पुस्तकों की आपूर्ति में हो रही लेटलतीफी

Lalitpur Updated Tue, 14 Aug 2012 12:00 PM IST
ललितपुर। प्रदेश के मुख्यमंत्री प्राथमिक शिक्षा की गुणवत्ता को सुधारने के लिए भले ही संजीदा हों, लेकिन अफसरों की लेटलतीफी इस पर पानी फेर रही है। कक्षा तीन, छह व सात की विभिन्न विषयों की पुस्तकें बच्चों के हाथ अब तक नहीं लग सकी हैं। इन हालातों में विद्यालयों का शैक्षिक वातावरण तैयार नहीं हो पा रहा है।
सर्व शिक्षा अभियान के अंतर्गत परिषदीय विद्यालयों में पढ़ने वाले छात्र छात्राओं को तमाम सुविधाएं मुहैया कराई जा रही हैं, इसमें मुफ्त पुस्तकों का वितरण भी शामिल है। बीते माह स्कूल चलो अभियान के दौरान मुख्यमंत्री अखिलेश सिंह ने गुरूजनों को पाती लिखी थी, इसमें शिक्षा को गुणवत्तापरक बनाने का आग्रह किया गया था। बावजूद इसके जिले में पुस्तकों की आपूर्ति लेटलतीफ हो रही है। कक्षा तीन की संस्कृत पीयूषम 26,451 संख्या में मांग की गई थी, इसमें से एक भी पुस्तक की आपूर्ति नहीं हुई है। इसी तरह कक्षा छह की पृथ्वी और हमारा जीवन 22,819 मांग के मुकाबले निल हैं। इसी कक्षा की पुस्तक हमारा इतिहास और नागरिक जीवन 22,819, कृषि विज्ञान 8002, खेल और स्वास्थ्य 22,819, वर्तिका व रेनवो भी इतनी ही संख्या में आना बाकी है। इसी प्रकार कक्षा सात की पृथ्वी और हमारा जीवन 22,075 पुस्तकें नहीं आ सकी है। इन स्थितियों में बच्चों को अधूरी पुस्तकें ही हासिल हो सकी हैं। यही वजह है कि परिषदीय विद्यालय की शिक्षा का ढर्रा सुधरता नहीं दिख रहा है। जानकारों का कहना है कि आमतौर पर जुलाई माह में बच्चों को पुस्तकें वितरित हो जाना चाहिए। अगर लेटलतीफ तरीके से पुस्तकों की आपूर्ति होती रही तो शैक्षिक माहौल तैयार करना मुश्किल हो जाएगा। इधर, बीएसए विनोद कुमार मिश्रा का कहना है कि संबंधित फर्मों को निर्धारित समय में पुस्तकों की आपूर्ति नहीं करने पर नोटिस दिया गया है।

स्कूलों में कब पहुंचेगी किताबें?
ललितपुर। मुफ्त पुस्तकों की आपूर्ति जिले में होने के पश्चात उनका डिप्टी कलेक्टर से सत्यापन कराया जाता है, तब जाकर विद्यालयों में पुस्तकें भेजी जाती हैं। सोमवार को पांच विषयों की पुस्तकों की आपूर्ति हुई है, अब पुस्तकों का सत्यापन होगा, उसके पश्चात विद्यालय में किताबें भेजी जाएगी। इस तरह यह महीना भी फर्मों की लेटलतीफी के भेंट चढ़ना तय माना जा रहा है।

पांच विषयों की पुस्तकों की हुई आपूर्ति
ललितपुर। सोमवार को लंबे अंतराल के बाद पांच विषयों की पुस्तकों की आपूर्ति हुई। आदर्श विद्यालय स्थित भंडार में इन पुस्तकों को रखवाया गया। जिस परिसर में पुस्तकों को उतारा जा रहा था, वहां कीचड़ होने के बाद भी मजदूरों ने पुस्तकों के बंडल नीचे रख दिए। इसके पश्चात उस पर पटिया रख ट्रक से पुस्तकें उतारी। इसके बाद भी विभागीय कर्मियों ने उनसे कुछ नहीं कहा।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

झांसी में हारे हुए प्रत्याशी ने नवनिर्वाचित पार्षद को मारी गोली

झांसी में नवनिर्वाचित निर्दलीय प्रत्याशी अनिल सोनी को गोली मार दी गई। गोली हारने वाले निर्दलिय प्रत्याशी मोहित चौहान ने मारी है। बता दें गोली जीते हुए प्रत्याशी अनिल सोनी के सिर से छूते हुए निकली। फिलहाल अनिल सोनी की हालत स्थिर बनी हुई है।

2 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls