भगवत नाम से सभी दुखों से छुटकाराः आसाराम बापू

Mathura Updated Sat, 27 Oct 2012 12:00 PM IST
मथुरा। यमुना किनारे शुक्रवार को भक्ति रस की बयार बही। लक्ष्मीनगर यमुना तट पर आयोजित सत्संग में शुक्रवार को संत आसाराम बापू भगवत नाम की महिमा का वर्णन किया। उन्होंने कहा जिसके हृदय में भगवान के नाम की स्मृति होती है, जो मंगलमय भगवान का स्मरण करता है, उसका कभी अमंगल नहीं होता। सुख और दुख कर्मों का फल है। ईश्वर तो हर समय सिर्फ दया ही करता है।
सत्संग स्थल पर बापू दोपहर 12 बजे पहुंचे। इससे पूर्व ही पंडाल में बड़ी संख्या में श्रद्धालु जुटने शुुरू हो गए। बापू के पहुंचते ही अधीर साधक उनकी ओर दौड़ लिये। सत्संग के पहले सत्र की शुरुआत हरिओम की ध्वनि के साथ हुई। आसाराम बापू ने कहा कि ये संसार दुखालय है। यहां भगवत नाम से ही दुखों से छुटकारा पाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि सद्गुरु मंत्र की दीक्षा सफलताओं की कुंजी है।

सृष्टि में न्याय की विशेष व्यवस्था
मथुरा, ब्यूरो। सत्संग में बापू ने कहा कि जो लोग ये सोचते हैं कि सृष्टि में सही लोगों के साथ अन्याय हो रहा है और गलत लोग मजे कर रहे हैं। ये उनका भ्रम है। सृष्टि में न्याय की विशेष व्यवस्था है। साधकों को इसका सार बताते हुए उन्होंने एक कथा का सहारा लिया। बताया कि सदना नाम का व्यक्ति प्रभु जगन्नाथ की यात्रा पर निकला। इस बीच गांव में उसने आश्रय की आवाज लगाई। इस पर एक सुंदरी उसे अपने घर ले गई। भोजन कराया। सुंदरी ने उससे शादी का प्रस्ताव रखा। सदना ने उसके विवाहित होने का उल्लेख करते हुए इसे पाप की संज्ञा देते हुए ठुकरा दिया। सुंदरी ने उसे पाने के लिए तलवार से पति का सिर कलम कर दिया और कहा कि अब मेरे और तुम्हारे बीच और कोई नहीं है। धर्म के रास्ते पर चलने वाला सदना फिर भी नहीं डिगा। इस पर सुंदरी ने उसे सबक सिखाने को शोर मचा दिया। अनर्गल आरोप लगाये। उसे राजा के सामने प्रस्तुत किया गया तो उन्होंने उसके दोनों हाथ कटवा दिए। कटे हाथों से भी सदना ने अपनी यात्रा जारी रखी। प्रभु को उस पर दया आ गई, राजा को स्वपभन देकर सदना को राजकीय अतिथि के रूप में जगन्नाथ जी के दर्शन कराये। भाव विह्लल सदना प्रभु के सामने अधीर हो बोला कि प्रभु जब मेरे साथ अन्याय हो रहा था, उस समय आप कहां थे। इस पर उसे पुर्व जन्म की बातें याद आयीं, जब उसने एक कसाई के कहने पर गाय को पकड़ा और कसाई ने गाय को हलाल कर दिया। इस जन्म में सुंदरी का पति कसाई, सुंदरी गाय और सदना गाय को पकड़ने वाला था। इस जन्म में उसके साथ जो हुआ वो उसके कर्मों का फल था।
वेलेंटाइन नहीं माता-पिता पूजा दिवस मनायें
मथुरा। बापू ने सत्संग में युवाओं की दशा और दिशा पर आध्यात्मिक दृष्टिकोण रखा। सचेत किया कि पश्चिम की संस्कृति के प्रभाव में युवा वेलेंटाइन मना रहे है। बच्चे समय से पहले जवान हो रहे हैं। ये भारत के अच्छे भविष्य का संकेत नहीं है। उन्होंने आह्वान किया कि युवा वेलेंटाइन वाले दिन माता-पिता की पूजा करें। सत्संग में पहुंचे छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने इस दिन सभी सरकारी विद्यालयों, कालेजों में माता-पिता पूजन दिवस मनाये जाने की घोषणा की।
सत्संग एक्सप्रेस पर बैठ किया बापू ने संवाद
मथुरा। सत्संग के अंतिम चरण में बापू की स्पेशल रेल सत्संग एक्सप्रेस सत्संगियों के बीच पहुंची। बापू ने उनसे संवाद किया। करीब से दर्शन दिये और प्रसाद बांटा। सुगंधित इत्र के छिड़काव से समूचा पंडाल महक उठा। इस दौरान रागिनी की धुन से श्रद्धालु भाव-विभोर हो गए।
शरद पूनम पर खीर का विशेष महत्व
आसाराम बापू ने कहा कि शरद पूनम की रात को चंद्रमा की शीतल चांदनी में रखकर खीर खाने से पूरे वर्ष शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बनी रहती है। इसलिए इसका लाभ लेना चाहिए। शीतल चांदनी में रखी दूध-चावल की खीर पित्तशामक, शीतल व सात्त्विक आहार है।
बाल संस्कार प्रदर्शनी को देखने आये विद्यार्थी
बाल विज्ञान प्रदर्शनी छात्रों के आकर्षण का केंद्र रही। प्रदर्शनी में बच्चों को माता-पिता को प्रणाम करना, प्राणायाम आदि के बारे में बताया गया। प्रशिक्षण भी दिया गया।

Spotlight

Most Read

Rampur

टेक्सटाइल्स की जमीन पर फिर अवैध कब्जे

रजा टेक्सटाइल्स की जमीन पर सप्ताह भर के भीतर ही फिर से अवैध कब्जे कर लिए गए। अवैध कब्जे को लेकर पुलिस व प्रशासन से मामले की शिकायत की गई है।

20 जनवरी 2018

Related Videos

पुलिस की गोली से मरने वाले मासूम के घर पहुंचे श्रीकांत शर्मा

मथुरा के मोहनपुर में पुलिस की गोली से मौत का शिकार बने माधव के परिजनों से मिलने यूपी सरकार के मंत्री श्रीकांत शर्मा पहुंचे। मंत्री ने कहा कि आरोपी किसी भी स्थिति में बख्शे नहीं जायेंगे। इस मामले में दो दारोगा और चार पुलिसकर्मी निलंबित हो चुके हैं।

19 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper