विज्ञापन
विज्ञापन

कई ग्रामों में भरा पानी

Lakhimpur Updated Wed, 29 Aug 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
हजारों हेक्टेयर फसलें जलमग्न
विज्ञापन
विज्ञापन
पलियाकलां। क्षेत्र के करीब डेढ़ दर्जन ग्रामों में तबाही मचा रही सुहेली नदी पर बने सुहेली बैराज के सभी फाटक पूरे खुले न होने से जहां दुधवा नेशनल पार्क के एक बड़े भाग में पानी भर गया है, वहीं हजारों किसानों की कड़ी मेहनत से तैयार फसलें जलमग्न होकर नष्ट हो रहीं हैं।
दुधवा नेशनल पार्क की लाइफ लाइन कही जाने वाली, नेपाल से बहकर आई सुहेली नदी ने इस समय क्षेत्र के ग्राम बेला, तिलोकपुर, कोठिया, गुलरा, भगवंत नगर, बंसतापुरकलां, बुद्धापुरवा, फरसहिया, मकनपुर, बंशीनगर, चंबरबोझ, बेलहइया, देवीपुर, घोला, गजरौरा, फुलवरिया आदि ग्रामों की हजारों हेक्टेयर फसलें जलमग्न कर दी हैं।
क्षेत्र के ग्राम तिलोकपुर के प्रमुख कृषक डॉ. बेनी सिंह, बंशीनगर के ज्ञानी हरदीप सिंह, बेला के रामचंद्र, मझगईं के रमाशंकर पांडेय, बसंतापुर कलां के मैकूलाल, मकनपुर की सविता तिवारी, देवीपुर के हरविंदर सिंह सहित अनेक किसानों के कहने पर जब सुहेली बैराज को जाकर देखा तो उसके सभी ग्यारह गेट मात्र आंशिक रूप से खुले थे और नदी का बड़ी मात्रा में पानी दुधवा पार्क में घुस रहा था।
000000
पूर्व विधायक ने व्यक्त की नाराजगी
पूर्व विधायक निरवेंद्र कुमार मुन्ना एवं पूर्व जिला पंचायत सदस्य लीला देवी, सामाजिक कार्यकर्ता सविता तिवारी, प्रमुख कृषक डॉ. बेनी सिंह ने इस संदर्भ में कहा कि यदि प्रशासन और सिंचाई विभाग के अधिकारी क्षेत्र के किसानाें की इस ज्वलंत समस्या पर ध्यान नहीं देते हैं तो वे आंदोलन करने को मजबूर होंगे।
000000
शारदा सहायक सिंचाई परियोजना उप्र के चीफ इंजीनियर एचके शर्मा ने फोन पर बताया कि उन्हें इसकी जानकारी नहीं है। यदि ऐसा है तो वे अधिशासी अभियंता से पूछेंगे। उधर, अधिशासी अभियंता शारदा नगर, अर्जुन यादव से फोन पर जानकारी चाही गई तो बात न हो सकी।
0000
घटने लगा शारदा का जलस्तर
पलियाकलां। शारदा नदी का बढ़ रहा जलस्तर घटने लगा है। मंगलवार को नदी खतरे के निशान से महज सात सेंटीमीटर ऊपर रह गई थी। मंगलवार को नदी का जलस्तर 153.690 मापा गया। सोमवार को नदी खतरे के निशान से करीब 17 सेंटीमीटर ऊपर बह रही थी। अब जलस्तर घटने से नदी केे समीपवर्ती गांवों के लोगों ने राहत महसूस की है लेकिन जलस्तर की गिरावट के साथ कटान शुरू हो गया है। दौलतापुर हाल्ट, कटैला बाबा देवस्थान और जंगल नंबर सात में कटान हो रहा हैै। हालांकि उसकी गति धीमी है और कटान शुरू होने से लोगों में थोड़ा डर बैठ गया है। कटान की गति तेज हुई तो क्षेत्र के लिए यह खतरनाक साबित हो सकता है। इधर, खेतों में भरा बाढ़ का पानी काफी कम हो गया है।
00000
एक दिन में 10 बीघा जमीन लील रही है नदी
लगदाहन में भी कटान जारी है और नदी एक दिन में यहां करीब दस बीघा जमीन निगल चुकी है। लगदाहन में कटान को रोकने के लिए प्रशासन अभी कोई कदम नहीं उठा पाया है। तमाम ग्रामीण भूमिहीन हो चुके हैं और तमाम कगार पर हैं।
0000
मोटेबाबा गांव के पांच और घर घाघरा में समाए
धौरहरा। तहसील क्षेत्र के ग्राम मोटेबाबा में घाघरा का कटान जारी है। यहां कटान के चलते ग्राम निवासी राजेंद्र, शत्रोहन, रामनिवास, अवधेश, अवधराम के घर भी घाघरा में समा गए। कटान रोकने को यहां प्रशासन ने अब तक कोई इंतजाम नहीं किए हैं।

Recommended

UP Board Class 10th & 12th 2019 की परीक्षाओं का सबसे तेज परिणाम देखने के लिए रजिस्टर करें।
UP Board 2019

UP Board Class 10th & 12th 2019 की परीक्षाओं का सबसे तेज परिणाम देखने के लिए रजिस्टर करें।

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान
ज्योतिष समाधान

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
लोकसभा चुनाव - किस सीट पर बदले समीकरण, कहां है दल बदल की सुगबुगाहट, राहुल गाँधी से लेकर नरेंद्र मोदी तक रैलियों का रेला, बयानों की बाढ़, मुद्दों की पड़ताल, लोकसभा चुनाव 2019 से जुड़े हर लाइव अपडेट के लिए पड़ते रहे अमर उजाला चुनाव समाचार।
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Bareilly

इलाहाबाद, आगरा सहित कई रूट पर उड़ने को रहें तैयार

इलाहाबाद, आगरा सहित कई रूट पर उड़ने को रहें तैयार

19 अप्रैल 2019

विज्ञापन

बुलंदशहर से भाजपा प्रत्याशी भोला सिंह पर चुनाव आयोग सख्त, नोटिस जारी करके मांगा जवाब

बुलंदशहर से भाजपा प्रत्याशी डॉ भोला सिंह को बूथ के अंदर जाकर वोट मांगना भारी पड़ गया। भाजपा प्रत्याशी के बूथ के अंदर जाकर वोट मांगने के कुछ वीडियो वायरल हो रहे थे। जिसके बाद उन्हे नोटिस जारी करके जवाब मांगा गया है।

18 अप्रैल 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election