फसल बर्बाद होने पर लगाया जाम

Lalitpur Updated Thu, 30 Aug 2012 12:00 PM IST
ललितपुर। राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित दयोदय गौशाला के पशुओं ने किसानों की फसलें नष्ट कर दीं, इस बात से आक्रोशित किसानों ने बुधवार की सुबह राजमार्ग पर जाम लगा दिया। फसल के नुकसान के लिए गौशाला प्रबंधन को दोषी ठहराते हुए किसानों ने जमकर नारेबाजी की। इस दौरान गौशाला के कुछ कर्मियों के साथ धक्का-मुक्की भी की गई। मौके पर पहुंचे पुलिस एवं राजस्व कर्मचारियों ने नुकसान का मुआवजा दिलाने का आश्वासन देकर ग्रामीणों को शांत करके मार्ग पर आवागमन सुचारु करा दिया।
मंगलवार रात करीब बारह बजे दयोदय गौशाला के कर्मचारी एक बड़े वाहन में लगभग तीन सौ पशुओं को दूधई के जंगल में चरने के लिए छोड़ने जा रहे थे, लेकिन किन्हीं कारणों की वजह से उक्त कर्मचारी पशुओं को पाली-घटवार मार्ग पर छोड़कर चले गए, जिससे सैकड़ों की संख्या में अन्ना पशु आसपास स्थित ग्राम घटवार, मसौराखुर्द व खड़ेरा स्थित खेतों में घुस गए। देर रात तक इन पशुओं ने खेतों में खड़ी फसल को चरकर नष्ट कर दिया। बुधवार तड़के जब किसानों ने गौशाला के पशुओं को अपनी फसलें बर्बाद करते देखा तो उनका गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया। पशुओं को खेतों से खदेड़ते हुए गौशाला के गेट पर पहुंचकर ग्रामीणों ने गौशाला प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए राजमार्ग पर जाम लगा दिया, जिससे सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतारें लग गईं, वहीं पशुओं को तत्काल गौशाला में ले जाने की मांग करते हुए कुछ ग्रामीणों ने गौशाला के कर्मचारियों के साथ धक्का मुक्की शुरू कर दी। इधर, हालातों की भनक लगने पर अपर पुलिस अधीक्षक दयाराम सरोज, क्षेत्राधिकारी सदर एस के शुक्ल, नायब तहसीलदार अवधेश निगम भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। इस दौरान पुलिस एवं राजस्व अफसरों ने भाकियू जिलाध्यक्ष लाखन सिंह पटेल एवं स्थानीय जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी में ग्रामीणों की समस्या सुनीं। ग्रामीणों ने उन्हें बताया कि गौशाला से छोड़े गए पशुओं ने आसपास स्थित करीब अस्सी एकड़ में खड़ी उड़द की फसल नष्ट कर दी है। इसके पूर्व में भी गौशाला के पशु न सिर्फ उनके खेतों में उजाड़ करते रहते हैं, बल्कि मरे हुए जानवरों को उनके खेतों में फेंका जा रहा है। पुलिस अफसरों ने पशुओं से हुए नुकसान का आंक लन कराकर मुआवजा दिलाने व गौशाला पदाधिकारियों के साथ दोनों पक्षों की बैठक कर समस्याओं का समाधान निकालने का आश्वासन दिया, जिस पर संतुष्ट होकर ग्रामीणों ने जाम खोल दिया।

गौशाला की क्षमता दो हजार पशु चार हजार
ललितपुर। गौशाला के पशुओं द्वारा ग्रामीणों की फसलें उजाड़ने के मामले में सीओ सिटी ने दोपहर बाद कोतवाली सदर में किसानों व गौशाला प्रबंधन के पदाधिकारियों को बुलाकर वार्ता की, जिसमें यह तथ्य उभर कर आया कि गौशाला में पशुओं की आमद क्षमता से काफी अधिक है। इसके बाद भी पशुपालक अपने जानवरों को गौशाला के बाहर छोड़ जाते हैं।
मंगलवार की रात गौशाला के पशुओं को पाली, घटवार मार्ग पर छोड़े जाने के मुद्दे पर अपना पक्ष रखते हुए गौशाला पदाधिकारियों ने बताया कि पशुओं को ले जाने वाले व्यक्ति के परिवार में किसी को जहरीले सांप ने काट लिया था, जिसकी सूचना पाकर वह पशुओं को छोड़कर चला गया, जिससे पशु ग्रामीणों के खेतों में घुस गए। पदाधिकारियों ने बताया कि गौशाला में दो हजार पशुओं को रखने की क्षमता है, लेकिन मौजूदा समय में उसमें करीब चार हजार पशुओं को रखा गया है। जिले भर से पशुपालक अपने जानवरों को गौशाला में रखने के लिए आते हैं। मना करने पर वे गेट के बाहर पशुओं को अन्ना छोड़कर चले जाते हैं, जिससे स्थानीय ग्रामीणों का नुकसान होता है, वहीं घटवार निवासी राजेंद्र दीक्षित ने बताया कि मंगलवार रात खेतों में घुसे जानवरों ने उनकी करीब पांच लाख रुपये की उड़द की फसल का नुकसान किया है, जिस पर क्षेत्राधिकारी सदर ने आश्वासन दिया कि राजस्व कर्मियों से क्षति का आंकलन कराकर उन्हें मुआवजा दिलाया जाएगा, साथ ही अन्ना पशुओं पर अंकुश लगाने के लिए शीघ्र ही ठोस कदम उठाए जाएंगे। क्षेत्राधिकारी ने दोनों पक्षों के बीच लिखित समझौते के लिए ग्राम मसौरा, घटवार व खड़ेरा के ग्राम प्रधान एवं गौशाला समिति की बृहस्पतिवार शाम बैठक बुलाने का प्रस्ताव रखा, जिसे दोनों पक्षों ने स्वीकार कर लिया। इस अवसर पर गौशाला समिति के महामंत्री विनोद कामरा, जैन पंचायत समिति के महामंत्री अनिल जैन अंचल, शीलचंद माताटीला, सतीश नजा तथा दूसरे पक्ष की ओर से भाकियू जिलाध्यक्ष लाखन पटेल, मसौरा पूर्व प्रधान मुलायम सिंह, राजेंद्र दीक्षित आदि मौजूद रहे।

गौशाला में मृत पड़े हैं दर्जनों पशु
ललितपुर। जाम की सूचना मिलने पर गौशाला पहुंचे पुलिस व राजस्व अफसरों ने गौशाला परिसर का मुआयना किया। इस दौरान करीब छह गौवंश एक ट्रैक्टर ट्राली में मृत पड़े थे। एक बछड़ा गौशाला में मृत पड़ा था, जबकि पिछवाड़े अनेक पशु मृत पड़े हुए थे, हालांकि इस संबंध में पदाधिकारियों का कहना है कि गौशाला में जानवरों की देखरेख के लिए चिकि त्सक मौजूद है। हजारों की तादाद में मौजूद जानवरों में दस-बारह की मौत होना कोई बड़ी बात नहीं है।

खेतों में फेंके जा रहे मृत पशु
ललितपुर। स्थानीय ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि गौशाला के पशुओं को उनके खेतों में फैंका जा रहा है, जिसके चलते उनकी खेतीबाड़ी तो प्रभावित होती ही है, साथ ही रोगों के फैलने का खतरा भी बढ़ रहा है। इस संबंध में पदाधिकारियों का कहना है कि मृत जानवरों को उठाने का ठेका जिला पंचायत ने उठाया हुआ है। गौशाला का काम ठेकेदार को मृत जानवरों की सूचना देना होता है। उन्हें मुनासिब स्थान पर फेंकने की जिम्मेदारी ठेकेदारों की है।

चोरी के मुद्दे पर साधी चुप्पी
ललितपुर। कोतवाली सदर में वार्ता के दौरान गौशाला पदाधिकारियों ने आरोप लगाया कि कुछ लोग लंबे समय से सरिया, जाली आदि कीमती सामग्री की चोरी करते आ रहे हैं, जिसकी नामजद सूचना कोतवाली पुलिस को दी गई, लेकिन सब कुछ जानते हुए भी पुलिस ने संबंधित के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। इस मुद्दे पर पुलिस अफसर भी चुप्पी साधे रहे।

दोनों पक्षों पर मुकदमों की तैयारी
ललितपुर। गौशाला के पशुओं से हुए फसलों नुकसान के बाद राष्ट्रीय राजमार्ग पर ग्रामीणों के जाम लगाने के मामले में पुलिस अफसरों ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की तैयारी कर ली है। देर शाम तक विभागीय अफसरों के बीच इस संबंध में मंत्रणा होती रही, जिसकी पुष्टि करते हुए क्षेत्राधिकारी सदर एसके शुक्ल ने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्ग को बाधित करना कानूनी तौर पर अपराध है, लिहाजा संबंधित के विरुद्ध कार्रवाई तय है। उन्होंने यह भी कहा कि फसल के नुकसान से संबंधित तहरीर आने पर दूसरे पक्ष के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली जाएगी।

Spotlight

Most Read

Meerut

राहुल काठा की सुरक्षा में पेशी

राहुल काठा की सुरक्षा में पेशी

23 जनवरी 2018

Related Videos

झांसी में हारे हुए प्रत्याशी ने नवनिर्वाचित पार्षद को मारी गोली

झांसी में नवनिर्वाचित निर्दलीय प्रत्याशी अनिल सोनी को गोली मार दी गई। गोली हारने वाले निर्दलिय प्रत्याशी मोहित चौहान ने मारी है। बता दें गोली जीते हुए प्रत्याशी अनिल सोनी के सिर से छूते हुए निकली। फिलहाल अनिल सोनी की हालत स्थिर बनी हुई है।

2 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper