मायावती की प्रतिमा टूटने पर काटा बवाल

Mau Updated Fri, 27 Jul 2012 12:00 PM IST
मऊ। लखनऊ स्थित एक पार्क में स्थापित पूर्व मुख्यमंत्री मायावती की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त किए जाने के विरोध में बहुजन समाज पार्टी के कार्यकर्ताओं ने नगर के गाजीपुर तिराहा पर जाम कर प्रदर्शन किया। लगभग एक घंटे तक राष्ट्रीय राजमार्ग के जाम रहने से सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई। आला अधिकारियों के आश्वासन पर मामला शांत हो सका।
पूर्व मुख्यमंत्री मायावती की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त किए जाने की घटना के बाद बसपा कार्यकर्ताओं में उबाल है। प्रतिमा क्षतिग्रस्त किए जाने के विरोध में भारी संख्या में कार्यकर्ता गाजीपुर तिराहे पर एकत्र हुए। गुस्साए कार्यकर्ताओं ने गाजीपुर तिराहे पर जाम कर दिया। कार्यकर्ता सड़क के बीचोबीच आकर धरना पर बैठ गए। वक्ताओं ने कहा कि सपा शासन में अपराध का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। अपराधी खुलेआम घूम रहे हैं। घटना को अंजाम देकर चले जा रहे हैं पुलिस को भनक तक नहीं मिल पा रही है। पार्क में स्थापित बहन मायावती की प्रतिमा क्षतिग्रस्त करने वाले आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया गया तो कार्यकर्ता चुप नहीं बैठेंगे। मामले की जानकारी होते ही आनन फानन में पहुंचे प्रशासनिक अधिकारियों ने समझा बुझाकर मामला शांत कराया। जाम करने वालों में मुख्य रूप से भीम राजभर, संजय सागर, राधेश्याम मौर्य, राधेश्याम मौर्य, रविंद्र नाथ गुप्ता, राजेंद्र कुमार, देवेंद्र चौहान, मिठाई लाल गौतम, ललित कुमार अकेला, जयप्रकाश, रामदुलारे, भरत राजभर, संजय मौर्य, विरेंद्र कुमार, अशोक कुमार, रामसरीख प्रजापति, विक्रांत भारती, गुलाब कुशवाहा, राजू गौतम आदि शामिल रहे।
सरसेना संवाददाता के अनुसार लखनऊ के पार्क में स्थापित पूर्व मुख्यमंत्री मायावती की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त किए जाने के विरोध में बसपा कार्यकर्ताओं ने शाम छह बजे चिरैयाकोट बाजार स्थित आजमगढ़-गाजीपुर मार्ग को जाम कर दिया। गुस्साए कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री अखिलेश सिंह यादव का पुतला फूंका। पुतला फुुंकने को लेकर पुलिस प्रशासन तथा कार्यकर्ताओं की झड़प हुई। लगभग आधा घंटे तक जाम रहने से सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई। बाद में समझा बुझाकर मामला शांत हो सका। मुन्नू राम, डा. शिवचंद राम, हमीद कुरैशी, बालचंद राम, आशीष पांडेय, सोना देवी, दशरथ राम, रामदरश मास्टर, डा. किशोरी, दरोगा राम, कन्हैया राम, रामअवध राम, श्यामलाल आदि शामिल रहे।

अभद्र व्यवहार किए जाने पर अधिवक्ता हुए उग्र
मऊ। बहुजन समाज पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा नगर के गाजीपुर तिराहे पर जाम किए जाने के दौरान बसपा कार्यकर्ताओं द्वारा एक अधिवक्ता के साथ अभद्र व्यवहार किए जाने पर मामला बिगड़ गया। घटना की जानकारी होते ही अधिवक्ता उग्र हो गए। बसपा कार्यकर्ताओं तथा अधिवक्ताओं में गुत्थमगुत्थी होने लगी। प्रशासनिक तथा पुलिस अधिकारियों ने बीच-बचाव कर मामले को शांत कराया। घटना को लेकर अधिवक्ताओं में काफी आक्रोश रहा।

Spotlight

Most Read

Lucknow

ओपी सिंह कल संभालेंगे यूपी के डीजीपी का पदभार, केंद्र ने किया रिलीव

सीआईएसएफ के डीजी ओपी सिंह को रिलीव करने की आधिकारिक घोषणा रविवार को हो गई।

21 जनवरी 2018

Related Videos

कोहरे ने लगाया ऐसा ब्रेक, एक के बाद एक भिड़ीं कई गाड़ियां

वाराणसी-इलाहाबाद राजमार्ग पर गुरुवार को घने कोहरे के बीच दो एक सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से विजिबिलिटी कम होने पर एक के बाद एक चार गाड़ियां एक-दूसरे से टकरा गईं। इस हादसे में चार लोगों के घायल होने की भी खबर है।

21 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper