20 में से 18 हजार संयोजन एक किलोवाट के

Lalitpur Updated Mon, 24 Sep 2012 12:00 PM IST
ललितपुर। आलीशन घरों में सभी सुख - सुविधाएं होने के बाद भी न्यूनतम लोड (एक किलोवाट) के विद्युत संयोजन विभाग के लिए मुसीबत बन गए हैं। हालातों का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि कुल घरेलू संयोजन 20 हजार में से 18 हजार एक किलोवाट के हैं। ऐसे में विभाग को प्रति माह लाखों के राजस्व की चपत लग रही है।
बिजली की चोरी पर लगाने कसने की कोशिशों में जुटे विभाग के अधिकारी अपने ही अभिलेखों को देखकर हतप्रभ हैं। लगभग सभी घरों में टीवी, फ्रिज, वाशिंग मशीन, इलेक्ट्रिक प्रेस, मिक्सी आदि का इस्तेमाल होता है। इसके बाद भी घरों में एक किलोवाट का संयोजन है, जबकि उक्त उपकरणों का इस्तेमाल करने वाले उपभोक्ता स्वत: ही दो किलोवाट मीटर के दायरे में आ जाते हैं। एक किलोवाट के कनेक्शन पर 01 रुपये 90 पैसे प्रति यूनिट के हिसाब से बिल आता है, जबकि दो किलोवाट का संयोजन होने पर यही बिजली 03 रुपये 45 पैसे प्रति यूनिट में उपभोक्ताओं को मिलती है। सूत्रों की मानें तो विभागीय कर्मियों की मेहरबानी की वजह से ही उपभोक्ताओं को एक किलोवाट के कनेक्शन पर भरपूर बिजली मुहैया कराई जा रही है। विभाग के अफसरों का कहना है कि उपभोक्ताओं को अपने मीटर का अधिभार बढ़वाने की जिम्मेदारी स्वयं उठानी चाहिए।

10 अक्तूबर से चलेगा अभियान
ललितपुर। विद्युत विभाग के अधिशासी अभियंता राजीव अग्रवाल ने बताया कि 10 अक्तूबर से अभियान चलाकर उपभोक्ताओं के मीटर पर अधिभार बढ़ाया जाएगा। उक्त तिथि से सभी घरों में लगे मीटर की जांच होगी। यदि भार अधिक पाया गया तो उपभोक्ता के खिलाफ जुर्माना लगाया जाएगा। साथ ही मीटर पर लोड बढ़ाया जाएगा।


लोड यथावत रखने की मांग
ललितपुर। सिविल लाइन के दर्जन भर उपभोक्ताओं ने विद्युत वितरण खंड के अधिशासी अभियंता को प्रार्थना पत्र देकर विद्युत लोड को यथावत रखने की मांग की है।
उपभोक्ताओं का कहना था कि भार क्षमता कम होने के बाद भी बिल में मनमाने तरीके से दो किलोवाट लोड कर दिया गया है। इसके चलते उपभोक्ताओं को हजारों रुपये के बिल प्राप्त हो रहे हैं। उन्होंने लोड चेक कराने की मांग की है। इस मौके पर आशाराम रैकवार, जालम, सुरेश, मगनलाल साहू, वंशी पंथ, रामचरन, रामलाल, दयाराम, डंपू रैकवार, पुनू, गनेश, कैलाश वाल्मीकि, रामस्वरूप, आदि मौजूद रहे।

मनमाने बिल भेजने का सिलसिला रोका जाए
ललितपुर। बढ़े हुए विद्युत बिल भेजने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस मुद्दे को लेकर बुंदेलखंड विकास सेना ने कंपनी बाग में धरना प्रदर्शन किया। वक्ताओं ने कहा कि मीटर रीडिंग के हिसाब से ही बिल भेजे जाएं।
सेना प्रमुख हरीश कपूर टीटू ने आरोप लगाया कि विभाग बिजली की चोरी रोकने में नाकाम हो रहा है। इस कमी को छिपाने के लिए उपभोक्ताओं के बिल बढ़ाकर भेजे जा रहे हैं। मनमाने तरीके से मीटर की विद्युत भार क्षमता भी बढ़ाई जा रही है। इस वजह से उपभोक्ता परेशान हैं और विद्युत चोरी करने वाले मौज कर रहे हैं। राजमल बरया ने कहा कि नगर के कई इलाकों में लो वोल्टेज की समस्या दूर नहीं की जा रही है और विद्युत भार क्षमता बढ़ाई जा रही है। उन्होंने बिल दुरुस्त करने की मांग की। इस मौके पर कदीर खान, राजकुमार कुशवाहा, के पी राजा, विष्णु पुरोहित, भगवत दयाल वर्मा, खुशाल बरार, गफूर खां, पहाड़ सिंह, प्रसून पुरोहित, बालचंद, दीपक कुशवाहा, जयराम प्रजापति, पुष्पेंद्र, मुन्ना कुशवाहा, शिवराज सिंह राठौर, धर्मेंद्र सिंह, भगत सिंह, जितेंद्र सिंह, भगवत राठौर, संतोष कुशवाहा, छोटे कुशवाहा, रामकिशोर सोनी, राजीव जैन, रमेश मेहरा, भगवत सिंह बुंदेला आदि उपस्थित रहे। संचालन सुदेश सोनी ने किया।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

झांसी में हारे हुए प्रत्याशी ने नवनिर्वाचित पार्षद को मारी गोली

झांसी में नवनिर्वाचित निर्दलीय प्रत्याशी अनिल सोनी को गोली मार दी गई। गोली हारने वाले निर्दलिय प्रत्याशी मोहित चौहान ने मारी है। बता दें गोली जीते हुए प्रत्याशी अनिल सोनी के सिर से छूते हुए निकली। फिलहाल अनिल सोनी की हालत स्थिर बनी हुई है।

2 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls