विज्ञापन

टीकमगढ़ लाइन पर फरवरी में दौड़ेगी पैंसेजर ट्रेन

Lalitpur Updated Fri, 25 Jan 2013 05:31 AM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
ललितपुर। एक महीने बाद टीकमगढ़ रेल लाइन पर दौड़ेगी पैसेंजर ट्रेन। गाड़ी के संचालन को प्रस्तावित फरवरी माह की तिथि पर अंतिम मुहर चीफ रेलवे सेफ्टी (सीआरएस) के निरीक्षण के बाद लग जाएगी। इसके पूर्व बृहस्पतिवार को रूट का जायजा लेने आए मंडल रेल प्रबंधक छुटपुट कमियों को छोड़कर अब तक की तैयारियों से संतुष्ट दिखाई दिए।
विज्ञापन

मंडल रेल प्रबंधक झांसी नवीन चौपड़ा ने बृहस्पतिवार को विभागीय अफसरों के साथ ललितपुर से 54 किलोमीटर दूर स्थित टीकमगढ़ रूट पर चल रहीं तैयारियों का जायजा लिया। डीआरएम के दल ने रेलवे स्टेशन, पटरी व पुलों का बारीकी से निरीक्षण किया। स्थानीय स्तर की तैयारियों का जायजा लेने के बाद उनकी विशेष ट्रेन टीकमगढ़ रुट की ओर रवाना हुई। ललितपुर रेलवे स्टेशन से कुछ ही दूरी पर स्थित नेशनल हाइवे 26 के आगे ट्रेन रोककर डीआरएम ने पुल, पटरी व ट्रेन के पड़ने वाले भार के संबंध में इंजीनियरों से जानकारी ली। इसके बाद वापस ट्रेन में सवार होकर पहली स्टेशन बिरारी की ओर रवाना हो गए। इस दौरान उन्होंने बीच बीच में बनाए गए बड़े पुलों का निरीक्षण किया। बिरारी स्टेशन पर सिग्नल उपकरणों आदि की जानकारियां अधिकारियों से लीं। बिरारी स्टेशन के कर्मचारियों ने बताया कि स्टेशन पर सभी काम पूर्ण हो गए हैं। बिरारी स्टेशन से उदयपुरा का निरीक्षण करके टीकमगढ़ पहुंचे, जहां उन्होंने सिग्नल केबल के कट जाने पर नाराजगी जताई और इसको तत्काल जोड़ने को कहा। सफाई व्यवस्था के अभाव में नए भवनों के शीशे व बाथरूम में गदंगी पाए जाने पर संबंधित अफसरों को समुचित सफाई व्यवस्था के लिए निर्देशित किया। इसके बाद डीआरएम ने टीकमगढ़ से छह किलोमीटर दूर कुंडेश्वर स्थित पवित्र भोलेनाथ मंदिर में दर्शन किए और टीकमगढ़ होते हुए ललितपुर आ गए। शाम को उनकी ट्रेन झांसी कीओर वापस रवाना हो गई। डीआरएम ने अपने निरीक्षण के दौरान स्टेशन व पुलों को मिलाकर कुल दस स्थानों पर गहन निरीक्षण किया और कमियों को दूर करने के लिए संबंधित अफसरों को निर्देशित किया। डीआरएम के साथ सीनियर डीईएन नवीन बाबू, एईएन डीके दिनकर, एएसटीई अजय प्रसाद, वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक अनुराग पटैरिया, सीनियर डीसीएम संजय सिंह आदि मौजूद रहे। ललितपुर रेलवे स्टेशन अधीक्षक एमएल रावत ने बताया कि टीकमगढ़ लाइन पर ट्रेन शुरू करने के संबंध में चीफ रेलवे सेफ्टी (सीआरएस) की टीम अंतिम रूप से फरवरी में जांच करेगी। इसके पूर्व मंडल रेल प्रबंधक उनको टीकमगढ़ तक रेलवे स्टेशनों व पुलों के निरीक्षण की रिपोर्ट देंगे। संभावना जताई जा रही है कि सीआरएस की टीम की मुहर लगते ही इस रुट पर फरवरी के अंतिम सप्ताह में ट्रेन दौड़ने लगेगी।
फिश प्लेट व चाबी पर नहीं पड़ी नजर
ललितपुर। मंडल रेल प्रबंधक नवीन चौपड़ा के निरीक्षण के दौरान अनेक स्थानों पर खामियां देखी गईं। ललितपुर रेलवे स्टेशन से कुछ ही दूरी पर स्थित रेल पुल पर पटरी से फिश प्लेट व चाबी पहले ही उखड़ गई थी, जबकि इस रुट पर अभी ट्रेन का नियमित संचालन नहीं हुआ है, हालांकि डीआरएम की नजर इस पर नहीं पड़ी।



रेलवे स्टेशन पर दिखाई दीं अव्यवस्थाएं
ललितपुर। सुबह लगभग दस बजे टीकमगढ़ लाइन के निरीक्षण को आए मंडल रेल प्रबंधक पहले रेलवे स्टेशन पर व्याप्त अव्यवस्थाओं से रूबरू हुए, इस पर नाराज़गी जताते हुए उन्होंने अफसरों को सुधार की हिदायत दी।
मंडल रेल प्रबंधक नवीन चौपड़ा ने अपने दल के साथ ललितपुर स्टेशन पर यात्रियों को मिल रहीं सुविधाओं का जायजा लिया। मुख्य गेट पर जानवरों को घुसने से रोकने के लिए रेलिंग नहीं लगी थी। प्लेटफार्म नंबर दो व तीन स्लेव का काम भी अधूरा मिला। स्टेशन पर नई किराया सूची भी नदारद थी। टोटियां खराब होने के कारण प्याऊ का पानी बहकर बर्बाद हो रहा था। फुटओवर ब्रिज की खिड़की टूटी मिली। इन तमाम कमियों को देखकर मंडल प्रबंधक ने नाराजगी जताई तथा उनको दूर करने के लिए विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया। मंडल प्रबंधक ने बरसात में यात्रियों को पानी से बचाने के लिए नए फुटओवर ब्रिज से लेकर पुराने फुटओवर ब्रिज तक टीन शेड लगाने के भी निर्देश दिए।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us