बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

ओला पीड़ित किसानों ने किया प्रदर्शन

Lalitpur Updated Sat, 09 Feb 2013 05:31 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
ललितपुर। जनपद में विगत दिनों हुई बारिश व ओलावृष्टि ने किसानों की फसल बर्बाद कर दी है। कुदरत की इस मार से कम जोत वाले किसानों की हालत बेहद दयनीय हो गई है। शुक्रवार को विभिन्न क्षेत्रों से जिला मुख्यालय पहुंचे ग्रामीणों ने प्रदर्शन किया तथा एसडीएम सदर को ज्ञापन देकर मुआवजा दिलाए जाने की मांग की।
विज्ञापन

बीते सोमवार, मंगलवार व बुधवार की रात्रि जनपद के ग्रामीण क्षेत्रों में जोरदार बारिश व ओलावृष्टि से हजारों एकड़ खेतों में तैयार खड़ी चना, मसूर, मटर व सरसों की फसल प्रभावित हुई है। लगभग अस्सी फीसदी फसल बर्बाद होने का अनुमान है। कुदरत की मार से आहत नीमखेरा, हरपुरा, सलैया, कुलुआ, कलरव, कलौथरा, सलैया समेत दो दर्जन ग्रामीण क्षेत्रों से मुख्यालय आए ग्रामीणों ने कलेक्ट्रेट में जोरदार प्रदर्शन किया। ग्रामीणों ने बताया कि पहले पाले ने उनकी फसलों को प्रभावित किया, रही सही कसर बारिश व ओलावृष्टि ने पूरी कर दी। किसानों ने उप जिलाधिकारी सदर आनंद स्वरूप को प्रार्थनापत्र देकर बताया है कि उनके किसान क्रेडिट कार्ड से फसल बीमा का धन काट लिया जाता है अब जल्द से जल्द उनको बीमित फसल की क्षतिपूर्ति दिलाई जाए। प्रशासनिक अधिकारियों ने किसानों से कहा है कि क्षतिपूर्ति के आंकलन को गठित टीमें ग्रामीण क्षेत्रों का निरीक्षण कर रही हैं, रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की जाएगी। इस मौके पर रल्ली, हरचरन, शिवचरन, बारेलाल, लछू, बालकिशन, रघुवर, शंकर, कनई, परसू, शंकर सिंह, अर्जुन, ग्यासी, राधे, प्रताप, बाबूलाल, कमला, राजपाल सिंह, गिन्नीराजा, हनू, भूरे, रामचरन, भागीरथ, हुकुम, राजकुमार, कैलाश, बटोले, आशाराम, मंगू, चउदे आदि मौजूद रहे।





मुआवजा न मिला तो अनिश्चित कालीन धरना
ललितपुर। जनपद में ओलावृष्टि से बर्बाद हुईं फसलों का मुआवजा दिलाने के लिए भारतीय किसान यूनियन सक्रिय हो गई है। यूनियन ने शीघ्र मुआवजा न दिए जाने की स्थिति में तेरह फरवरी से अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है।
भारतीय किसान यूनियन के नेताओं ने उप जिलाधिकारी सदर आनंद स्वरूप से मुलाकात की। किसान नेताओं ने उप जिलाधिकारी सदर को बताया कि ओलावृष्टि के कारण किसानों को लाखों रुपये का नुकसान हुआ है। खासकर महरौनी क्षेत्र में तो ओलावृष्टि व बारिश ने जमकर तबाही मचाई है। भाकियू के मंडल उपाध्यक्ष लाखन सिंह पटेल ने कहा कि सर्वे में राजस्व अधिकारी बर्बाद फसल का कम आंकलन करते हैं, जिससे पात्र किसानों को मुआवजा नहीं मिल पाता। इसलिए प्रशासनिक अधिकारी किसी अन्य विभाग से नुकसान का सर्वेक्षण कराएं ताकि किसानों को उचित क्षतिपूर्ति मिल सके। जल्द मुआवजा घोषित न होने पर तेरह फरवरी को जिले के समस्त किसान भाकियू के बैनर तले बनयाना स्थित पटेल इंटर कालेज के पास मंडल अध्यक्ष चौधरी विश्राम सिंह काका के नेतृत्व में अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन शुरू कर देंगे। इस मौके पर तहसील अध्यक्ष रंजीत सिंह यादव, प्रकाश कोंते, सुरेश कुमार टोंटे, कैलाश, वीर सिंह प्रधान, महेंद्र पटेल, जाहर नंदलाल, भागीरथ, सोवरन सिंह, रूप सिंह, ग्यासी, बारेलाल, इंद्रपाल, सूर्य सिंह, रमेश आदि मौजूद रहे।



बर्बाद फसल का जल्द मिलेगा मुआवजा
जिला पंचायत अध्यक्ष ने राहत एवं पुनर्वास मंत्री को कराया अवगत
अमर उजाला ब्यूरो
ललितपुर। बारिश व ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों के नुकसान की भरपाई के लिए जिला पंचायत अध्यक्ष भी सक्रिय हो गए हैं। उन्होंने प्रशासनिक अधिकारियों के अलावा राहत एवं पुनर्वास मंत्री अंबिका चौधरी को भी हालातों से अवगत करा दिया है।
जिलापंचायत अध्यक्ष प्रमोद बड़ौनियां ने बताया है विगत दिनों महरौनी ब्लाक अंतर्गत ग्राम बारोन, भूसरा, बगसपुर, कोरवास, बलीराम, बम्हौरी, खिरिया, कुम्हैड़ी, मुड़िया, लरगन, सौजना, मैगुआं, लहरन, बंगरुआ, भदौरा, छापछौल मड़ावरा ब्लाक के अर्जुन खिरिया, बनयाना, महाराजपुरा, झरावटा, गुढ़ा पडुरिया, दैनपुरा, गदनपुर, ककरूआ, धौलपुर गदौरा, गुढ़ा खिरिया, डोंगरा, जामनीबांध, बछरई, मकरीपुर ललतापुर में बारिश व ओलावृष्टि से हजारों एकड़ फसल प्रभावित हुई है। गेहूं की बालियां झड़ गई हैं, तो सरसों के पौधे से फूल गायब हो गए हैं। वहीं, मसूर, चना व मटर की फसल भी बरबाद हो गई, जिसकी वजह से किसान परेशान हैं। बड़ौनिया का कहना है महरौनी व मड़ावरा में प्रशासनिक अधिकारी नुकसान का आंकलन कर रहे हैं, रिपोर्ट तैयार होते ही राहत आयुक्त को भिजवा दी जाएगी।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us