हरियाणा के गिरोह को पकड़ने में पुलिस नाकामयाब

Lalitpur Updated Thu, 09 Aug 2012 12:00 PM IST
ललितपुर। देश के छह प्रांतों में एटीएम कार्ड बदलकर खातों से जमा रकम उड़ाने वाले हाईटेक गिरोह को पकड़ने में पुलिस नाकाम है। बदमाशों की धरपकड़ के लिए हरियाणा भेजी गई पुलिस टीम वापस लौट आई, जिससे धन वापसी की उम्मीद लगाए लोगों में निराशा है।
जिले में लंबे समय से सक्रिय गिरोह एटीएम कार्ड बदलकर एक दर्जन लोगों के खातों से रकम उड़ा चुका था। संयोग से 23 जुलाई को कस्बा बांसी में एटीएम कार्ड बदलने के बाद एक बदमाश पुलिस के हत्थे चढ़ गया था। पूछताछ में आरोपी हरियाणा के जिला कैथल के सीवन थाना क्षेत्र के खेड़ी निवासी राजू ने खुलासा किया था कि उसने साथियों के साथ ललितपुर के अलावा लखनऊ, गाजीपुर, कानपुर, वाराणसी, सहारनपुर, उरई समेत मध्य प्रदेश, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान और महाराष्ट्र के कई शहरों में वारदातों को अंजाम दिया है। उसके कब्जे से बीस एटीएम कार्ड भी बरामद किए गए थे। उसने वारदातों में शामिल जिला हिसार के खेड़ी हांसी के पास निवासी सैनी, हांसी निवासी दर्शन, खंडा निवासी संजय और कापड़ो निवासी कुलदीप के नाम उजागर किए थे। गिरोह का खुलासा होने से रकम गवां चुके लोगों को उम्मीद बंधी थी कि उसकी जमा पूंजी वापस मिल जाएगी। इसी क्रम में बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम हरियाणा भी गई थी, लेकिन बैरंग लौट आई। अब भुक्तभोगियों की निगाहें नवागंतुक पुलिस अधीक्षक जितेंद्र प्रताप सिंह की कार्रवाई पर टिक गई हैं।

असरदार है सांपी जनजाति
ललितपुर। एटीएम कार्ड बदल कर खातों से रुपये उड़ाने वाले गिरोह के सदस्य सांपी जनजाति से ताल्लुक रखते हैं, जो हरियाणा में काफी असरदार मानी जाति है। तत्कालीन पुलिस अधीक्षक अरुण कुमार सिंह ने बांसी चौकी इंचार्ज अचल सिंह, उपनिरीक्षक विनय कुमार चतुर्वेदी एवं दैलवारा चौकी इंचार्ज तारिक खान के नेतृत्व में गठित टीमें हरियाणा भेजी थीं। सूत्रों के मुताबिक आरोपियों तक पहुुंचने के बावजूद जिले की पुलिस उनके गिरेबां में हाथ डालने में नाकामयाब रही। पुलिस महकमे में हरियाणा पुलिस द्वारा सहयोग न करने की भी चरचाएं हैं।

Spotlight

Most Read

Mahoba

मंडल में जीएसटी की कम वसूली देख अधिकारियों के कसे पेंच

कर चोरी पर अब होगी सख्त कार्रवाई-

19 जनवरी 2018

Related Videos

झांसी में हारे हुए प्रत्याशी ने नवनिर्वाचित पार्षद को मारी गोली

झांसी में नवनिर्वाचित निर्दलीय प्रत्याशी अनिल सोनी को गोली मार दी गई। गोली हारने वाले निर्दलिय प्रत्याशी मोहित चौहान ने मारी है। बता दें गोली जीते हुए प्रत्याशी अनिल सोनी के सिर से छूते हुए निकली। फिलहाल अनिल सोनी की हालत स्थिर बनी हुई है।

2 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper