यमुना आंदोलन से जुड़े बाबा जयगुरुदेव के अनुयायी

Mathura Updated Thu, 27 Dec 2012 05:30 AM IST
मथुरा। ब्रह्मलीन बाबा जयगुरुदेव यमुना में बढ़ते प्रदूषण से व्यथित थे। जब कभी वो यमुना किनारे जाते तो अपने 40 वर्ष पुराने साधना के दिनों को याद करते हुए यमुना की निर्मलता की चर्चा करते थे। अब यमुना मुक्ति के आंदोलन से उनके उत्तराधिकारी पंकज जुड़ गए हैं। संत जयकृष्णदास ने उन्हें राष्ट्रीय संरक्षक का दायित्व सौंपा है। बड़ी जिम्मेदारी मिलने के बाद पंकज ने कहा कि बाबा के लाखों अनुयायी यमुना की निर्मल धारा लौटाने के लिए होने वाले आंदोलन का हिस्सा बनेंगे।
ब्रज के विरक्त संत रमेश बाबा के सानिध्य में चल रहे यमुना आंदोलन के लिए बुधवार का दिन अहम पड़ाव साबित हुआ। जयगुरुदवे आश्रम में यमुना रक्षक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष बाबा जयकृष्ण दास ने पंकज बाबा को दल का राष्ट्रीय संरक्षक घोषित किया। इसके बाद पंकज महाराज ने अपने उद्बोधन में बाबा जयगुरुदेव के अनुयायियों, समस्त देशवासियों से यमुना बचाओ अभियान से जुड़ने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि एक मार्च को वृंदावन से दिल्ली कूच यात्रा में भी बाबा जयगुरुदेव के अनुयायी शामिल रहेंगे।
बाबा जयकृष्ण दास ने कहा कि दिल्ली सरकार 24 किलोमीटर एरिया में यमुना के समानांतर नाला बनवाकर सीवर का पानी उसके जरिये ट्रीट करे और सिंचाई के लिए उपलब्ध कराए। साथ ही हथिनीकुंड से यमुना की धारा छोड़ी जाए।
इस अवसर पर कथावाचक संजीव कृ ष्ण ने कहा कि हर ब्रजवासी एक मार्च को वृंदावन से शुरू होेने वाली पदयात्रा में अपनी सहभागिता सुनिश्चित करे। सपा के वरिष्ठ नेता व यमुना रक्षक दल के प्रदेश अध्यक्ष डा. अशोक अग्रवाल ने कहा कि आज हमारी मां यमुना हथिनीकुंड में कैद हैं ऐसे में उनके पुत्रों का फर्ज है कि वो आगे आयें और उन्हें मुक्त कराएं।
इस अवसर पर राकेश यादव, हरेश ठेनुआं, रमेश सिसौदिया, जयगुरुदेव धर्मप्रचारक संस्था के प्रबंधक संतराम चौधरी, चरन सिंह आदि की उपस्थिति रही।

यमुना की जगह पर बस गईं कालोनियां
मथुरा। मथुरा-वृंदावन विकास प्राधिकरण समिति के सदस्य और सपा नेता नरेंद्र सिंह, नीटू चौधरी ने विप्रा अध्यक्ष और मंडलायुक्त को लिखे पत्र में यमुना की खादर में बसी दो सौ कालोनियां बसने पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने पूछा है कि इन कालोनियों को चिह्नित करने के बाद ध्वस्तीकरण की कार्रवाई क्यों अमल में नहीं लाई गई। पत्र में उन्होंने कहा है कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर्यावरण प्रेमी और यमुना प्रदूषण को लेकर संजीदा हैं। ऐसे में उन्हें इन कालोनियों और शहर में चल रहे उद्योगों पर विप्रा की कार्रवाई से अवगत कराया जाए। ताकि दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई हो सके।

Spotlight

Most Read

Kaushambi

फिल्म पद्मावत के विरोध में क्षत्रिय महासभा ने भरी हुंकार

प्रदर्शन कर मंझनपुर में निर्माता संजय लीला भंसाली का फूंका पुतला, डीएम को सौंपा ज्ञापन

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: ब्रज में यूं हुआ वसंत पंचमी से रंगोत्सव का आगाज

दुनियाभर में होली भले ही एक दिन का त्योहार हो लेकिन भगवान श्रीकृष्णश की ब्रजभूमि में यह उत्सव 40 दिन तक मनाया जाता है। होली के इस खास उत्सव की शुरुआत वसंत पंचमी के दिन से ही होती है।

22 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper