विज्ञापन

महंगाई के चलते थाली से गायब हो रहीं सब्जियां

Mahoba Updated Thu, 05 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
महोबा। आषाढ़ का महीना बीत गया, और मानसून का कहीं कोई अता पता नहीं। बिन बारिश के सूखे पड़े खेत और किसान दोनाें ही आसमान की तरफ निहार रहे हैं। वहीं खानपान की वस्तुआें के रेट का ग्राफ दिनाें दिन बढ़ता जा रहा है। दाल, चावल, तेल और सब्जियाें के दाम में जबर्दस्त बढ़ोतरी हुई है। मानसून की आमद कब होगी, यह तो कोई नहीं जानता लेकिन सब्जियाें के रेट कम होने के आसार दूर-दूर तक नजर नहीं आते।
विज्ञापन
पिछले साल जून में ही बारिश की शुरुआत हो गई थी लेकिन इस दफा जून तो दूर जुलाई माह के चार दिन बीत जाने के बाद भी मानसून ने दस्तक नहीं दी लिहाजा खेत बंजर पड़े हैं जिससे किसान खेतों की जुताई भी नहीं कर सका। उधर जिन खेताें में सब्जियाें की फसल थी, बारिश न होने से उसकी सिंचाई नहीं हो सकी। इतना ही नहीं रही सही कसर घटते जलस्तर ने पूरी कर दी। ट्यूबवेल और कुआें ने भी हाथ खड़े कर दिए। इससे उत्पादन कम हुआ। सब्जियाें के रेट में बढ़ोतरी हो गई। वहीं आसमान से आग बरस रही है जिससे सब्जी दुकानदार सब्जी जल्दी खराब न हो इस डर से कम मात्रा में रखकर महंगे दामाें पर बेच रहे हैं।
सब्जी के दाम बढ़ने से आम आदमी की थाली से सब्जियां गायब होती जा रही हैं। अब ऐसी महंगाई में आदमी क्या खाए और क्या पिए। दुकानाें में रखीं सब्जियां लोगाें को दूर से मुंह चिढ़ा रही हैं। लगभग 15 दिन पहले 10 रुपए किलो बिकने वाला आलू अब यह 15 रुपए किलो बिक रहा है। वहीं 15-20 रुपए किलो बिकने वाला टमाटर अब 30 रुपए किलो हो गया है। इतना ही नहीं 10 रुपए किलो बिकने वाली लौकी दोगुने रेट पर बिक रही है। पहले जेब भर पैसे लेकर बाजार जाने पर झोला भरकर सब्जी आ जाती थी लेकिन अब झोला भरकर पैसे लेकर जाने पर जेब भर सब्जी आती है।

इनसेट -------------------
तेल, दाल, सब्जी सब पर महंगाई की मार
जिंस 15 जून के दाम 4 जुलाई के दाम
अरहर 5400 6000
उड़द 5250 5700
मसूर मलका 4150 4500
मसूर 4000 4300
मटर 3000 3300
चना 4800 5650
बासमती 3400 4000

तेल और सब्जियां
कड़ुवा तेल 82 88
आलू 10 15
लौकी 10 20
धनिया 70 80
प्याज 8 10
टमाटर 20 30
भिंडी 25 40
परवल 40 50
मिर्च 60 80

इनसेट -------------------
बारिश न हुई तो बुरा असर पड़ेगा
महोबा। थोक व्यापारी नीरज कुमार का कहना है कि यदि 8-10 दिन और बारिश न हुई तो इन वस्तुआें के दाम और बढ़ जाएंगे क्याेंकि बारिश न होने से इनकी आपूर्ति कम हो जाएगी।

इनसेट -------------------
धान के दाम ऊंचे रहने की आशंका
महोबा। थोक व्यापारी सुरेश कुमार का कहना है कि पहले जून माह में ही बारिश शुरू हो जाती थी जिससे धान की बुवाई भी समय पर होने के कारण पैदावार अच्छी होती थी लेकिन इस बार जुलाई में भी बारिश न होने से धान की बुवाई प्रभावित हो रही है जिससे इस बार धान के दाम भी काफी ऊंचे रहने की आशंका है।

इनसेट -------------------
...तो और बढ़ सकते हैं तेल के दाम
महोबा। व्यापारी सूरज साहू का कहना है कि तेल के दाम 15 दिन पहले 82 रुपए किलो थे। जो अब बढ़कर 88 तक पहुंच गए हैं। बारिश न होने के कारण ही दाम बढ़ते जा रहे हैं यदि जुलाई में भी अच्छी बारिश न हुई तो तेल के दाम और बढ़ सकते हैं।

इनसेट -------------------
बढ़ानी होगी अरहर की पैदावार
महोबा। किसान नेता भूपेंद्र कुमार साहू, रामरतन गुरुदेव का कहना है कि अरहर की दाल के दाम सभी दालाें में सबसे अधिक हैं क्याेंकि अरहर की दाल की खपत अधिक है और पैदावार कम। यदि दूसरी दालाें की तरह अरहर की दाल की पैदावार को बढ़ाया जाए तो अरहर की दाल के दाम गिर सकते हैं।

इनसेट -------------------
शक्कर से महंगा हो गया गुड़
वस्तु रेट (रुपए प्रति किलो)
गुड़ 36
शक्कर 34
गेहूं का आटा 14
अरहर की दाल 60
मसूर काली 45
चने की दाल 54

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Prayagraj

यूपी: पान मसाला खाने पर रोकी थी कर्मचारी की वेतन वृद्धि, अब हाईकोर्ट ने रद्द किया आदेश

इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने महोबा जिला प्रशासन के उस आदेश को रद्द कर दिया है जिसके जरिए एक कर्मचारी की दो वार्षिक वेतन वृद्धि इसलिए रोक दी गई थी क्योंकि उसे कार्यालय परिसर में तंबाकू/पान मसाला खाते हुए पाया गया था।

19 नवंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

पत्नी की बीमारी में नहीं मिली छुट्टी, सिपाही ने दी आत्महत्या की धमकी

यूपी पुलिस के एक सिपाही का वीडियो वायरल हुआ है। सिपाही ने वीडियो में बताया कि उसकी पत्नी को लकवा मार गया है पर उसे न छुट्टी मिली, न ही जीपीएफ के पैसे। वीडियो वायरल होने के बाद एसपी ने सिपाही की 45 दिन की छुट्टी मंजूर की।

8 अक्टूबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree