पद सृजित न होने से समस्या से जूझ रहे 165 स्कूल

Lalitpur Updated Thu, 11 Oct 2012 12:00 PM IST
ललितपुर। शासन की स्पष्ट नीति के अभाव में 165 परिषदीय विद्यालय शिक्षकों की कमी से जूझ रहे हैं। स्थिति यह है कि नये स्कूल तो दूर की बात वर्षों पूर्व खोले गए तमाम विद्यालयों में पदों का सृजन नहीं हो सका है, इसके चलते ऐसे स्कूलों में शिक्षकों की तैनाती नहीं हो पा रही है, जिसका खामियाजा अध्ययनरत सैकड़ों बच्चे भुगत रहे हैं। हालांकि बीएसए ने ऐसे स्कूलों के संबंध में उच्च अधिकारियों से मार्गदर्शन मांगा है।
शिक्षा के अधिकार अधिनियम के अंतर्गत तीन सौ की आबादी व एक किलोमीटर के दायरे में प्राथमिक विद्यालय एवं छह सौ की आबादी व तीन किलोमीटर के अंतर्गत जूनियर हाईस्कूल खोले जा रहे हैं। गत वर्ष 132 नए विद्यालय जनपद में खोले गए, इसके अलावा बीते वर्षों में खोले गए 33 विद्यालयों में भी शिक्षकों के पदों का सृजन नहीं हो सका। महत्वपूर्ण बात यह है कि विभाग ने ऐसे स्कूलों में बच्चों का भी दाखिला करा दिया है। लेकिन, शिक्षकों की तैनाती के अभाव में सैकड़ों बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। विशेषकर विकासखंड जखौरा में प्राथमिक विद्यालय रानीकोडर, चीरा, सिद्धपुरा, दुर्जनपुरा, बार में प्राथमिक विद्यालय खैरो डेगना, मुरली उदयपुरा, मुजरा, रामनगर, दीवानपुरा, खैरा डोंगा, टपरियन, तालबेहट में प्राथमिक विद्यालय कंगीरपुरा, दिदौरा, उगरपुर प्रथम, द्वितीय, महरौनी में प्राथमिक विद्यालय बैजनाथ, भूसरा, दिदौली, निवऊआखेरा सौजना, लुहर्रा सौजना, मड़ावरा में बम्हौरीखुर्द, इमिलियाखुर्द, तालपुरा, बरखेरा, बारई, बुदनी नाराहट, दौलतपुरा, बिरधा में मगरपुर, भरर्या, हरपुरा, कछयाहार, सैपुरा खालसा, बमनौरा स्कूल शिक्षकविहीन हैं। बीते वर्षों में नियमों को ताक पर रखकर ऐसे विद्यालयों में कुछ शिक्षकों को तैनात कर दिया गया था। इस वर्ष समायोजन स्थानांतरण के दौरान उन्हें हटा दिया गया है। इसके चलते शिक्षकविहीन विद्यालयों का संचालन गड़बड़ा गया है। इस संबंध में बीएसए विनोद कुमार मिश्रा का कहना है कि जिन विद्यालयों में पद सृजन नहीं है, ऐसे स्कूलों में शिक्षकों की तैनाती के संबंध में मार्गदर्शन मांगा गया है।

Spotlight

Most Read

Dehradun

आरटीओ में गोलमाल, जांच शुरू

आरटीओ में गोलमाल, जांच शुरू

21 जनवरी 2018

Related Videos

झांसी में हारे हुए प्रत्याशी ने नवनिर्वाचित पार्षद को मारी गोली

झांसी में नवनिर्वाचित निर्दलीय प्रत्याशी अनिल सोनी को गोली मार दी गई। गोली हारने वाले निर्दलिय प्रत्याशी मोहित चौहान ने मारी है। बता दें गोली जीते हुए प्रत्याशी अनिल सोनी के सिर से छूते हुए निकली। फिलहाल अनिल सोनी की हालत स्थिर बनी हुई है।

2 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper