गड्ढे में तब्दील हैं जिले भर की सड़कें

Mau Updated Wed, 25 Jul 2012 12:00 PM IST
मऊ। जनपद के विभिन्न इलाकों से गुजरी अधिकांश प्रमुख सड़कें तथा लिंक मार्ग गड्ढे में तब्दील हो गए हैं। सबसे खराब स्थिति तो नेशनल हाईवे की है। खराब सड़कों के कारण सड़क दुर्घटना का ग्राफ भी तेजी से बढ़ रहा है। अभी हाल ही में ग्रामीणों ने गड्ढे में तब्दील सड़कों पर लगे जलजमाव के विरोध में प्रतीकात्मक धान की रोपाई कर प्रदर्शन भी किया था, बावजूद सड़क मरम्मत कार्य शुरू नहीं किया जा सका है। आला अधिकारी बजट न होने का रोना रहे हैं।
जनपद 172796 वर्ग किमी क्षेत्र में फैला हुआ है। जिले में कुल 1300 सड़कें हैं। अधिकांश सड़कों के गड्ढे में तब्दील होने से लोगों को वाहन से चलना तो दूर पैदल चलना मुश्किल हो रहा है। सूत्रों की मानें तो सड़क के मरम्मत कार्य का टेंडर तो हो गया है, लेकिन वर्तमान में गिट्टी सहित अन्य सामानों का रेट अधिक हो जाने से ठेकेदार काम कराने को तैयार नहीं हो रहे हैं। ऐसे में मरम्मत कार्य शुरू नहीं हो पा रहा है। वारणसी-गोरखपुर राष्ट्रीय राजमार्ग की हालत यह है कि दर्जनों जगह सड़क का अस्तित्व ही खत्म हो गया है। स्थिति पर नजर डाली जाए तो दोहरीघाट पुलिस चौकी से पुल तक, रोडवेज के सामने, ब्लाक के सामने पांच फीट तक गड्ढे बन गए हैं। इसी तरह गोठा, घोसी, कल्यानपुर सहित तमाम स्थानों पर गड्ढों में पानी भर जाने के बाद आए दिन लोग चुटहिल हो रहे हैं। कई लोग तो काल के गाल में समा भी चुके हैं। सड़कों के खराब होने के चलते ही परिवहन निगम ने दर्जनों रूटों पर बसों का संचालन ही बंद कर दिया है। इसी तरह बढुआगोदाम-चिरैयाकोट मार्ग की जगह-जगह पिच ही उखड़ गई है। जबकि इस मार्ग पर स्थापित बीज अनुसंधान केंद्र, राष्ट्रीय कृषि उपयोगी सूक्ष्म जीव ब्यूरो पर देश विदेश के वैज्ञानिकों का आना जाना लगा रहता है। बावजूद सड़क की दयनीय स्थिति है। इसी तरह शहीद रोड, अमिला-अजमतगढ़ मार्ग, दोहरीघाट-बेल्थरा रोड, अमिला-लाटघाट मार्ग, मांदी सिपाह-चिऊटीडांड़ मार्ग, टड़वा-कटिहारी मार्ग, बोझी-नदवासराय मार्ग, बोझी-धरौली मार्ग सहित तमाम सड़कें जगह-जगह टूट गई हैं। लोगों को यह पता नहीं चल पा रहा है कि सड़क गड्ढे में है या गड्ढे में सड़क हो गई है। इस बाबत लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता गिरिजेश कुमार का कहना है कि सड़क मरम्मत कार्य सहित नई सड़कों के निर्माण के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा गया है।

4.30 करोड़ से बनेगी 23 नई सड़कें
मऊ। जिले मेें यातायात व्यवस्था को बेहतर बनाए जाने के लिए महकमे की ओर से स्पेशल कंपोनेंट प्लांट के तहत चार करोड़ से अधिक की लागत से 21 नई सड़कों का निर्माण किया जाएगा। जबकि 30 लाख से अधिक की लागत से दो सड़कों का निर्माण होगा। महकमे की ओर से लगभग 15 किमी लंबी सड़कों के निर्माण के धन के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा गया है।

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

14 साल के इस बच्चे ने कराई चार कैदियों की रिहाई, दान में दी प्राइज मनी

14 साल के आयुष किशोर ने चार कैदियों की रिहाई के लिए दान कर दी राष्ट्रपति से मिली प्राइज मनी।

22 जनवरी 2018

Related Videos

कोहरे ने लगाया ऐसा ब्रेक, एक के बाद एक भिड़ीं कई गाड़ियां

वाराणसी-इलाहाबाद राजमार्ग पर गुरुवार को घने कोहरे के बीच दो एक सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से विजिबिलिटी कम होने पर एक के बाद एक चार गाड़ियां एक-दूसरे से टकरा गईं। इस हादसे में चार लोगों के घायल होने की भी खबर है।

21 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper