दो लाख बच्चों को मिलेंगी स्वास्थ्य सुविधाएं

Lalitpur Updated Fri, 19 Oct 2012 12:00 PM IST
ललितपुर। ‘आर्शीवाद’ बाल स्वास्थ्य गारंटी योजना के पहले चरण में दो से सोलह वर्ष की आयु के लगभग दो लाख बच्चों को नि:शुल्क स्वास्थ्य सुविधाएं दिलाई जाएंगी। अब तक एक लाख नब्बे हजार नौ सौ इकसठ स्कूली बच्चों को चिह्नित किया जा चुका है, इनका हेल्थ कार्ड बनाकर स्वास्थ्य परीक्षण कराकर रुग्णता के आधार पर उपचार कराया जाएगा।
पहले चरण में चिह्नित किए गए सरकारी स्कूलों में अध्ययनरत बच्चों में 94618 लड़के एवं 96283 लड़कियां हैं। जिले के इन बच्चों को जल्द ही स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ मिलने लगेगा। बच्चों को नि:शुल्क स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ दिलाने के लिए ‘आर्शीवाद’ बाल स्वास्थ्य गारंटी योजना संचालित की रही है, जिसके तहत चिह्नित किए गए बच्चों की शारीरिक जांच के बाद उन्हें संबंधित कमियों के उपचार के लिए चिकित्सालय भिजवाया जाएगा। स्वास्थ्य परीक्षण के लिए एक मेडीकल टीम गठित की जा रही है, जिसमें एक चिकित्सक के साथ नर्सिंग एवं पैरामेडीकल स्टाफ नियुक्त होगा।



पहले चरण में चिह्नित स्कूली बच्चों की स्थिति
----------------------------
लड़के 94, 678
लड़कियां 36, 283
----------------------------
इतने स्कूलों में हुआ बच्चों का चिन्हींकरण
प्राईमरी स्कूल 1022
जूनियर हाईस्कूल 884
हाईस्कूल 17
-----------------------------

- द्वितीय चरण में सरकारी सहायता प्राप्त स्कूल, अनौपचारिक शिक्षा के स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों, बाल श्रम विभाग एवं समाज कल्याण केस्कूल, मदरसे, अनाथालय एवं बाल अपराध गृह के बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जाएगा।
- तृतीय चरण में घरों में रहने वाले, स्कूल न जाने वाले, ईट भट्ठे पर काम करने वाले और घूमंतू जाति के बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण कर उपचार से जोड़ा जाएगा, इसमें आंगनबाड़ी कार्यकत्री एवं आशा कार्यकत्री कासहयोग लिया जाएगा।


इनका कहना है
‘14 नवंबर से आर्शीवाद बाल स्वास्थ्य गारंटी योजना के तहत सभी बच्चों को इस योजना का लाभ मिलने लगेगा। शासन के निर्देशानुसार बच्चों को योजना का लाभ दिलाने की सभी तैयारियां पूर्ण की जा रही हैं।’
डा. आरसी निरंजन
मुख्य चिकित्सा अधिकारी, जनपद ललितपुर।



इन अफसरों को भी
सौंपी जिम्मेवारियां
2 से 16 वर्ष के सभी बच्चों को स्वस्थ्य रखने के उद्देश्य से संचालित आर्शीवाद बाल स्वास्थ्य गारंटी योजना के क्रियान्वित होने के बाद गरीब अभिभावकों को बेहद राहत मिलेगी। इस योजना को सही ढंग से क्रियान्वित करने के लिए स्वास्थ्य विभाग के साथ और भी कई सरकारी विभागों के अफसरों की जिम्मेदारियां तय की गई हैं, जिनमें जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, समन्वयक सर्वशिक्षा अभियान, मिड्डे मील, परियोजना निदेशक, आईसीडीएस, पंचायतीराज अधिकारी, जिला विकास अधिकारी, स्कूल एवं कालेजों के प्रधानाचार्य प्रमुख हैं।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

झांसी में हारे हुए प्रत्याशी ने नवनिर्वाचित पार्षद को मारी गोली

झांसी में नवनिर्वाचित निर्दलीय प्रत्याशी अनिल सोनी को गोली मार दी गई। गोली हारने वाले निर्दलिय प्रत्याशी मोहित चौहान ने मारी है। बता दें गोली जीते हुए प्रत्याशी अनिल सोनी के सिर से छूते हुए निकली। फिलहाल अनिल सोनी की हालत स्थिर बनी हुई है।

2 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls