गणेश चीनी मिल पर जड़ा ताला

Maharajganj Updated Tue, 02 Oct 2012 12:00 PM IST
फरेन्दा/भैया फरेन्दा/बनकटी। बकाए की रकम नहीं मिलने पर सोमवार को भारतीय वित्त निगम के अधिकारियों ने फरेन्दा स्थित गणेश चीनी मिल पर ताला जड़ दिया। इसकी सूचना मिलते ही भारी संख्या में मिल के कर्मचारी और नेता मौके पर पहुंच गए। उनके गुस्से को देखते हुए एक घंटे बाद मिल का ताला खोल दिया गया।
गणेश चीनी मिल पर भारतीय औद्योगिक वित्त निगम लिमिटेड दिल्ली का चार करोड़ 20 लाख रुपये बाकी है। 30 जून 2011 को आदेश दिया गया था कि मिल दो महीने के अंदर ब्याज सहित पूरा रुपया जमा कर दे। इस संबंध में वित्त निगम के अधिकारियों ने सीजेएम के यहां प्रार्थना पत्र दिया था। पैसा न देने की स्थिति में एक अक्टूबर को चीनी मिल की संपत्ति का अधिग्रहण करने की बात कहकर सुरक्षा की मांग की गई थी। इसके लिए अधिकारियों को 34,836 रुपये पुलिसकर्मियाें के लिए जमा करना पड़ा। सोमवार सुबह वित्त निगम के अधिकारी धर्मपाल, अनिल चौहान, एसके भंडारी, अनिल कोहली, सतीश कुमार दिल्ली स्थित बीआर इंडिया के 20 सुरक्षा कर्मचारियों के अलावा तीन दरोगा और 20 सिपाहियों को लेकर चीनी मिल गेट पर पहुंच गए। अधिकारियों ने मिल गेट पर ताला बंद कर दिया। मिल पर ताला बंद होने की जानकारी होते ही जदयू नेता विजय सिंह एडवोकेट और फरेंदा के विधायक बजरंग बहादुर सिंह सहित दर्जनों कर्मचारी मौके पर पहुंच गए। ये लोग ताला बंद करने का विरोध करने लगे। इस बीच कर्मचारियों ने नारेबाजी शुरू कर दी। बाद में एसओ अनिल कुमार सिंह दोनों पक्षों को थाने ले आए। वहां आदेश की कापी मांगी। आदेश की कापी जब विजय सिंह एडवोकेट ने पढ़ी तो उसमें कहीं भी कोर्ट का आदेश नहीं था कि मिल पर ताला बंद किया जाए। उन्हाेंने कहा कि मामला हाईकोर्ट में चल रहा है। बाद में मिल से ताला हटाया गया। उसके बाद अधिकारी वापस लौटे।
इस दौरान मिल कर्मचारी नरसिंह बहादुर सिंह, राम उजागिर चौबे, शमशुल हक, शिवनाथ और घनश्याम यादव समेत आदि उपस्थित रहे।
नशे में धुत सुरक्षाकर्मियों के खिलाफ तहरीर
गणेश चीनी मिल के कर्मचारी शिवनाथ, मेवालाल, सुदामा, शमशुल हक और रामराज आदि ने पुलिस को तहरीर दी है कि सिक्योरिटी गार्ड शराब के नशे में आए और कर्मचारियों को पीटने लगे। कर्मचारियों ने किसी तरह भागकर जान बचाई।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, पांच साल की सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

‘पद्मावत’ का विरोध करने वालों ने कहा, सिनेमाघरों के अंदर करेंगे ब्लास्ट

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद देश के कई हिस्सों में ‘पद्मावत’ का विरोध जारी है। यूपी के महराजगंज में विरोध कर रहे लोगों ने कहा कि अगर फिल्म रिलीज होती है तो हम सिनेमा घरों में ब्लास्ट कर देंगे।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls