दो में से एक भी डॉक्टर नहीं आया

Lalitpur Updated Mon, 27 Aug 2012 12:00 PM IST
ललितपुर। अपर निदेशक के निर्देश के बाद भी दो चिकित्सकों में से कोई भी जिला महिला चिकित्सालय नहीं पहुंचा है। ऐसे में जिला महिला चिकित्सालय के हालात सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं।
महिला चिकित्सालय में चिकित्सक समेत अन्य स्टाफ की कमी के कारण महिलाओं को स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है। इस मुद्दे को ‘अमर उजाला’ ने प्रमुखता से उठाया था। अस्पताल के हालातों को ध्यान में रखते हुए अपर निदेशक झांसी ने जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. आर सी निरंजन को पत्र लिखकर सीएचसी महरौनी में पदस्थ डा. पूजा धूपिया एवं पीएचसी जखौरा में तैनात डा. आशुतोष मेले को महिला चिकित्सालय में सप्ताह में तीन दिन सेवाएं दिलाने के निर्देश दिए थे। इसी क्र्रम में सीएमओ ने संबंधित चिकित्सकों को निर्देश जारी कर दिए थे, लेकिन छह बीतने के बाद दो में से एक भी चिकित्सक ने महिला अस्पताल की ओर रुख नहीं किया है। इसी बीच शासन ने महिला अस्पताल की सीएमएस डा. सुमन अस्थाना को अपर निदेशक प्रशिक्षण चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं लखनऊ एवं वरिष्ठ परामर्शदाता डा. प्रभा उपाध्याय को प्रमुख चिकित्सा अधीक्षिका जिला महिला चिकित्सालय आगरा के लिए प्रोन्नत कर दिया। दोनों महत्वपूर्ण अधिकारियों के जाने के बाद अस्पताल के हालात सुधरने के बजाय और बिगड़ने लगे हैं।

एक चिकित्सक चोट लगने की वजह से महिला चिकित्सालय में ड्यूटी करने नहीं आ सके हैं। दूसरे से भी संपर्क साधा गया है। सोमवार से दोनों चिकित्सक सेवाएं देने लगेंगे। ड्यूटी न करने पर उनके खिलाफ वेतन काटने की कार्रवाई की जाएगी।
- डा. आरसी निरंजन, मुख्य चिकित्सा अधिकारी।


अस्पताल में होने लगे सिजेरियन
ललितपुर। 15 अगस्त को प्रकाशित खबर में ‘अमर उजाला’ ने बताया था कि एनेस्थीसिया विशेषज्ञ के अभाव में जिला महिला चिकित्सालय में सिजेरियन ऑपरेशन नहीं हो पा रहे हैं, जिसके चलते आधा सैकड़ा गर्भवती महिलाओं को अस्पताल से लौटाया जा चुका है। इसे संज्ञान में लेते हुए अपर निदेशक झांसी ने सीएमएस को संयुक्त जिला चिकित्सालय से एनेस्थीसिया विशेषज्ञ को ऑन कॉल बुलवाकर सिजेरियन कराने के निर्देश दिए और महिला चिकित्सालय में सिजेरियन होने लगे।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

झांसी में हारे हुए प्रत्याशी ने नवनिर्वाचित पार्षद को मारी गोली

झांसी में नवनिर्वाचित निर्दलीय प्रत्याशी अनिल सोनी को गोली मार दी गई। गोली हारने वाले निर्दलिय प्रत्याशी मोहित चौहान ने मारी है। बता दें गोली जीते हुए प्रत्याशी अनिल सोनी के सिर से छूते हुए निकली। फिलहाल अनिल सोनी की हालत स्थिर बनी हुई है।

2 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls