पूर्व प्रधान समेत आठ नामजद

Lakhimpur Updated Sun, 30 Sep 2012 12:00 PM IST
प्रधान के पति की हत्या का मामला
हत्या आरोपी पुलिस की पकड़ से बाहर
गांव में खड़ंजा लगवाने के बाद बढ़ा था विवाद
मैगलगंज। थाना क्षेत्र के ग्राम देवीबोझी में प्रधान के पति की हत्या के मामले में मृतक के बड़े भाई की तहरीर पर पुलिस ने पूर्व प्रधान समेत आठ लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। हालांकि दूसरे दिन भी हत्यारोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो सकी। वहीं घटना के बाद से गांव में दहशत और तनाव का माहौल है।
ग्राम पंचायत कुकरगोती की सीट आरक्षित होने के चलते पूर्व प्रधान महेंद्र सिंह यादव ने अपने मित्र ओमकार की पत्नी ओमवती को चुनाव लड़वाया था। इसके बाद ओमवती के निर्वाचित होने पर करीब दो सालों तक महेंद्र सिंह यादव ने अपने हाथों में प्रधानी की कमान रखी। पिछले कुछ समय से ओमकार ने प्रधानी की कमान अपने हाथों में संभाल ली थी, जिससे पूर्व प्रधान महेंद्र सिंह यादव रंजिश मानने लगा था। इस बीच मौका ताड़ते हुए पूर्व प्रधान ने मौजूदा प्रधान के खिलाफ धन के दुरुपयोग की शिकायत उच्चाधिकारियों से की थी, जिसकी जांच के आदेश अधिकारियों ने दिए थे और इस मामले में स्थलीय जांच एक अक्तूबर को होनी है। लिहाजा ओमकार गांव के अधूरे कामों को पूरा करने में जुट गए। आरोप है कि मजरा देवीबोझी में खडंजा निर्माण कार्य शुरू कराने पर पूर्व प्रधान ने अड़ंगा लगाया, जिसका मामला मैगलगंज थाने तक पहुंचा। हालांकि पुलिस ने इसे गंभीरता से नहीं लिया। नतीजतन विपक्षियों के हौसले बुलंद हो गए। शुक्रवार की देरशाम ईंट भट्ठे से प्रधान के पति ओमकार के साथ उसके साथी महेंद्र सिंह उर्फ गुड्डू यादव और वेदप्रकाश बाइक से घर लौट रहे थे। रास्ते में घात लगाकर बैठे सशस्त्र हमलावरों ने फायरिंग शुरू कर दी, जिसमें प्रधान के पति ओमकार की मौके पर ही मौत हो गई थी। वहीं वेदप्रकाश बचकर भागने में सफल रहा, जबकि महेंद्र सिंह उर्फ गुड्डू यादव गोली लगने से घायल हो गया, जिसे इलाज के लिए लखनऊ रेफर किया गया है।
मृतक के चाचा अवधेश कुमार का आरोप है कि पूर्व प्रधान ने करीब साढे़ चार लाख का गबन कर लिया था, जिसके बाद प्रधान को फंसाने की नियत से शिकायत उच्चाधिकारियों से कर दी थी। मृतक ओमकार के परिवार में तीन बेटी, एक बेटा और पत्नी हैं।
00000
इन हत्यारोपियों के खिलाफ दर्ज हुई रिपोर्ट
मृतक के बड़े भाई रामनरेश निवासी कुकरगोती की तहरीर पर पुलिस ने अभियुक्त पूर्व प्रधान महेंद्र सिंह यादव, संग्राम सिंह यादव व राममिलन निवासी देवीबोझी, विनोद कुमार, गुड्डन, लालाराम निवासी कुकरगोती, कालीचरन निवासी जहाननगर और विजय पाल निवासी मूड़ा बसही के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में ‘एनकाउंटर अभियान’ के तहत एक लाख का इनामी ढेर

यूपी एसटीएफ ने एक कार्रवाई के तहत इनामी बदमाश बग्गा सिंह को ढेर किया। जानकारी के मुताबिक एसटीएफ ने कार्रवाई लखीमपुर-खीरी के पास नेपाल बॉर्डर पर की है। बात दें कि बग्गा सिंह कई मामलों में वांछित था और इसके सिर पर एक लाख रुपये का इनाम था।

18 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls