यहां बेटियां गढ़ रहीं नए आयाम

Lakhimpur Updated Fri, 28 Dec 2012 05:30 AM IST
कस्तूरबा गंाधी विद्यालय की बना रहीं पहचान
पढ़ाई के साथ दुनियादारी सीखने में हुईं आगे
बिजुआ (लखीमपुर खीरी)। महज तीन साल पहले की बात है, बस्तौली गांव की फरजाना को कक्षा पंाच पास करने के बाद घर पर रहने का फरमान सुना दिया गया था। स्कूल का बस्ता टांगकर उसे चूल्हा फूंकने और छोटे भाई को स्कूल के लिए तैयार करने की जिम्मेदारी मिली थी। इस दरम्यान उसके दिल में जल रही तालीम की लौ धीरे-धीरे कम होने लगी, तभी बॉ स्कूल ने उसका कापी किताबों से रिश्ता फिर से जोड़ दिया, उसे फिर से स्कूल में पढ़ने का मौका मिला। अब यहां फरजाना की अलग पहचान बन गई है, खून की जांच कर महज एक मिनट में ही फरजाना लोगों का ब्लड ग्रुप बता देती है।
अपनी इसी प्रतिभा की बदौलत फरजाना को नवंबर में लखनऊ मंडल की हुई बाल विज्ञान प्रतियोगिता में वर्कि ंग मॉडल वर्ग में पहला स्थान मिला था और आगरा में राज्यस्तरीय प्रतियोगिता में शामिल होने का मौका भी।
सीएचसी से मेडिकल टीम छात्राओं के सेहत व खून की जांच करने आई थी। ब्लड ग्रुप की जांच कर रहे लैब टैक्नीशियन दिनेश कुमार का सहयोग कर रही फरजाना एक मिनट में ही खून के वर्ग को बता रही थीं। मौके पर मौजूद पत्रकारों और अध्यापकों ने भी अपने खून की जांच कराकर फरजाना के हुनर को परखा।
000000
अन्य छात्राओं में भी प्रतिभाएं
बॉ स्कूल में पढ़ने वाली छात्राओं में शिक्षा के साथ हुनर भी पैदा हुआ है। जंगलीनाथ गांव की नेहा सिंह सिलाई-कढ़ाई में माहिर हो गई हैं, पेंटिंग मे कक्षा सात की सरिता का कोई सानी नही तो बिजुआ की उज्मा बानो ड्राइंग में माहिर है। रुकसाना प्रत्येक विषय में पढ़ने में तेज है, और अंग्रेजी में तो विशेष रुचि है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में ‘एनकाउंटर अभियान’ के तहत एक लाख का इनामी ढेर

यूपी एसटीएफ ने एक कार्रवाई के तहत इनामी बदमाश बग्गा सिंह को ढेर किया। जानकारी के मुताबिक एसटीएफ ने कार्रवाई लखीमपुर-खीरी के पास नेपाल बॉर्डर पर की है। बात दें कि बग्गा सिंह कई मामलों में वांछित था और इसके सिर पर एक लाख रुपये का इनाम था।

18 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls