जिले में बुरी तरह घट रहा कांग्रेस का जनाधार!

Lakhimpur Updated Wed, 11 Jul 2012 12:00 PM IST
लखीमपुर खीरी। निकाय चुनाव में इस बार सबसे खराब प्रदर्शन कांग्रेस का रहा। पार्टी सिंबल पर छह स्थानों पर चुनाव लड़ाने के बावजूद लगभग हर जगह पार्टी के प्रत्याशी को शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा। यह हाल तब हुआ जब जफर अली नकवी तथा जितिन प्रसाद सरीखे वरिष्ठ नेता जिले की खीरी व धौरहरा लोक सभा सीट से सांसद हैं। पार्टी प्रत्याशियों के इस कमजोर प्रदर्शन को राजनीतिक समीक्षक इसे जिले में कांग्रेस के घटते ग्राफ के रूप में देख रहे हैं।
निकाय चुनाव में जिन दो प्रमुख राजनीतिक दलों ने पार्टी सिंबल पर अपने उम्मीदवार चुनाव मैदान में उतारे थे, उनमें कांग्रेस भी एक है। जिले की चार नगर पालिका परिषदों तथा छह नगर पंचायतों में से तीन नगर पालिका परिषदों तथा तीन नगर पंचायतों में ही पार्टी ने सिंबल पर अध्यक्ष पद के प्रत्याशी उतारे थे। इनमें लखीमपुर नपाप सीट से पार्टी ने महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष एवं पीसीसी सदस्य तृप्ति अवस्थी को चुनाव मैदान में उतारा था। खीरी सांसद जफर अली नकवी ने भी तृप्ति अवस्थी के लिए शहर की गलियों-गलियों में घूम कर वोट मांगे, लेकिन मतगणना के दिन वोटों का पिटारा खुला तो तृप्ति अवस्थी को मिले मतों की संख्या 1546 निकली। जबकि निर्दलीय उम्मीदवार ज्ञान प्रकाश बाजपेई, शुएब अहमद, उमा कटियार, उमाशंकर मिश्रा इनसे कहीं वोट पाने में कामयाब रहे।
कांग्रेस की सबसे अधिक खराब स्थिति केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद के निवार्चन क्षेत्र धौरहरा में रही। पार्टी ने यहां अलीम किरमानी को चुनाव मैदान में उतारा था, लेकिन वहां चुनाव मैदान में डटे सभी दस उम्मीदवारों में से सबसे कम मात्र 77 वोट ही उन्हें मिल सके। पलिया नगर पालिका परिषद अध्यक्ष पद के लिए पार्टी ने राधेश्याम गुप्ता को अपना प्रत्याशी बनाया था। उन्हें भी मात्र 423 वोट ही मिल सके। इसी तरह सिंगाही में ऊषा तिवारी पार्टी सिंबल पर चुनाव लड़ीं थीं। उन्हें भी मात्र 180 वोट मिल सके। उपरोक्त सभी स्थानों पर न सिर्फ कांग्रेस का प्रदर्शन काफी कमजोर रहा बल्कि उसके प्रत्याशी पांचवें स्थान तक पर नहीं टिक सके। मैलानी में कांग्रेस उम्मीदवार अमित कश्यप की करारी हार हुई, लेकिन वह 672 मत प्राप्त कर तीसरे स्थान पर रहने में कामयाबी जरूर हासिल कर ली। विधान सभा व निकाय चुनाव के बाद लगभग सभी राजनीतिक दलों की निगाहें अब 2014 को होने वाले लोक सभा चुनाव पर हैं। ऐसे में कांग्रेस उम्मीदवारों के इस प्रदर्शन को लोग जिले में कांग्रेस के घटते जनाधार के रूप में देख रहे हैं। यही नहीं खुद कांग्रेसी ही इस प्रदर्शन से खासे हैरान हैं।

-बाक्स
उम्मीदवारों की बैठक बुला खोजेंगे कारण
निकाय चुनाव में पार्टी को जो उम्मीद थी, परिणाम उसके विपरीत आया। पार्टी इस प्रदर्शन को गंभीरता से ले रही है। शीघ्र ही निकाय चुनाव के प्रत्याशियों तथा पार्टी पदाधिकारियों की बैठक बुलाकर इस पर चर्चा की जाएगी। जहां भी कमी पाई जाएगी उसे दूर करते हुए नई ऊर्जा के साथ कार्यकर्ताओं से मिशन 2014 के लिए डटने को कहा जाएगा।
प्रेम शंकर अग्रवाल, जिलाध्यक्ष

Spotlight

Most Read

Lucknow

21 साल का साहिल बना पीजीआई थाने का एसओ, टोपी न पहने सिपाहियों की लगाई क्लास

राजधानी के पीजीआई थाने का नजारा शुक्रवार को दो घंटे के लिए बदल गया। शिकायत लिए आए लोग सामने बैठे 21 साल के एसओ को देखकर कुछ देर के लिए ठिठक गए।

19 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में ‘एनकाउंटर अभियान’ के तहत एक लाख का इनामी ढेर

यूपी एसटीएफ ने एक कार्रवाई के तहत इनामी बदमाश बग्गा सिंह को ढेर किया। जानकारी के मुताबिक एसटीएफ ने कार्रवाई लखीमपुर-खीरी के पास नेपाल बॉर्डर पर की है। बात दें कि बग्गा सिंह कई मामलों में वांछित था और इसके सिर पर एक लाख रुपये का इनाम था।

18 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper