मिसाल है बाबा सदन की नगरी

Lalitpur Updated Thu, 06 Dec 2012 05:30 AM IST
ललितपुर। बाबा सदन की नगरी ललितपुर सांप्रदायिक सौहार्द की जीवंत मिशाल हैं, जहां मुस्लिम अपने कंठ से बजरंग बली की स्तुति गाते हैं, तो वहीं हिंदू बाबा सदनशाह की दरगाह पर शीश झुकाकर भाईचारे की भावना का संदेश देते हैं, यही कारण है कि जिले का सौहार्दपूर्ण वातावरण अब तक अक्षुण्य बना हुआ है।
सूफी संत बाबा सदनशाह के बारे में कहा जाता है कि वे भगवान कृष्ण के उपासक थे और भगवान शालिगराम बटैया से वे पाव से लेकर कई किलोग्राम वजन का मीट तौलते थे। इसका प्रमाण भक्त माल सहित विभिन्न धार्मिक पुस्तकों में मिलता है। मुस्लिम के साथ हिंदू धर्मावलंबियों में बाबा सदनशाह का नाम बड़ी ही शिद्दत के साथ लिया जाता है। उनकी दरगाह पर लगने वाले सालाना उर्स के मौके पर लाखों की संख्या में हिंदू एवं मुस्लिम बाबा की दरगाह पर चादर चढ़ाकर शीश झुकाते हैं। जनपद में मनाए जाने वाले त्यौहारों की बात करें तो हिंदुओं के त्यौहार दीपावली, दशहरा, होली आदि में मुस्लिम वर्ग के लोग शरीक होते हैं, वहीं ईद व रमजान के मौके पर हिंदू उनसे गले मिलकर मुबारकबाद देते हैं। महत्वपूर्ण बात यह है कि एकता की भावना से ओतप्रोत नगर के कुछ लोग लंबे समय से हिंदू मुस्लिम एकता की कभी खत्म न होने वाली रवायत को निभा रहे हैं। इन लोगों ने अमर उजाला से बातचीत में जनपद की एकता को कायम रखने पर जोर दिया है।

25 वर्षों से दे रहे भाईचारे का संदेश
हिन्दी उर्दू अदबी संगम संस्था अपने आयोजनों से कौमी एकता का संदेश पिछले 25 वर्षों से दे रही है। संस्था के अध्यक्ष व कवि रामकृष्ण कुशवाहा एडवोकेट कहते हैं ‘सियासत काम करती है, अफवाहों को उड़ाने में, वक्त पल भर नहीं लगता बस्तियां जलाने में, सबसे तेज होती है दिलों में आग नफरत की, सदियां गुजर जाती हैं इस आग को बुझाने में।’


सभी धर्मों की स्तुति करते तय्यूब
नगर के एक बैंड के मशहूर गायक तय्यूब खान के गीतों के बगैर हनुमान जयंती की शोभायात्रा अधूरी लगती है। उनके कंठ से हनुमान जी की स्तुति और रामायण की चौपाइयां सुनने को श्रद्धालु बेचैन रहते हैं। धार्मिक भजन गाने में उनका कोई सानी नहीं है। तय्यूब कहते हैं कि 25 वर्षों से वे संगीत की आराधना कर रहे हैं। उनका मानना है कि राम, अल्लाह, गुरु गोविंद, महावीर सब एक ही ईश्वर के अनेक रुप हैं।


चार पीढ़ी से कर रहा सेवा
राजेश चौरसिया ऐसे दुकानदार हैं जो कब्र का सामान सजाते आ रहे हैं। राजेश कहते हैं कि मुस्लिम भाईयों की सेवा करते हुए यह मेरी चौथी पीढ़ी है। साबुन, इत्र, केवड़ा, कपूर, अगरबत्ती, मुल्तानी मिट्टी, तेल आदि की खरीददारी करने के लिए मुस्लिम भाई यहां आते हैं, मैं उनका तहेदिल से स्वागत करता हूं।

रामलीला में खास हैं जमाल चच्चा
श्री नृसिंह रामलीला समिति तालाबपुरा में हारमोनियम वादक जमाल चच्चा अकेले मुस्लिम हैं, जिनका संगीत सभी धर्म के लोगों का आकर्षित करता है। जमाल चच्चा कहते हैं कि संगीत की कोई कौम नहीं होती, जिस पर अल्लाह की कृपा होगी, उसे यह विद्या हासिल हो जाती है। लोग आपस में मिल जुलकर रहें, यही कामना है।


एकता की मिठास घोलते ललितपुरी
मशहूर शायर असर ललितपुरी अपनी शेर - शायरी से हिन्दी उर्दू एकता में मिठास घोलते आ रहे हैं। उन्होंने विदेशों में भी एकता का संदेश दिया है। उनका कहना है कि ‘भारत के निगेहवान जरा प्यार तो कर लें, ये हिंदू मुसलमान जरा प्यार तो कर लें, पल भर में सुलझ जाएंगे, सदियों के मसाइल, इंसान से इंसान जरा प्यार तो कर लें’।



न विजय दिवस मनेगा और न काला दिवस
सात दिसंबर तक प्रभावी रहेगी धारा 144
अमर उजाला ब्यूरो
ललितपुर। राज्य सरकार ने छह दिसंबर को होने वाले विभिन्न आयोजनों पर रोक लगा दी है, जिसके तहत अब न तो जिले में विजय दिवस मनाया जा सके गा और न ही काला दिवस। इस अवधि में त्योहारों के दौरान शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए अपर जिला मजिस्ट्रेट ने सात दिसंबर तक धारा 144 को प्रभावी कर दिया है।
अपर जिला मजिस्ट्रेट महेश प्रसाद ने कहा है कि छह दिसंबर को विजय दिवस अथवा काला दिवस मनाने की अनुमति किसी को नहीं होगी। उन्होंने बताया कि छह दिसंबर को बाबा साहब डा. भीमराव अंबेडकर निर्वाण दिवस होगा। जिसे दृष्टिगत रखते हुए जिले में पांच से सात दिसंबर तक धारा 144 प्रभावी कर दी गई है, जिसका उल्लंघन करने वालों के खिलाफ धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी।

स्टेशन पर चला चेकिंग अभियान
ललितपुर। छह दिसंबर के मद्देनजर जीआरपी व आरपीएफ दल ने रेलवे स्टेशन पर संयुक्त रूप से चेकिंग अभियान चलाया। इस दौरान रेलवे प्लेटफार्म, माल गोदाम, रेलवे पुल, रेलवे क्रासिंग एवं विभिन्न रेलगाड़ियों में रखे सामान की जांच की गई तथा यात्रियों को संदिग्ध वस्तुओं से सजग रहने और उसकी जानकारी रेलवे प्रशासन को देने की अपील की गई।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

16 जनवरी 2018

Related Videos

झांसी में हारे हुए प्रत्याशी ने नवनिर्वाचित पार्षद को मारी गोली

झांसी में नवनिर्वाचित निर्दलीय प्रत्याशी अनिल सोनी को गोली मार दी गई। गोली हारने वाले निर्दलिय प्रत्याशी मोहित चौहान ने मारी है। बता दें गोली जीते हुए प्रत्याशी अनिल सोनी के सिर से छूते हुए निकली। फिलहाल अनिल सोनी की हालत स्थिर बनी हुई है।

2 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper