कोर्ट के आदेश पर हत्या, दहेज व अपहरण के चार मुकदमें

Lalitpur Updated Sun, 29 Jul 2012 12:00 PM IST
ललितपुर। जनपद के अधिकांश थानों पर रिपोर्ट दर्ज नहीं होने से फरियादियों को न्यायालय की शरण लेनी पड़ रही है। मारपीट के साधारण मामलों की बात तो छोड़िए, संगीन मामलों में भी पुलिस का रवैया उदासीन रहता है। विभिन्न क्षेत्रों में घटित हत्या, दहेज हत्या, अपहरण एवं छेड़छाड़ के चार मामलों में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने संबंधित क्षेत्र के थानाध्यक्षों को एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए हैं।

केस नंबर 01
दिनांक - 10 मई 2012
थाना - कोतवाली तालबेहट
घटना- हत्या कर शव पेड़ पर लटकाने का आरोप
ललितपुर। तालबेहट क्षेत्र अंतर्गत ग्राम चीमना हर्षपुरा निवासी प्रयाग सिंह ठाकुर ने न्यायालय में प्रार्थना पत्र देकर बताया कि एक वर्ष पूर्व उसके भाई रतन व राजेंद्र को गांव के चार लोगों ने मारपीट कर मरणासन्न कर दिया था, जिसकी रिपोर्ट दर्ज होने के बाद आरोपियों के खिलाफ न्यायालय में चार्जशीट प्रस्तुत की गई है। विपक्षी उस मामले में राजीनामा न करने पर जान से मारने की धमकी दे रहे थे। दस मई को उक्त लोग उसके घर आए तथा उसके भाई राजेंद्र सिंह को अपने साथ लिवा ले गए। देर रात तक उसका भाई घर नहीं लौटा तो उसने तलाश की। इस दौरान आरोपी भी अपने घरों में नहीं मिले। बाद में राजेंद्र सिंह का शव बांसी - मनपुरा तिराहे के बीच चिरौल के पेड़ से लटका पाया गया। प्रयाग सिंह ने बताया कि उसने विपक्षियों के खिलाफ राजेंद्र सिंह की हत्या कर शव पेड़ पर लटकाने के आरोप में पुलिस को सूचना दी, लेकिन तालबेहट पुलिस ने मामले की रिपोर्ट नहीं लिखी।
--

केस नंबर 02
दिनांक - 15 मई 2012
थाना - कोतवाली ललितपुर
घटना- दहेज की खातिर बहू की हत्या का आरोप
ललितपुर। जिला अशोकनगर थाना चंदेरी अंतर्गत ग्राम ललोई निवासी रमेश रैकवार ने न्यायालय में प्रार्थना पत्र देकर बताया कि उसने अपनी पुत्री पार्वती का विवाह राजघाट निवासी धनीराम के साथ चार वर्ष पूर्व किया था। विवाह के बाद पुत्री केससुरालीजन दहेज के रूप में पचास हजार रुपये व एक मोटरसाइकिल की मांग कर रहे थे। न देने पर उसकी पुत्री को प्रताड़ित किया जा रहा था। उत्पीड़न के कारण उसकी पुत्री मानसिक रूप से परेशान रहने लगी थी। इस कारण उसने अपनी पुत्री का उपचार कराया, लेकि न बाद में ससुरालीजन पंचायत में पुत्री को परेशान न करने की बात कहकर अपने साथ लिवा ले गए। पंद्रह मई को उसे पता चला कि ससुराल वालों ने उसकी पुत्री को जहर खिलाकर मार डाला है। उसने इस संबंध में चौकी राजघाट पुलिस को प्रार्थना पत्र दिया, लेकिन वहां उसकी रिपोर्ट नहीं लिखी गई।
--

केस नंबर 03
दिनांक - 28 दिसंबर 2011
थाना - कोतवाली ललितपुर
घटना- महिला का अपहरण कर हत्या की आशंका
ललितपुर। कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत ग्राम गनगौरा निवासी रूप सिंह लोधी ने न्यायालय में प्रार्थना पत्र देकर बताया कि गांव के कुछ लोगों का उसके घर आना जाना है, उसी व्यक्ति के साथ ग्राम बम्हौरीसहना निवासी उसका भांजा भी उसके यहां आने लगा। इस दौरान उसे संदेह हुआ कि ग्रामीण का भांजा उसकी पत्नी पर बुरी नजर रखता है, जिससे उसे घर आने से मना कर दिया। अट्ठाइस दिसंबर 2011 को छह सात आरोपियों ने एक महिला की मदद से उसकी पत्नी को नरेगा के जॉब कार्ड पर हस्ताक्षर कराने के बहाने गांव के एक अन्य व्यक्ति के घर बुलाया। इसके बाद उसकी पत्नी वापस नहीं लौटी। तलाश के दौरान पता चला कि आरोपी उसकी पत्नी को महिंद्रा जीप से बार की ओर ले गए हैं। दो माह बाद आरोपियों ने उसे धमकाते हुए बताया कि उन्होंने उसकी पत्नी को पचास हजार रुपये में दिल्ली में बेच दिया है। रुप सिंह ने बताया कि पत्नी के अपहरण व हत्या की आशंका जताते हुए उसने पुलिस को तहरीर दी, लेकिन उसकी रिपोर्ट नहीं लिखी गई।
--


केस नंबर 04
दिनांक - 25 मई 2012
थाना - कोतवाली ललितपुर
घटना- छेड़खानी व अमानत में खयानत का आरोप
ललितपुर। कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत ग्राम फौजपुरा बुढ़वार निवासी पीड़िता ने न्यायालय में प्रार्थना पत्र देकर बताया कि उसके पति के नाम फौजपुरा बुढ़वार में कृषि भूमि का पट्टा है, जिस पर उसका पति खेतीबाड़ी करता है। पति के बीमार होने की वजह से उसने गांव के पांच लोगों को अपनी भूमि बटिया पर दे दी। पचास बोरा चना उत्पादन होने पर उक्त लोगों ने उसे कुछ बताए बगैर उपज को नवीन गल्ला मंडी में बेच दी। उलाहना देने पर आरोपी उसे टरकाने लगे। पच्चीस मई की सुबह आठ बजे आरोपी लाइसेंसी बंदूक लेकर उसके घर आ धमके और उसे सबक सिखाने की बात कहकर छेड़खानी करने लगे। उसकी पुकार सुनकर पति ने आकर बीच बचाव किया। इसके बाद आरोपी जान से मारने की धमकी देते हुए चले गए। कोतवाली में शिकायत करने पर उसकी रिपोर्ट नहीं लिखी गई।

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

फुल ड्रेस रिहर्सल आज, यातायात में होगी दिक्कत, कई जगह मिल सकता है जाम

सुबह 10:30 से दोपहर 12 बजे तक ट्रेनों का संचालन नहीं किया जाएगा। कई ट्रेनें मार्ग में रोककर चलाई जाएंगी तो कई आंशिक रूप से निरस्त रहेंगी।

23 जनवरी 2018

Related Videos

झांसी में हारे हुए प्रत्याशी ने नवनिर्वाचित पार्षद को मारी गोली

झांसी में नवनिर्वाचित निर्दलीय प्रत्याशी अनिल सोनी को गोली मार दी गई। गोली हारने वाले निर्दलिय प्रत्याशी मोहित चौहान ने मारी है। बता दें गोली जीते हुए प्रत्याशी अनिल सोनी के सिर से छूते हुए निकली। फिलहाल अनिल सोनी की हालत स्थिर बनी हुई है।

2 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper