को यह अदा बहुत पसंद आती है और वह खुश होते हैं। इस दरम्यान अल्लाह फरिश्तों के सामने फक्र करते हैं और अपने बंदे पर रहमते खुदा वंदी मुतवज्जह करते हैं। इसी महीने में हजरते मुसा को तौरेत मिली। इसी महीने हजरते ईसा को इन्जील मिली। हजरते दाऊद को आसमानी किताब जबूर मिली। चौथी किताब कुराने करीन जो मुहम्मद साहब को मिली। रमजान माह में हर किसी को रोजा रखना चाहिए। मुसलमानों को चाहिए कि इस महीने अपने आप को महफूज रखें किसी का दिल ना दुखावें और किसी के साथ वादाखिलाफी न करें। किसी के साथ गाली गलौज न करें। कुरान में जिन-जिन चीजों से परहेज करने को कहा गया है, उसे बाज आएं।

Recommended

देखिये लोकसभा चुनाव 2019 के LIVE परिणाम विस्तार से
Election 2019

देखिये लोकसभा चुनाव 2019 के LIVE परिणाम विस्तार से

जानिए अपने शहर के लाइव नतीजों की पल-पल की खबर
Election 2019

जानिए अपने शहर के लाइव नतीजों की पल-पल की खबर

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

लोकसभा चुनाव 2019 (lok sabha chunav 2019) के नतीजों में किसने मारी बाजी? फिर एक बार मोदी सरकार या कांग्रेस की चुनावी नैया हुई पार? सपा-बसपा ने किया यूपी में सूपड़ा साफ या भाजपा का दम रहा बरकरार? सिर्फ नतीजे नहीं, नतीजों के पीछे की पूरी तस्वीर, वजह और विश्लेषण। 23 मई को सबसे सटीक नतीजों  (lok sabha chunav result 2019) के लिए आपको आना है सिर्फ एक जगह- amarujala.com  Hindi news वेबसाइट पर.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Mau

अतुल राय 1.22 लाख मतों से जीते

समर्थकों ने मनाया जश्न, भाजपा के हरिनारायण राजभर को दी शिकस्त

24 मई 2019

विज्ञापन

BJP की जीत में इन 6 सितारों का रहा बड़ा हाथ

लोकसभा चुनाव 2019 में भाजपा प्रचंड बहुमत से जीत चुकी है जबकी कांग्रेस की करारी हार हुई है। लेकिन भाजपा की इस जीत में फिल्मी सीतारों का भी बड़ा हाथ रहा। चलिए आपको बताते हैं कि किन सितारों ने भाजपा का नाम रौशन किया है।

24 मई 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election