चार बच्चों समेत कुएं में कूदी महिला

Lalitpur Updated Tue, 23 Oct 2012 12:00 PM IST
ललितपुर। कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत ग्राम बुढ़वार में गृहकलह से तंग आकर एक महिला ने अपने चार मासूम बच्चों समेत कुएं में छलांग लगा दी। मां समेत तीन बच्चों को ग्रामवासियों ने कुएं से जीवित निकाल लिया, जबकि पांच वर्षीय बालिका की पानी में डूबने से मौत हो गई।
ग्राम बुढ़वार के मुहल्ला गांधी चौक निवासी शहीद का विवाह बिरधा निवासी शायरा से दस वर्ष पूर्व हुआ था। शहीद अपने परिवार से अलग खेतीबाड़ी करके अपने चार बच्चों का भरण पोषण कर रहा था, पिछले कुछ दिनों से पारिवारिक कारणों के चलते पति- पत्नी के बीच विवाद चल रहा था, जिससे तंग आकर सोमवार की सुबह शायरा ने आत्मघाती कदम उठाने का निर्णय ले लिया, वह अपनी आठ वर्षीय पुत्री तमन्ना, पांच वर्षीय पुत्री तसलीम, तीन वर्षीय पुत्र अरमान एवं एक वर्षीय पुत्र अनीस को नहलाने की बात कहकर घर से कुछ दूरी पर स्थित तुलसी कुशवाहा के खेत में स्थित कुएं पर ले आ आई और बारी-बारी से चारों बच्चों को कुएं में फेंक कर उसने भी छलांग लगा दी। यह नज़ारा देख कुएं के नजदीक स्थित खेतों में बकरियां चरा रहे सलमान, जगदीश, बबलू एवं रफीक शोर मचाते हुए कुएं की ओर भागे और कुएं में कूदकर शायरा के साथ तमन्ना, अरमान एवं अनीस को जीवित बाहर निकाल लिया, लेकिन तब तक पांच वर्षीय तसलीम गहरे पानी में समां चुकी थी।
प्रधान प्रतिनिधि आलोक चौबे से घटना की सूचना पाकर क्षेत्राधिकारी सदर एस के शुक्ल, कोतवाली प्रभारी उदयभान सिंह यादव, नेहरू नगर चौकी इंचार्ज वरुण प्रताप सिंह मौके पर पहुंचे और तसलीम को निकालने के लिए गोताखोरों को कुएं में उतारा, लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली। इसके बाद अग्निशमन अधिकारी रामदास निराला के नेतृत्व में फायर ब्रिगेड के प्रहलाद सिंह यादव, चिरंजी लाल पटेल, सूर्यभान सिंह, शालिगराम एवं रामप्रकाश आदि ने कुएं में कांटे डालकर आधा घंटे की मशक्कत के बाद तसलीम को कुएं से बाहर निकाल लिया। दो घंटे तक पानी में डूबे रहने से उसकी मौत हो चुकी थी।


उत्पीड़न से तंग आकर उठाया कदम: शायरा
ललितपुर। तीन बच्चों के साथ कुएं से निकाले जाने के बाद शायरा ने आरोप लगाया कि उत्पीड़न से तंग आकर उसने यह कदम उठाया है। दो दिन पूर्व पति ने उसके साथ मारपीट की थी। सत्रह अक्टूबर को उस पर दस हजार रुपये लेकर घर से भाग जाने का आरोप लगाते हुए उसके खिलाफ कोतवाली पुलिस को शिकायती पत्र भी दिया गया था, जिससे तंग आकर उसने अपने बच्चों सहित जान देने का निर्णय ले लिया। शायरा ने यह भी कहा है कि षड्यंत्र के तहत उसे पागल भी करार दिया जा रहा है।


मां से कहा था, मुझे मत डुबाओ: तमन्ना
ललितपुर। मौत के मुंह से निकली मासूम तमन्ना ने बताया कि सोमवार सुबह वह चावल पका रही थी, तभी मां अचानक उसे नहलाने के लिए ले जाने लगी, लेकिन वह उसके इरादों को नहीं समझ पाई। कुएं पर पहुंचते ही मां उसे पकड़कर कुएं में धकेलने लगी, जिस पर उसने कहा कि मां मुझे पानी में मत डुबाओ, लेकिन मां नहीं मानी और बहन भाइयों के साथ उसे कुएं में फेंक दिया।


पति ने मानसिक विक्षिप्त बताया
ललितपुर। घटना की जानकारी मिलने के बाद बुढ़वार लौटा शायरा का पति शहीद मृत पुत्री को देख बिलख बिलख कर रो पड़ा। इस दौरान उसने कहा कि शायरा मानसिक रूप से विक्षिप्त है, जिसके चलते वह आए दिन झगड़ती रहती है, जिसकी शिकायत उसके परिजनों से करने के लिए वह अपनी ससुराल बिरधा गया था, लेकिन रास्ते में ही उसे इस दुखद हादसे की जानकारी मिली।

इनका कहना है-
‘मृतक पक्ष की ओर से तहरीर ली जा रही है, जिसके आधार पर संबंधित के विरुद्ध नियमानुसार वैधानिक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी’
उदयभान सिंह यादव
कोतवाली प्रभारी निरीक्षक, ललितपुर।

Spotlight

Most Read

Bihar

नीतीश के काफिले पर पथराव के बाद जेड प्लस सुरक्षा देगी मोदी सरकार

बिहार के मुख्यमंत्री के काफिले पर कुछ दिनों पहले हुए हमले के मद्देनजर नीतीश कुमार को जेड प्लस श्रेणी सुरक्षा दी जाएगी।

19 जनवरी 2018

Varanasi

मऊ की खबर

20 जनवरी 2018

Related Videos

झांसी में हारे हुए प्रत्याशी ने नवनिर्वाचित पार्षद को मारी गोली

झांसी में नवनिर्वाचित निर्दलीय प्रत्याशी अनिल सोनी को गोली मार दी गई। गोली हारने वाले निर्दलिय प्रत्याशी मोहित चौहान ने मारी है। बता दें गोली जीते हुए प्रत्याशी अनिल सोनी के सिर से छूते हुए निकली। फिलहाल अनिल सोनी की हालत स्थिर बनी हुई है।

2 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper