धन के अभाव में चार बांधों का काम अटका

Lalitpur Updated Sun, 26 Jan 2014 05:51 AM IST
ललितपुर। सिंचाई के लिए समय से पानी मिलने की उम्मीद लगाए जनपद के ग्रामीणों ने प्रस्तावित बांध परियोजनाओं के लिए अपनी जमीन तो विभाग को दे दी पर अभी तक उनको सिंचाई के लिए पानी नसीब नहीं हो सका है। समय से धनराशि नहीं मिलने के कारण पांच में से चार बांधा परियोजनाओं का काम अटका पड़ा है।
जनपद में वर्ष 2008 के दौरान महरौनी तहसील की पांच बांध परियोजनाओं का श्रीगणेश किया गया था। कचनौंदा, लोअर रोहिणी, भौंरट, उटारी व जमड़ार बांधों का निर्माण कार्य एक साथ प्रारंभ हुआ और कार्य पूर्ण होने का लक्ष्य मार्च 2012 रखा गया। उक्त बांधों में से उटारी बांध की लागत 200, जमड़ार की 246, कचनौंदा की 388, लोअर रोहिणी की 152 व भौंरट की 386 करोड़ रुपये आंकी गईं। शासन ने पहली किस्त दी और विभागीय अधिकारियों ने आपसी समझौते के आधार पर भूमि अधिग्रहण और निर्माण कार्य एक साथ प्रारंभ किया। काम शुरू होते देख किसान भी बहुत जल्द पानी मिलने की उम्मीद लगा बैठे। लेकिन, शासन धन देने में कंसूसी करने लगा और परियोजनाओं का निर्माण कार्य अटकता चला गया। इस स्थिति में किसी बांध का स्पिलवे अधूरा पड़ा है तो किसी की अभी तक नहरें नहीं बन सकीं। उटारी बांध को शासन ने अब तक 136, जमड़ार को 60, कचनौंदा को 359, लोअर रोहिणी को 152 भौंरट को महज 28 करोड़ रुपये ही दिए हैं। पूरा धन मिलने के बाद सिर्फ लोअर रोहिणी बांध परियोजना का काम तेजी के साथ चल रहा है। शेष सभी बांधों के लिए अगली किस्त का इंतजार किया जा रहा है। जानकारों का कहना है कि निर्माण कार्य में विलंब से परियोजनाओं की लागत भी बढ़ती जा रही है। इसलिए शासन को समय से धनराशि जारी करनी चाहिए। उधर, बांध परियोजनाओं में जमीन देने वाले किसानों में भी अब आक्रोश पनपता जा रहा है, उनका कहना है कि जमीन लेने के बाद उनको समय से सिंचाई का पानी देना विभाग की जिम्मेदारी है।

अधूरे पड़े हैं ये बांध
बांध का नाम लागत (करोड़ में) जारी धन बकाया धन
उटारी 200 136 64
जमड़ार 246 60 186
भौंरट 386 28 358
कचनौंदा 388 359 29
लोअर रोहिणी 152 152 00

Spotlight

Most Read

National

मौजूदा हवा सेहत के लिए सही है या नहीं, जान सकेंगे आप

दिल्ली के फिलहाल 50 ट्रैफिक सिग्नल पर वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) डिस्पले वाले एलईडी पैनल पर यह जानकारी प्रदर्शित किए जाने की कवायद हो रही है।

19 जनवरी 2018

Related Videos

झांसी में हारे हुए प्रत्याशी ने नवनिर्वाचित पार्षद को मारी गोली

झांसी में नवनिर्वाचित निर्दलीय प्रत्याशी अनिल सोनी को गोली मार दी गई। गोली हारने वाले निर्दलिय प्रत्याशी मोहित चौहान ने मारी है। बता दें गोली जीते हुए प्रत्याशी अनिल सोनी के सिर से छूते हुए निकली। फिलहाल अनिल सोनी की हालत स्थिर बनी हुई है।

2 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper