विज्ञापन

कड़ाके की ठंड से प्रभावित रहा जनजीवन

Lalitpur Updated Fri, 28 Dec 2012 05:30 AM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
ललितपुर। बृहस्पतिवार की सुबह समूचा नगर कोहरे की धुंध में ढंका रहा। सर्द हवाओं की ठिठुरन के चलते लोग
विज्ञापन
घरों में दुबके रहे, वहीं सड़क पर वाहन चालकों को हेड लाइट जलाकर सफर करना पड़ा। सुबह साढ़े दस बजे जब सूर्य भगवान के दर्शन हुए तब कहीं लोगों को कुछ राहत मिली।
उत्तरी क्षेत्रों में बर्फबारी से जनपद में ठंड बढ़ गई है। लगातार चल रही सर्द हवाओं का असर आम जनजीवन पर पड़ रहा है। सर्दी के मद्देनजर प्रभारी जिलाधिकारी ने कक्षा आठ तक के स्कूलों में शीतकालीन अवकाश घोषित कर दिया है। रोजाना सुबह व शाम कोहरे के कारण प्रमुख चौराहों पर सन्नाटा पसरने लगा है। अधिकांश दुकानदार अपने प्रतिष्ठान जल्दी बंद कर घरों में दुबकने लगे हैं। हाड़ कंपा देने वाली ठंड से मानव के साथ पशु पक्षी भी परेशान हो रहे हैं। सुबह और शाम के वक्त कोहरा इतना घना हो रहा है कि दस फुट आगे का भी दिखाई नहीं दे रहा है। इस कारण आपे टैक्सी, चार पहिया वाहन, बाइक सहित अन्य वाहन चालक अपने वाहन की हेड लाइट जलाकर सफर करने को मजबूर रहे। इधर, नगर पालिका व तहसील के सहयोग से जलने वाले अलाव की पर्याप्त व्यवस्था न होने से मजदूर वर्ग के लोग ठिठुरते दिखाई दिए। पीएन इंटर कालेज परिसर में स्थित रैन बसेरा नहीं खुलने से गरीबों को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा है। कोहरे के कारण रबी के मौसम की फसल गेहूं, चना, मटर, सरसों आदि पर बर्फ जम जा रही है, इस कारण फसल के उत्पादन पर भी प्रभाव पड़ने की आशंका बढ़ गई है।


अधिकांश जगह नहीं जल रहे अलाव
नगर में कैलगुंवा, मवेशीबाजार, रामलीला तिराहा, आजादचौक, पुराना बस स्टैंड, सुपर मार्केट, रैन बसेरा, तुवन चौराहा, वर्णी चौराहा, रेलवे स्टेशन, इलाइट चौराहा, घंटाघर, नदीपुरा, बस स्टैंड सहित कुल बीस स्थानों पर नगर पालिका व तहसील के सहयोग से अलाव जलवाए जाने का दावा किया गया है। लेकिन, हकीकत यह है कि अधिकांश स्थानों पर अलाव के स्थान पर आपको न तो लकड़ी मिलेगी और न ही राख। इस कारण लोगों को ठिठुरन का सामना करना पड़ रहा है।


रजाई भरवाने के दाम उछले
ठंड का प्रकोप बढ़ने से रजाई भरने वालों के व्यापार में गरमी आ गई है। दीपावली के आसपास ठंड का प्रकोप न के बराबर होने से गद्दे रजाई भरने वाले व्यापारियों का व्यापार इस बार घाटे का सौदा लग रहा था, लेकिन सर्द हवाओं के साथ कोहरा छाने से उनके व्यापार में उछाल आ गया है। मांग बढ़ने से साठ रुपये में भरने व तगने वाली रजाई अब अस्सी रुपए में भरी जा रही है। नझाई बाजार स्थित रजाई गद्दा भरने का व्यवसाय करने वाले जमाल चच्चा बताते हैं कि अब व्यापार ठीक चल निकला है, ग्राहकों की आवक भी बढ़ गई है।


इनका कहना है
‘ठंड को देखते हुए नगर पालिका की ओर से चौदह व तहसील की ओर से छह स्थानों पर अलाव जलवाए जा रहे हैं। आने वाले दिनों में गरीबों के लिए गर्म कंबल वितरित करवाए जाएंगे। एक रैन बसेरा के बाद आज से दूसरा रैन बसेरा भी गरीबों के लिए खोल दिया गया है।’
सुभाष जायसवाल, नगर पालिका अध्यक्ष


----------
कपड़ों के अभाव में ठंड से लड़
रहे मानसिक विक्षिप्त व भिखारी
ललितपुर। कड़ाके की ठंड से बचने के लिए जहां लोग तमाम जतन कर रहे हैं, वहीं नगर के प्रमुख चौराहों, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन व चिकित्सालय के आसपास भटक रहे भिखारी एवं मानसिक विक्षिप्त लोग भगवान भरोसे जीवन यापन कर रहे हैं।
इनके तन पर न तो पूरे कपड़े हैं और न ही ठंड से बचने का कोई होश। इससे भी बड़ी दुर्भाग्यपूर्ण बात यह है कि ऐसे लोगों पर न तो जनप्रतिनिधियों की दृष्टि ठहर रही है और न जिला प्रशासन की। बीते रोज ऐसी की एक विक्षिप्त महिला की दशा पर तरस खाकर कुछ दरियादिल लोगों ने उसे रजाई मुहैया करा दी थी, लेकिन जब उसे पनाह देने के लिए पनारी स्थित चैरिटी होम से संपर्क किया गया तो उन्होंने हाउसफुल होने की बात कहकर हाथ खड़े कर लिए थे। ऐसे हालातों में यह लोग अपने हाल पर भगवान भरोसे ठंड से लड़ रहे हैं। जागरूक लोगों ने इस दिशा में जनप्रतिनिधियों व स्वयंसेवी संस्थाओं से मदद के लिए आगे आने की अपील की है।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Health & Fitness

जिले में 25 बच्चों में फाइलेरिया पाया गया पोजिटिव

जिले में फाइलेरिया ने अपने पैर पसार लिए हैं। 12 से 16 नवंबर तक चले रेंडम सर्वे में 25 बच्चों में फाइलेरिया के लक्षण पॉजीटिव पाए गए हैं। इससे स्वास्थ्य विभाग में खलबली मच गई है।

18 नवंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

ललितपुर में एसडीएम ने की आत्महत्या, पत्नी बोली इस वजह से थे परेशान

ललितपुर जिले में तैनात एसडीएम हेमेंद्र कुमार ने अपने आवास पर एक होमगार्ड की राइफल लेकर खुद को गोली मारी है। घटना के बाद इन्हें जिला अस्पताल लाया गया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। हेमंत कुमार की पत्नी ने आत्महत्या की वजहें बताई हैं।

30 सितंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree