बारिश ने किसानों को संकट में डाला

Lalitpur Updated Sat, 25 Jan 2014 05:51 AM IST
ललितपुर। अधिक बारिश से खराब हुई खरीफ की सफल के बाद रबी की फसल पर भी प्रकृति की मार पड़ी है। विगत दिनों हुई बारिश से खेतों में चना, मटर, मसूर व सरसों की फसल सड़ने लगी है। किसानों को शासन की ओर से मदद का इंतजार है।
जून व जुलाई माह में अधिक बारिश होने की वजह से खेत जलमग्न हो गए थे। इस कारण उर्द, मूंग, मूंगफली, सोयाबीन की फसल मर गई थी। प्रशासन के निर्देश पर लेखपालों ने खराब फसल का सर्वे किया और करीब एक अरब का नुकसान बताते हुए शासन को रिपोर्ट भेजी गई। लेकिन, छह माह बीतने के बाद भी किसानों को क्षतिपूर्ति राशि नहीं मिल पाई है। केसीसी व साहूकारों से उधार लेकर किसानों ने रबी की फसल खेतों मे बो दी। खेतों की लहलहाती फसल को देखकर किसानों को घाटा पूरी होने की संभावना थी, लेकिन विगत दिनों हुई लगातार बारिश से उनके सपने चकनाचूर हो गए। खेतों में पानी भरने से चना मटर, मसूर, सरसों की फसल खेतों में ही सड़ने लगी है। रबी की फसल पर पानी गिरने से किसानों की कमर टूट चुकी है। गेहूं को छोड़कर अन्य फसल मरने लगी हैं। अब किसानों के सामने भुखमरी की समस्या गहराने लगी है। शासन की ओर से जल्द मदद नहीं दी गई तो उनके सामने घर चलाने का संकट खड़ा हो जाएगा।

इंजन से पानी निकाल रहे किसान
धौर्रा(ललितपुर)। मौसम की मार से परेशान किसान अब अपनी फसल को बचाने के लिए जुट गया है। कस्बा धौर्रा के आसपास डीजल इंजन रखकर खेतों से पानी निकालने का काम किया जा रहा है।
धौर्रा, जाखलौन, जीरोन, बरखेरा, पिपरई, पिपरिया, ककरुआ, दावनी, परौंदा आदि क्षेत्रों में बारिश होने से तालाब भर गए हैं। रबी की फसल को बचाने के लिए किसान डीजल इंजन से पानी निकालने में जुटे हुए हैं। आसमान में बादल छाने के कारण भगवान भास्कर भी बादलों में छिपे हुए हैं, जिससे फसलों को प्रकाश नहीं मिल पा रहा है।

Spotlight

Most Read

National

अयोग्य घोषित 8 विधायक फिर पहुंचे हाईकोर्ट, बोले- हमारा पक्ष नहीं सुना गया 

लाभ के पद के मुद्दे पर सदस्यता गंवाने वाले आम आदमी पार्टी के 20 में से आठ विधायकों ने मंगलवार को हाईकोर्ट में पुन: याचिका दायर कर सदस्यता रद्द करने के निर्णय को गैर कानूनी बताया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

झांसी में हारे हुए प्रत्याशी ने नवनिर्वाचित पार्षद को मारी गोली

झांसी में नवनिर्वाचित निर्दलीय प्रत्याशी अनिल सोनी को गोली मार दी गई। गोली हारने वाले निर्दलिय प्रत्याशी मोहित चौहान ने मारी है। बता दें गोली जीते हुए प्रत्याशी अनिल सोनी के सिर से छूते हुए निकली। फिलहाल अनिल सोनी की हालत स्थिर बनी हुई है।

2 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper